बैंक में खाता कैसे खोले (11 स्टेप्स ) में – Bank Me Khata Kaise Khole

आज के समय में अगर आपपैसे कमाते हो तो आपको अपने पैसे को सुरक्षित रखना काफी ज्यादा जरूरी है और पैसे आप कभी सुरक्षित रख सकते हो जब आपके पास बैंक खाता होगा। अगर आपके पास बैंक खाता नहीं है और आप जानना चाहते हो कि Bank Me Khata Kaise Khole तो आज का हमारा यह महत्वपूर्ण लेख आप लोगों के लिए काफी ज्यादा उपयोगी साबित होने वाला है।

Table Of Contents
  1. बैंक खाता किसे कहते है
  2. बैंक खाते के प्रकार
  3. बैंक खाता खोलने के लिए जरूरी दस्तावेज
  4. बैंक खाता कैसे खोलें 
  5. ऑफलाइन बैंक में खाता कैसे खोलें
  6. भारत के टॉप 5 बैंक का नाम
  7. बैंक में खाता खोलने के लाभ
  8. बैंक के बारे में पूछे जाने वाले प्रश्न

जब हम सुरक्षित रखते है तब यह पैसे हमारे कठिन समय में या फिर ऐसे समय में काम आ जाते है जब हमें पैसे की काफी ज्यादा जरूरत होती है और इसीलिए आपको अपना बैंक खाता खोलना और उसमें पैसे रखना काफी ज्यादा जरूरी है। यदि आप बैंक में खाता कैसे खोलें? के बारे में कंप्लीट जानकारी चाहते हो। 

तो आप हमारे आज के इस महत्वपूर्ण लेख को शुरुआत से लेकर अंतिम तक ध्यानपूर्वक पढ़ें और एक भी जानकारी मिस ना करें नहीं तो आपको बैंक में खाता खोलने से संबंधित हमारी यह जानकारी समझ में नहीं आएगी और आप ना ही ऑनलाइन या फिर ऑफलाइन बैंक में खाता खोलने के प्रोसेस को समझ पाओगे।

बैंक खाता किसे कहते है

बैंक या अन्य वित्तीय संस्थाएँ अपने ग्राहकों के लेन-देन का विस्तृत विवरण एवं वितरण की सेवाएं देती है, जिसे बैंक खाता (बैंक एकाउन्ट) के नाम से जाना जाता है। बैंक खाते कई प्रकार के हो सकते है जिसमें से बचत खाता, क्रेडिट कार्ड खाता, चालू खाता आदि प्रमुख हैं।

अगर आपको अभी भी समझ में नहीं आया क्या बैंक खाता या फिर अकाउंट किसे कहते है? तो हम आपको बता दें कि बैंक एक प्रकार के ऐसी चीज की है सरकारी या प्राइवेट संस्था होती है जहां पर खाताधारकों को अपने पैसे को सुरक्षित रखने और लेनदेन करने की सारी सुविधाएं प्रदान की जाती है। 

उदाहरण के तौर पर अगर आप थोड़े पैसे कहीं पर भी कमाते हो तो उस पैसे को आप घर में सुरक्षित ना रखकर चीजें अपना किसी बैंक में खाता खुलवा कर अपने पैसे को सुरक्षित रख सकते हो और साथ ही साथ सभी बैंकिंग सुविधाओं का लाभ उठा सकते हो।

बैंक खाते के प्रकार

बैंक के ग्राहकों को सभी बैंकों के द्वारा अलग-अलग प्रकार के बैंक खाता खोलने की सुविधा प्रदान की जाती है इसमें बचत खाता, क्रेडिट कार्ड खाता और चालू खाता शामिल है। आप जितने भी खाते के प्रकार मौजूद है उनमें से अपने सुविधा अनुसार किसी भी प्रकार के बैंक खाते में अकाउंट ओपन कर सकते हो।

चलिए अब हम आप सभी लोगों को आगे बैंक खाते के अलग-अलग प्रकार के बारे में विस्तार से बताते है ताकि आपको पता हो कि जितने भी बैंक खाते के प्रकार मौजूद है उनमें से आप के लिए कौन सा बैंक खाता खोलना सबसे सही और मुनासिब रहेगा। इसके लिए आप लेख में दी गई जानकारी को नीचे विस्तार पूर्वक से पढ़ें ताकि आपको बैंक खाते के प्रकार से संबंधित किसी भी प्रकार का संदेह ना रह जाए।

1. बचत खाता

बचत खाता एक ऐसा खाता होता है जो ग्राहकों को अपने पैसे के लेनदेन करने के अलावा इसे सुरक्षित रखने पर ब्याज जैसी सुविधा प्रदान की जाती है और बचत खाते में ब्याज की राशि आपके बचत खाते की धनराशि पर निर्धारित की जाती है।

अगर आप चाहो तो बचत खाते को सेल्फ या फिर ज्वाइंट अकाउंट जैसे फैसिलिटी के साथ भी खुलवा सकते हो। अगर आप अपने बचत खाते में से पैसे को सिर्फ सुरक्षित रखोगे तो इसमें आपको काफी अच्छा ब्याज प्राप्त होता है परंतु आवश्यकता पड़ने पर आप इसमें से पैसे निकाल भी सकते हो। सभी बैंक बचत खाते को खोलने की सुविधा प्रदान करती है और आपको इसके लिए अपना बैंक में जाकर आवेदन या फिर ऑनलाइन आवेदन करना होता है। 

2. चालू खाता

अगर आप के व्यापारी हो या फिर कोई ऐसा करते हो जिसमें रोजाना ज्यादा से ज्यादा अमाउंट का लेनदेन होता रहता है तो ऐसे में आपको चालू खाता खुलवाना चाहते सही विकल्प रहता है। बचत खाता में हमें रोजाना एक लिमिट में ही पैसों का लेनदेन करने की सुविधा मिलती है परंतु चालू खाते के अंतर्गत आप रोजाना हजारों और लाखों रुपए का लेनदेन बिना लिमिटेशंस कर सकते हो।

चालू खाते को भी सेल्फ या फिर ज्वाइंट अकाउंट के रूप में आसानी से खुलवाया जा सकता है। इस प्रकार के खाते में ज्यादातर पैसों का लेनदेन किया जाता है और इसमें पैसे को सुरक्षित रखना संभव नहीं होता क्योंकि इसमें किसी भी प्रकार का ब्याज हमें पैसे को सुरक्षित रखने पर नहीं मिलता है और इस प्रकार के बैंक खाते को आप ऑनलाइन या फिर ऑफलाइन भी किसी भी बैंक के जरिए खुलवा सकते हो सभी बैंक चालू खाता खोलने की सुविधा देती है।

3. सावधि जमा खाता

अगर आप बैंक से पैसा कमाना चाहते हो तो ऐसे में सावधि जमा खाता यानी कि अकाउंट सबसे अच्छा विकल्प साबित होगा। इस प्रकार के खाते को भी सेल्फ या फिर जॉइंट अकाउंट के रूप में खुलवाया जा सकता है। इसमें आप जितना पैसा चाहे उतना पैसा एक सीमित समय के लिए सुरक्षित रख सकते हो और हम आपकी जानकारी के लिए बता दें कि इसमें आप 4 साल से लेकर 10 साल के ऊपर तक का अपना फिक्स अमाउंट सुरक्षित रख सकते हो।

इस प्रकार के खाते के सबसे खास बात यह होती है कि हमें अपने पैसे को एक बार सुरक्षित रखने के बाद समय से पहले निकालने की सुविधा नहीं मिलती और अगर आप करने से पहले अपना पैसा निकालते हो ऐसे में आपको पैसा निकालने पर कोई भी इंटरेस्ट नहीं मिलता है और आपका फिक्स अमाउंट भी टूट जाता है। 

वहीं अगर आप एक समय से पहले इसमें फिक्स किए गए अमाउंट से पहले अपना पैसा नहीं निकालते हो तो आपको इस प्रकार के खाते में लगभग 4% से लेकर 10% के ऊपर इंटरेस्ट के रूप में पैसा कमाने का मौका मिलता है। इस प्रकार के खाते को आप सीधे बैंक में ही जाकर खोल सकते हो क्योंकि वहां पर इसे खोलने के लिए कई सारे टर्म एंड कंडीशन और महत्वपूर्ण दस्तावेजों का इस्तेमाल बैंक करती है।

4. बुनियादी बचत खाता

बुनियादी बचत खाता को जीरो बैलेंस अकाउंट और बेसिक सेविंग अकाउंट भी कहा जाता है, यह एक ऐसा अकाउंट है, जिसे जीरो बैलेंस के साथ खोल सकते है और चाहें तो इसे ऐसे ही रख सकते है, इस खाते में कोई भी न्यूनतम बैलेंस रखने की अनिवार्यता नहीं है। इस प्रकार के बैंक खाते को खोलने के के बाद हमें रोजाना ₹5000 की जमा राशि और निकासी करने का सुविधा मिलता है। यदि आप एक लंबे वक्त तक इसमें अपना कोई भी पैसा जमा नहीं करती हो तो भी इस परिस्थिति में आप का बुनियादी बजट खाता कभी भी बंद नहीं किया जाएगा ज्यादातर इस प्रकार के खाते का उपयोग सरकारी योजनाओं का लाभ उठाने के लिए उम्मीदवार करते है। इस प्रकार के बैंक खाते को खोलने के लिए आप ऑनलाइन या फिर ऑफलाइन दोनों ही तरीको का उपयोग आसानी से कर सकते हो।

बैंक खाता खोलने के लिए जरूरी दस्तावेज

बैंक खाता खोलने के लिए आपको कुछ आवश्यक दस्तावेजों की जरूरत होगी और आप बिना उन दस्तावेजों के किसी भी बैंक में किसी भी प्रकार का खाता नहीं खोल सकते इसीलिए चलिए अब हम आप सभी लोगों को बैंक में खाता खोलने के लिए आवश्यक दस्तावेजों की जानकारी देते है और इसके लिए आप नीचे दी गई जानकारी को ध्यानपूर्वक पर जरूर पढ़ें।

  • खाता खोलने के लिए आपका एड्रेस प्रूफ लगेगा और आप इसमें पानी का बिल, गैस कनेक्शन का पासबुक, इलेक्ट्रिसिटी बिल और आधार कार्ड आदि का उपयोग कर सकते हो।
  • आपके पास कम से कम दो या तीन कलर फुल नवीनतम पासपोर्ट साइज फोटो चाहिए होंगे।
  • आवेदन फॉर्म में आपका सिग्नेचर लगेगा या फिर आपका थंब इंप्रेशन भी इस्तेमाल किया जा सकता है।
  • आजकल बैंक में खाता खोलने के दौरान की खाते की केवाईसी की जाती है इसीलिए खाता खोलने जाने के दौरान आपके पास पैन कार्ड होना भी अनिवार्य है।
  • कभी-कभी हमें किसी बैंक में खाता खोलने के लिए अपने परिवार के किसी सदस्य का किसी भी बैंक का  चेक बुक चाहिए होता है।
  • हम सभी महत्वपूर्ण दस्तावेजों के अलावा आपके पास एक स्थाई मोबाइल नंबर और ईमेल आईडी भी होना अनिवार्य है। 

बैंक खाता कैसे खोलें 

किसी भी बैंक में घर बैठे ऑनलाइन खाता खोलने के लिए आप उनके ऑफिशियल वेबसाइट पर विजिट कर सकते हो और दिए गए इंस्ट्रक्शन को पूरा करके आसानी से 5 से 10 मिनट के अंदर ही अपना किसी भी प्रकार के बैंक खाते में अकाउंट ओपन कर सकते हो।

चलिए अब हम आप सभी लोगों को आगे मोबाइल के माध्यम से घर बैठे ऑनलाइन बैंक का अकाउंट खोलने की प्रोसेस और भी विस्तार पूर्वक से स्टेप बाय स्टेप तरीके से समझाते है ताकि आपको ऑनलाइन खाता खोलने की प्रोसेस पता हो सके और आपको अपना अकाउंट खोलने के लिए कहीं जाने की बिल्कुल भी जरूरत ना हो। ऑनलाइन मोबाइल से बैंक का अकाउंट खोलने के लिए नीचे दिए गए स्टेप्स को ध्यान से पढ़ें और फॉलो भी करें।

1. बैंक की ऑफिशल वेबसाइट या ऐप पर जाएं

यदि आप घर बैठे आसानी से बैंक में खाता खोलना चाहते हो तो ऐसे में आपको जिस किसी भी बैंक में अपना अकाउंट ओपन करना है आपको उस बैंक के ऑफिशियल वेबसाइट या फिर उसके ऑफिशियल ऐप पर विजिट करना है। यहां पर ही आप आगे की प्रोसेस को कंप्लीट कर पाओगे और अपना ऑनलाइन खाता खोलने के लिए आवेदन कर पाओगे।

2. बैंक के वेबसाइट या ऐप में अकाउंट बनाएं

अब आपको बैंक की ऑफिशल वेबसाइट या फिर एप्लीकेशन को विजिट कर लेने के बाद आपको यहां पर सबसे पहले अपना अकाउंट बनाने के लिए कहा जाएगा ताकि आप उनके सर्विस का उपयोग कर सको और जब तक आप वहां अपना रजिस्ट्रेशन पूरा नहीं करोगे तब तक आपको वहां पर बैंक खाता खोलने की फैसिलिटी या फिर यूं कहें कि ऑप्शन देखने को नहीं मिलेगा।

3. अकाउंट लॉगिन करें

आप जैसे ही वहां पर अकाउंट बना लो उसके बाद आपको ऑफिशियल वेबसाइट में लॉगइन होने के लिए कहा जाएगा और जब तक आप यहां पर अपना यूजर नेम और पासवर्ड का इस्तेमाल करके एक बार एप्लीकेशन में या फिर वेबसाइट में लॉग इन नहीं हो जाते तब तक आपको आगे का प्रोसेस कंप्लीट करने का अवसर नहीं दिखाई देगा इसीलिए आप सबसे पहले ऑफिशल वेबसाइट या फिर ऐप में लॉगिन हो जाएं।

4. अकाउंट ओपनिंग के ऑप्शन पर क्लिक करें

ऑफिशियल वेबसाइट या फिर ऐप में लॉगिन हो जाने के पश्चात आपको यहां पर एक डैशबोर्ड दिखाई देगा और साथ ही साथ यहां पर आपको आने का ऑप्शन वेबसाइट या एप्लीकेशन के होम इंटरफेस पर दिखाई देने लगेंगे। अब आपको दिखाए जाने वाले सभी ऑप्शन में से सिर्फ और सिर्फ अकाउंट ओपनिंग नामक ऑप्शन पर क्लिक करना होगा और आपको इस वाले ऑप्शन पर क्लिक कर देना है।

5. अकाउंट के प्रकार का चुनाव करें

जैसा कि हमने आपको पहले ही बताया किसी भी बैंक में अलग-अलग प्रकार के बैंक का अकाउंट को ओपन किया जा सकता है अर्थात आप यहां पर आपको यह चुनाव करना है कि आप किस प्रकार का बैंक खाता ओपन करना चाहते हो और यहां पर आपको वेबसाइट या फिर एप्लीकेशन में सभी अलग-अलग प्रकार के बैंक खातों का प्रकार दिखाई देगा और आप अपने अनुसार बैंक खाते के प्रकार में अकाउंट ओपन करना चाहते हो उसका चुनाव यहां पर कर लीजिए।

6. आवेदन फॉर्म भरे

अब इतना कर लेने के पश्चात आपको यहां पर एक आवेदन फॉर्म दिखाई देगा और आपको आवेदन फॉर्म में जो भी जानकारी भरने के लिए कहीं जा रही है सबसे पहले उस जानकारी को आप ध्यान पूर्वक पढ़ लीजिए ताकि आपको पता हो कि कौन-कौन सी जानकारी को आवेदन फॉर्म में भरना जरूरी है। आवेदन फॉर्म को ध्यान से पढ़ लेने के पश्चात अब आपको उसी हिसाब से एक-एक करके आवेदन फॉर्म में जानकारी को दर्ज करते चले जाना है और एक भी जानकारी मिस नहीं करना है नहीं तो आपका आवेदन फॉर्म अधूरा रह जाएगा और आपका खाता ओपन नहीं हो पाएगा।

7. डॉक्युमेंट अपलोड करें

आवेदन फॉर्म तो भर देने के पश्चात अब आपको आवेदन फॉर्म में अपने डॉक्यूमेंट को भी अपलोड करने के लिए कहा जाएगा और यहां पर आपसे जो भी डॉक्यूमेंट की डिमांड की जा रही है आप उन सभी डॉक्यूमेंट को अपने मोबाइल फोन या फिर स्केनर की सहायता के दस्तावेजों को स्कैन कर लीजिए और उसके बाद एक-एक करके ऑफिशल वेबसाइट में या फिर ऐप में चले जाइए।

8. अकाउंट ओपनिंग चार्ज पेमेंट करें

अगर आप यहां पर बचत खाता, चालू खाता जैसे बैंक खाते को ओपन करने के लिए आवेदन करते हो तो आपको यहां पर अकाउंट ओपनिंग चार्ज देना पड़ सकता है और अगर आपको जीरो बैलेंस का खाता खोलना है तो आपको इसमें किसी भी प्रकार का अकाउंट ओपनिंग चार्ज देने की जरूरत नहीं है और ना ही अपने बैंक खाते में कोई बैलेंस बनाकर रखने की जरूरत है। अकाउंट ओपनिंग चार्ज उनका लगता है जो जिस प्रकार का बैंक खाता खोलने के लिए आवेदन करते हैं।

9. अपना ई केवाईसी कंप्लीट करें

अकाउंट ओपनिंग का चार्ज कंप्लीट पेमेंट कर लेने के पश्चात अब आप को अंतिम में कुछ आसान इस एप्स को पूरा करके अपना ई केवाईसी कंप्लीट करने के लिए कहा जाएगा और यहां पर ई केवाईसी कंप्लीट करने के इंस्ट्रक्शन भी आपको बताए जाएंगे और आप उन इंस्ट्रक्शन को फॉलो करके आसानी से अपना ईकेवाईसी का प्रोसेस कंप्लीट करें ताकि आप अपना बैंक में खाता ऑनलाइन सफलतापूर्वक खोल सको।

10. आवेदन फॉर्म सबमिट करें

अब इतना कर लेने के पश्चात आपको आगे अपना आवेदन फॉर्म सबमिट करने के लिए कहा जाएगा और आप दिए गए सबमिट बटन पर क्लिक करके अपना आवेदन फॉर्म सबमिट कर लेते हो। जैसे ही आप अपना आवेदन फॉर्म सबमिट करते हो वैसे ही आप का आवेदन फॉर्म बैंक में रिव्यु के लिए चला जाता है और सारे डॉक्यूमेंट एवं आपके द्वारा दी गई जानकारी का वेरिफिकेशन किया जाता है।

11. कंफर्मेशन का इंतजार करें

24 घंटे से लेकर 48 घंटों के भीतर भीतर आपको अकाउंट ओपनिंग का कन्फर्मेशन मैसेज आपके द्वारा दर्ज किए गए मोबाइल नंबर या फिर ईमेल आईडी पर भेज दिया जाएगा। अगर आपका यहां पर अकाउंट ओपन नहीं होता है तो आप अपने आवेदन फॉर्म को ऑफिशल वेबसाइट या फिर ऐप में जाकर के डाउनलोड करें और अपने नजदीकी बैंक शाखा में इसे जाकर दिखाएं फिर भी आपका खाता वेरीफाई करके ओपन कर देंगे आपको दोबारा से आवेदन करने की जरूरत नहीं होगी।

ऑफलाइन बैंक में खाता कैसे खोलें

दोस्तों ऑफलाइन बैंक में खाता खोलने के लिए आपको नजदीकी बैंक में विजिट करना होगा और उसके बाद आपको वहां पर आवेदन फॉर्म प्राप्त होगा। आवेदन फॉर्म को भरने के बाद आपको वहां पर जमा करना है और उसके बाद वेरिफिकेशन होगा फिर आपका बैंक में खाता ओपन हो जाएगा।

यदि आपको समझ में नहीं आया कि ऑफलाइन बैंक में खाता खोलने का प्रोसेस क्या है तो इसके लिए आपको नीचे दी गई जानकारी को ध्यान से पढ़ना होगा और बताए गए सभी स्टेप्स को फॉलो करना होगा ताकि आपको ऑफलाइन तरीके से भी बैंक अकाउंट खोलने का तरीका बताओ।

  • जिस किसी भी बैंक के अंदर अपना खाता खोलना चाहते हो सबसे पहले आपको उस बैंक में विजिट करना होगा और आप इसके लिए अपने नजदीकी किसी की बैंक में जा सकते हो और उनके ब्रांच में विजिट कर सकते हो।
  • अपने नजदीकी बैंक में विजिट कर लेने के पश्चात अब आपको बैंक मैनेजर से मिलना है और उन्हें बताना है कि आप उनसे बैंक में खाता खोलना चाहते हो और आप किस प्रकार का खाता खोलना चाहते हो उसके बारे में भी बैंक मैनेजर को साफ-साफ जानकारी को समझाएं।
  • इतना करने के बाद आपको बैंक मैनेजर खुद बताएगा कि आप को किस प्रकार का बैंक खाता खोलना चाहिए और उसमें आपको क्या एडवांटेज मिलेगा। आपको बैंक मैनेजर की बात को ध्यान से समझना है और साथ ही साथ अपने रिक्वायरमेंट को भी अपने दिमाग में रखना है ताकि आप सही निर्णय ले सको।
  • अब फाइनली बैंक मैनेजर अपने किसी एंप्लॉय को बुलाएगा और उसे बोलेगा कि आपके बैंक खाते को ओपन करने के सारे प्रोसेस को कंप्लीट करवाने का काम शुरू किया जाए।
  • अब आपको बैंक की तरफ से एक आवेदन फॉर्म दिया जाएगा और आपको इस आवेदन फॉर्म में पूछी जा रही जानकारी को एक-एक करके सबसे पहले ध्यान पूर्वक से पढ़ना है ताकि आपको पता हो कि आवेदन फॉर्म में कौन-कौन सी जानकारी आपको भरनी है।
  • अब इतना कर लेने के पश्चात आपको आगे आवेदन फॉर्म में जानकारी को भरने के बाद आपको इससे संबंधित काउंटर पर जमा कर देना है।
  • अब काउंटर पर आपके द्वारा जमा किए गए आवेदन फॉर्म का वेरिफिकेशन किया जाएगा और सभी दस्तावेज एवं जानकारी को ध्यान से वेरीफाई किया जाएगा।
  • यदि आपके द्वारा दी गई जानकारी और दस्तावेज सही पाए जाएंगे तो आपको तुरंत वहां पर केवाईसी करने के लिए एक आवेदन फॉर्म भरने के लिए कहा जाएगा और आपको लगे हाथ अपना केवाईसी करने के लिए आवेदन फॉर्म को भर लेना है।
  • आपको अपने आवेदन फॉर्म को एक बार फिर से अब काउंटर पर जमा कर देना है और आप आपका  केवाईसी कंप्लीट हो जाएगा अब इतना करने के बाद आपका बैंक में खाता खुल जाएगा और आपको तुरंत ही या फिर 1 दिन के बाद बैंक खाते की पासबुक मिल जाएगी।
  • इस प्रकार से बड़ी ही आसानी से आप सीधे बैंक में जाकर के अपना खाता खोल सकते हो।

भारत के टॉप 5 बैंक का नाम

हमारे देश में 20 से भी अधिक सरकारी और प्राइवेट बैंक मौजूद है परंतु हम यहां पर आप सभी लोगों को भारत के कुछ टॉप 5 बैंक के नाम के बारे में जानकारी देंगे और अगर आप को इनमें से किसी भी बैंक में खाता खोलना है तो आप उनका चुनाव आसानी से कर सकते हो फिलहाल इस विषय पर जानकारी हासिल करने के लिए नीचे दी गई जानकारी को ध्यान से पढ़ें।

1. भारतीय स्टेट बैंक ऑफ इंडिया

यह बैंक भारतीय रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया के अंतर्गत अधीन होकर कार्य करती है और इस बैंक का 51% हिस्सा सेंट्रल गवर्नमेंट के अधीन है और इस बैंक को 1955 के समय में शुरू किया गया था। आज हमारे देश में लगभग हर एक राजा और हर एक स्थिति एवं ग्रामीण इलाकों में आपको भारतीय स्टेट बैंक ऑफ इंडिया का ब्रांच आसानी से मिल जाएगा। हमारे देश में यह बैंक में काफी अच्छी सर्विस अपने ग्राहकों को प्रदान करने के लिए जाना जाता है और आप इसमें आसानी से जिस प्रकार का चाहो उस प्रकार का खाता खुलवा सकते हो।

2. बैंक ऑफ़ बड़ोदरा 

बैंक ऑफ़ बड़ोदरा भी एक जानी-मानी बैंकिंग शाखा है और इसका स्थापना गुजरात भारत में वर्ष 1908 के समय में हुआ था। हमारे देश में आपको बैंक ऑफ़ बड़ोदरा के अलग-अलग जगह पर शाखाएं आसानी को देखने को मिल जाएंगे। बैंक ऑफ़ बड़ोदरा के ब्रांच के लगभग ग्रामीण और शहरी दोनों इलाके में मौजूद है और इनकी सर्विस भी काफी ज्यादा अच्छी है इतना ही नहीं हमें बैंक ऑफ़ बड़ोदरा में जैसा चाहो वैसा अकाउंट खोलने की भी फैसिलिटी मिल जाती है।

3. पंजाब नेशनल बैंक 

आज के समय में पंजाब नेशनल बैंक की बेहतरीन सर्विस के बारे में कौन नहीं जानता है जिन लोगों का पंजाब नेशनल बैंक में खाता है वह लोग इसकी सर्विस से काफी ज्यादा संतुष्ट है। इस बैंक को भी वर्ष 1908 में राजधानी दिल्ली भारत में शुरू किया गया था और आज की डेट में यह बैंक भारती टॉप बैंकिंग सर्विस की लिस्ट में शामिल है। आप इस बैंक में भी आसानी से जिस प्रकार का खाता चाहो उस प्रकार का खाता ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों ही तरीके से खोल सकते हो और इतना ही नहीं इसमें हमें कई सारी एडवांस लेवल की बैंकिंग तकनीक का भी इस्तेमाल करने का ऑप्शन मिल जाता है। 

4. एचडीएफसी बैंक

आज के समय में एचडीएफसी बैंक के बारे में कौन सी जानता है। इस बैंक को वर्ष 1994 में मुंबई के महाराष्ट्र में लांच किया गया था। एक समय हुआ करता था इस बैंक के बारे में बहुत ही कम लोगों को पता हुआ करता था परंतु आज के समय में एचडीएफसी की बैंकिंग सर्विस बेस्ट बैंकिंग सर्विस की लिस्ट में शामिल है और अब तक इसके जितने भी ग्राहक बने है उन सभी ग्राहकों को इनकी बेस्ट सर्विस अपनी तरफ आकर्षित करती है। एचडीएफसी बैंक के अंदर खाता खोलना काफी ज्यादा आसान है और इतना ही नहीं हमें एचडीएफसी बैंक काफी अच्छी बैंकिंग सर्विस प्रदान करती है और आप जैसे चाहो वैसे एचडीएफसी में ऑनलाइन या ऑफलाइन दोनों ही तरीके का उपयोग करके अपना खाता खोल सकते हो और इस बैंक की सर्विस का लाभ उठा सकते हो।।

5. आईसीआईसीआई बैंक

5 जनवरी 1994 को आईसीआईसीआई बैंक की स्थापना की गई। हमारे देश में आईसीआईसीआई बैंक भी काफी अच्छी सर्विस प्रदान करती है और यह एक प्राइवेट बैंक है। प्राइवेट बैंक होने के बावजूद भी हमें इसमें सभी प्रकार के सरकारी नियमों का पालन आसानी से देखने को मिल जाता है और बैंक सरकारी बैंकिंग नियम प्राणी को अच्छी तरीके से फॉलो भी करती है। हम आपकी जानकारी के लिए बता दें कि आईसीआईसीआई बैंक भी काफी अच्छी सर्विस प्रदान करती है और इतना ही नहीं कई सारी ई-कॉमर्स वेबसाइट पर शॉपिंग करने पर इसके खाताधारकों को काफी अच्छा बैंक डिस्काउंट ऑफर भी देखने को मिल जाता है। इस बैंक में भी आप जैसे चाहो वैसे खाता खुलवा सकते हो और जिस कैटेगरी का चाहो उस कैटेगरी का खाता आसानी से खुलवा सकते हो।

बैंक में खाता खोलने के लाभ

अगर आपका बैंक में खाता है तो आप अपने पैसे को आसानी से सुरक्षित रख सकते हो और आवश्यकता पड़ने पर इसी पैसे का इस्तेमाल आप अपने विषम परिस्थिति में या फिर कठिन समय में कर सकते हो। इसके अलावा भी कई सारे फायदे बैंक में खाता खोलने के मिलते हैं।

चलिए अब हम आप सभी लोगों को आगे बैंक में खाता खोलने का क्या क्या लाभ मिलता है? के बारे में जानकारी देते है और आप इसके लिए नीचे दी गई जानकारी को ध्यान से पढ़ें ताकि अगर अब तक आपका बैंक में खाता नहीं था तो आप इन लाभ को पढ़ कर तुरंत अपना खाता बैंक में खुलवाएं।

  • अगर आपका बैंक में खाता नहीं है तो आप घर में अपने पैसे को सुरक्षित नहीं रख सकते कभी भी पैसे चोरी होने का या फिर पैसे गुम होने का खतरा आपको देखने को मिल सकता है। ऐसे में बैंक में खाते के जरिए हम अपने पैसे को निश्चित होकर सुरक्षित रख सकते हैं।
  • बैंक में खाता खोलकर आप इस पर इंटरेस्ट प्राप्त करके पैसे भी कमा सकते हो परंतु घर में पैसे सुरक्षित रखने पर हमें कभी भी इस पर इंटरेस्ट नहीं मिल सकता और ना ही इसका कोई लाभ होता है।
  • अगर आपके पास बैंक खाता है तो आप आसानी से किसी से भी कहीं पर से भी अपने बैंक खाते में पैसे मंगवा सकते हो।
  • बैंक खाते का उपयोग करके हम सभी प्रकार के ट्रांजैक्शन तो घर बैठे आसानी से कर सकते हैं।
  • ऑनलाइन शॉपिंग वगैरह करने हेतु बैंक में खाता होना चाहिए और क्रेडिट कार्ड या फिर डेबिट कार्ड भी होना चाहिए यह सब कुछ तभी होगा जब आपका बैंक में खाता होगा इसलिए बैंक में खाता होने का बहुत फायदा है।
  • अगर आपका बैंक में खाता है तो आप जितना चाहो उतना अमाउंट अपने बैंक खाते में सुरक्षित रख सकते हो और कभी भी आपको अपने पैसे को लेकर कोई चिंता भी नहीं होगी।
  • आप चाहो तो किसी भी बैंक में अपना फिक्स अकाउंट ओपन कर सकते हो और इस पर एक लिमिटेड समय में अच्छा खासा अमाउंट हर महीने ब्याज के तौर पर कमा सकते हो।
  • यदि आपको सरकार की किसी भी आर्थिक योजना का लाभ उठाना है तो ऐसे में आपके पास बैंक में खाता होना अनिवार्य है।
  • सभी प्रकार की राज्य और केंद्र सरकार की योजनाओं का लाभार्थी बनने हेतु आपके पास बैंक खाता होना अनिवार्य है।
  • यदि आप एक छात्र हो और आपको स्कॉलरशिप प्राप्त करना है तो स्कॉलरशिप को प्राप्त करने हेतु आपके पास बैंक खाता होना अनिवार्य है।

बैंक के बारे में पूछे जाने वाले प्रश्न

यहाँ पर मैंने ऐसे चार सवालों के जवाब दिए है जो की अक्सर लोग बैंक के बारे में पूछते रहते हैं।

Q. स्टेट बैंक में खाता खोलने के लिए क्या चाहिए?

स्टेट बैंक में खाता खोलने के लिए आपके पास आपका पर्सनल डॉक्यूमेंट, और आपका एड्रेस प्रूफ होना चाहिए।

Q. बैंक खाता कितने रुपए में खुलता है?

बैंक खाता ग्रामीण इलाकों में ₹500 में और महानगरों ही क्षेत्रों में ₹1000 के बीच में आसानी से खुल जाता है।

Q. बिना पैन कार्ड के बैंक में खाता कैसे खोलें?

आप पैन कार्ड के जगह पर फॉर्म 60 या 61 का उपयोग करके बैंक में खाता खोल सकते हो और आपको सिर्फ पासबुक एवं एटीएम कार्ड ही इस डॉक्यूमेंट के अंतर्गत प्राप्त होता है। अगर आप बिना पैन कार्ड के चेक बुक लेना चाहते हो तो आपको चेक बुक की फैसिलिटी बिना पैन कार्ड की नहीं मिलेगी।

निष्कर्ष

अगर आपको Bank Me Khata Kaise Khole लेख हेल्पफुल रहा है तो फिर आप यह लेख अपने दोस्तों के साथ शेयर जरूर करना और इसके अलावा अगर आपको इस लेख से संबंधित कोई भी जानकारी चाहिए तो उसके लिए आप नीचे कमेंट बॉक्स का इस्तेमाल कर सकते हैं।

Abhishek Maurya

मेरा नाम अभिषेक मौर्य है और मैं उत्तर प्रदेश वाराणसी डिस्ट्रिक्ट का रहने वाला हूं और मैं एक दिव्यांग हूं। मुझे अलग-अलग विषयों पर आर्टिकल लिखना बहुत अच्छा लगता है और इसी को मैंने अपना जुनून बनाया है। मैं पिछले 3 वर्षों से आर्टिकल लेखन का कार्य कर रहा हूं। आपको हमारे द्वारा लिखे गए लेख कैसे लगते हैं? आप हमें कमेंट बॉक्स में अवश्य बताएं। मेरा भी एक हिंदी ब्लॉग है जिस पर मैं रिलेशनशिप के ऊपर आर्टिकल लिखता हूं जिसका यूआरएल इस प्रकार से है। माय वेबसाइट यूआरएल - https://hindibaatchit.com/

Leave a Reply