(Chartered Accountant) CA कैसे बने पूरी जानकारी जानिए हिंदी में

भरत के बहुत कम ऐसी नौकरी है जिसे उपलब्धि के तौर पर देखा जाता है CA उनमें से एक है। अगर आप कॉमर्स या वाणिज्य से अपनी पढ़ाई आगे जारी रखे है तो आपको इस नौकरी के लिए कितने लोग मेहनत करते है यह पता होगा, क्या आपने भी कभी यह सोचा है की CA Kaise Bane या CA क्या काम करता है तो आपकी जिज्ञासा का अंत इस लेख में हो सकता हैं। 

CA बनने की प्रक्रिया काफी कठिन है मगर इस नौकरी की तनख्वा और रौब देख कर भारत में इसे बहुत बड़ी उपलब्धि की नजर से देखा जाता है आप किस तरह से इस नौकरी को पा सकते है और CA Kaise Bane इस बारे में विस्तार पूर्वक सभी बातें लेख में बताई गई हैं। 

CA कौन होता हैं

CA वह व्यक्ति होता है जो लोगों को वित्य सुझाव देता है, किसी कंपनी या बड़े दुकान और शोरूम का लेखा-जोखा या हिसाब किताब करता है, टैक्स और अकाउंटेंट से जुड़े काम करता है। 

एक CA की जरूरत हर बिजनेसमैन को पड़ती है ताकि वह इस बात को निश्चित कर सके कि किस तरह वह अपने टैक्स को कम कर सकता है और अपने बैलेंस शीट में ज्यादा से ज्यादा प्रॉफिट दिखा सकता है। एक CA को वित्तीय लेखा-जोखा और अकाउंट के विश्लेषण का पूर्ण ज्ञान होता हैं। 

CA क्या कार्य करता हैं 

CA बड़े बड़े दुकान और शोरूम के साल भर का हिसाब किताब करता है एक CA बड़ी-बड़ी कंपनियों का भी हिसाब किताब करता है इसका मुख्य कार्य साल भर में इसके ग्राहक व्यापार में कितना मुनाफा किया और कितना नुकसान किया इस बात का हिसाब किताब करना होता हैं। 

ताकि इसका ग्राहक कम से कम टैक्स दे सके और ज्यादा से ज्यादा मुनाफा कमा सके CA अपने ग्राहकों को वित्तीय और अकाउंट से जुड़े सभी प्रकार के सुझाव और सलाह देने का भी काम करता हैं। 

CA का मुख्य तौर पर काम तब पड़ता है जब हमे अपने टैक्स को बचाना या कम करना होता है। एक CA व्यापारी के अकाउंट का विश्लेषण करने का कार्य करता है और सभी प्रकार के एकाउंट और वितीय सुझाव देने का कार्य करता हैं।

CA कैसे बने

CA बनने के लिए आपको CA की परीक्षा उत्तीर्ण करनी होगी जिसमें आपकी तीन चरण में परीक्षा होती है। आपको कौन सी परीक्षा कब देनी है और कितने मार्क्स से उत्तीर्ण करनी है इन बातों की जानकारी लेने से पहले आप को CA बनने की प्रक्रिया के बारे में विस्तारपूर्वक नीचे कुछ जानकारी दी गई है उसे ध्यानपूर्वक पढ़ें।

अगर आप अभी स्कूल में है और आप चाहते है अपने आगे का कैरियर CA में बनाना तो इसके लिए आपको सीपीटी की परीक्षा उत्तीर्ण कर ली। आज कल इसे CA फाउंडेशन कोर्स के नाम से जाना जाता है, इस परीक्षा के लिए आपको 10वी में रजिस्ट्रेशन या पंजीकृत करना होगा और उसके बाद आप इस परीक्षा को अपनी 12वी के बाद दे सकते हैं। 

आप 12वी किस स्ट्रीम से कर रहे है यह मायने नहीं रखता आप चाहे विज्ञान के विद्यार्थी हो या कला के आप CA की परीक्षा के लिए बैठ सकते है। हर साल CA की फाउंडेशन परिक्षा के लिए पांगीकृत 31जून तक होता है और हर साल CA की परिक्षा 2 बार मई और नवंबर में होती हैं।

आप जून में पंजीकृत करवाएंगे तो आपको मई में परीक्षा देनी होगी और अगर आप तो सितंबर में पंजीकृत करवाएंगे तो आपको नवंबर में परीक्षा देनी होगी एक व्यक्ति दो बार परीक्षा दे सकता हैं। 

इस परीक्षा में आवेदन करने के लिए आपको CA की आधिकारिक वेबसाइट The Institute of Chartered Accountants of India पर जाना है और प्रक्रिया अनुसार फाउंडेशन कोर्स के परीक्षा के लिए आवेदन कर देना है इस परीक्षा को आप 12वीं के बाद दे सकते है इस वजह से बहुत सारे लोग इसे 12वीं की परीक्षा के बाद भरते हैं। 

अगर आप CPT की परीक्षा के लिए दसवीं के बाद पंजीकृत करते है तो आपको स्टडी मैटेरियल पहले ही दे दिया जाएगा जिसकी पढ़ाई करके आप फाउंडेशन कोर्स की तैयारी कर सकते हैं। 

जब आप 12वीं पास कर लेंगे तब आप CA फाउंडेशन कोर्स के लिए परीक्षा दे सकते है और इस परीक्षा में आपसे मार्केट लॉ बिजनेस इकोनॉमिक्स साधारण अंग्रेजी और एकाउंटिंग के सवाल पूछे जाएंगे। आपको बता दें कि यह चारों विषय की परीक्षा 100 मार्क्स की होगी और हर एक विषय के लिए 3 घंटा दिया जाएगा।

शुरू में मार्केट लॉ और अकाउंटिंग की परीक्षा होगी जिसमें प्रत्येक पेपर 100 अंक के होंगे और प्रतेक के लिए 3 घंटे का समय दिया जाएगा उसके बाद बिजनेस इकोनॉमिक्स और साधारण अंग्रेजी का पेपर ऑब्जेक्टिव टाइप होगा वह दोनों भी 100 मार्क्स के होंगे और 3 घंटे का समय दिया जाएगा। 

इस परीक्षा को उत्तीर्ण करने के लिए हर पेपर में 40% मार्क्स होना चाहिए और कुल मार्क्स 50% से अधिक होना चाहिए तब जाकर आप इस परीक्षा को उत्तीर्ण कर सकते हैं। 

इस परीक्षा को वितरण करने के बाद आपको Integrated Professional Competency Course की परीक्षा देनी होगी यह CA बनने का दूसरा चरण है। इस परीक्षा को केवल वह लोग दे सकते हैं जो पहले चरण की परीक्षा को पास किए हैं। 

अगर आप ग्रेजुएशन कर चुके है तब आपके लिए यह दोनों परीक्षा को दुबारा देना काफी ज्यादा समय मिलेगा इस वजह से एक डायरेक्ट एंट्री की प्रक्रिया भी रखी गई है जिसमें केवल ग्रेजुएट और पोस्ट ग्रेजुएट लोग ही अप्लाई कर सकते है। इस प्रक्रिया में आगे बढ़ने के लिए अगर आप कॉमर्स स्ट्रीम से हैं तो आप का 55% मार्क्स होना चाहिए और अगर आप किसी दूसरे स्ट्रीम से हैं तो आपका 60% मार्क्स स्नाटक डिग्री में होना चाहिए। 

तो अगर आप ग्रेजुएट या पोस्ट ग्रेजुएट कर चुके है तो आपको ICITSS की परीक्षा के लिए पंजीकृत करना होगा पंजीकृत की प्रक्रिया को पूरा करने के बाद आपको यह परीक्षा दो ग्रुप में देनी होगी। दोनों ग्रुप में लाकर आपको टोटल 8 पेपर की परीक्षा देनी होगी हर पेपर 100 मार्क्स का और हर पेपर को पूरा करने के लिए आपको 3 घंटे का समय दिया जाएगा। 

CA बनने के लिए योग्यता

यह एक प्रतिष्ठित नौकरी है बहुत सारी कंपनी आपके पास आती है जब आप को CA की परीक्षा उत्तीर्ण कर लेते है। CA की परीक्षा उत्तरण करने के लिए आपको क्या करना होगा यह बात ऊपर विस्तार पूर्वक बताया गया है इसकी योग्यता को समझने के लिए नीचे पढ़ें। 

  • CA की परीक्षा देने के लिए सबसे पहले आपको दसवीं की परीक्षा पास करनी होगी आप कौन सी स्ट्रीम से परीक्षा पास करते हैं यह आवश्यक नहीं है लेकिन दसवीं की परीक्षा पास करने के बाद आप अपने को foundation course में पंजीकृत कर सकते हैं। 
  • दसवीं के बाद आप खुद को पंजीकृत कर सकते है मगर CPT की परीक्षा 12वीं की परीक्षा पास करने के बाद ही दे सकते है अर्थात दूसरी योग्यता 12वीं की परीक्षा पास करना है आप किसी भी मार्क्स से और किसी भी स्ट्रिंग से 12वीं की परीक्षा पास कर सकते हैं। 
  • इसके बाद आप Integrated Professional Competency Course का कोर्स कर के CA की फाइनल परीक्षा के लिए बैठ सकते हैं।
  • अगर आप ग्रेजुएशन कॉमर्स से करते है तो आपको 55% मार्क्स की जरूरत होगी और अगर आप ग्रेजुएशन किसी और स्ट्रीम से करते है तो आपको 60% मार्क्स की जरूरत होगी ताकि आप ICITSS की परीक्षा दे सके। 

ध्यान दें- जब आप ICITSS की परीक्षा पास कर लेंगे तब आपको 3 साल के प्रैक्टिकल ट्रेनिंग करनी होगी और उसके बाद आप CA बन सकते है और आपको इसके लिए ऊपर बताए गए सभी योग्यताओं को पूर्ण करना होगा। 

CA लिए आयु

अगर आप CA बनना चाहते है तो आपको बता दें इसके लिए किसी भी प्रकार की अंतिम आयु नहीं रखी गई है अगर आपकी उम्र 21 साल है तो आप फाइनल परीक्षा के लिए बैठ सकते हैं। 

अगर आपने ग्रेजुएशन या स्नातक की डिग्री नहीं ली है तो आप को CA बनने के लिए दो परीक्षा उत्तरण करनी होगी जिसके पश्चात आप फाइनल परीक्षा दे सकते हैं अगर आपने स्नातक की डिग्री ले ली है तो आपको केवल एक परीक्षा देनी होगी जिसके बाद अब 3 साल का कोर्स करेंगे और फाइनल परीक्षा दे सकते हैं।

सीजी की फाइनल परीक्षा के लिए न्यूनतम आयु 21 वर्ष रखी गई है और अधिकतम आयु की कोई सीमा नहीं रखी गई है आप चाहे किसी कैटिगरी से ताल्लुक रखते हो आप 10 बार CA की फाइनल परीक्षा के लिए बैठ सकते हैं। 

CA बनने के लिए तैयारी कैसे करें

अगर आपको CA बनना है तो इसकी तैयारी आपको दसवीं कक्षा से ही शुरू करनी होगी आप परीक्षा 12वीं के बाद दे सकते है और फाइनल परीक्षा स्नातक डिग्री पूरा करने के बाद दे सकते है मगर इसकी पंजीकृत प्रक्रिया दसवीं के बाद से शुरू हो जाती है जिस वजह से ज्यादातर लोग दसवीं के बाद से CA बनने की तैयारी शुरू करते हैं। 

जब आप दसवीं परीक्षा पास कर लेंगे तब आपको foundation course की परीक्षा के लिए पंजीकृत कर सकते है जब दसवीं के बाद आप पंजीकृत कर लेंगे तब आपको स्टडी मैटेरियल बता दिया जाएगा जिससे आप तैयारी कर सकते हैं। 

आपको दसवीं के बाद पंजीकृत करते वक्त जो भी सिलेबस दिया जाएगा उससे कुछ सवाल पूछे जाएंगे फाउंडेशन कोर्स की परीक्षा में जो परीक्षा बारहवीं के बाद दे सकते हैं। 

जब 12वी के बाद आप फाऊंडेशन परिक्षा पास कर लेंगे तब आपको CPT की परीक्षा देनी होगी और इस परीक्षा में आपसे अकाउंट, मार्केट लो, बिजनेस इकोनॉमिक्स और साधारण अंग्रेजी के कुछ सवाल पूछे जाएंगे। जिनकी तैयारी आप 12वी के कॉमर्स बुक से या फिर कुछ विष्याओं की तैयारी के लिए आपको CA की किताबें खरीदनी होगी। 

अगर आप 12वीं के बाद CA की परीक्षा नहीं दे रहे तो आपको अपने स्नातक डिग्री को पूरा करने के बाद ICITSS की परीक्षा देनी होगी जो दो ग्रुप में होती है और आपको दोनों में से किसी एक ग्रुप को अच्छे से उत्तरण करनाहोगा जिसके लिए आपको Accounting, corporate law, taxation, auditing जैसे विषयों से सवाल पूछे जाएंगे और इसकी तैयारी आप किसी कोचिंग ज्वाइन करके या इन विषयों का किताब खरीद कर घर में भी पढ़ाई कर सकते हैं।

CA की तैयारी करने के लिए सबसे पहले आप यह निश्चित करें कि आप किस चरण पर उसकी परीक्षा दे रहे है अर्थात आप 12वीं के बाद CA की परीक्षा दे रहे है या स्नातक डिग्री के बाद परीक्षा दे रहे है दोनों ही परीक्षा में पास होने के बाद आपको फाइनल परीक्षा 3 साल की ट्रेनिंग के बाद देनी है तभी अंत में आप को CA का सर्टिफिकेट मिलेगा। 

दोनों ही चरण में तैयारी करने की प्रक्रिया बिल्कुल अलग होती है आप अपनी तैयारी के लिए किसी कोचिंग को चुन सकते है अन्यथा अपने चरण अनुसार किताबों को किसी भी सामान्य बुक स्टोर से खरीद कर घर में पढ़ाई करके परीक्षा उत्तीर्ण कर सकते हैं। 

यह भी पढ़ें

CA बनने के लिए सिलेबस

आपके CA बनने के लिए सिलेबस अलग-अलग किस्म का होता है अर्थात जवाब 12वीं पास करने के बाद CA की परीक्षा देंगे तो आप का सिलेबस अलग होगा और जब आप इस स्नातक डिग्री पास करने के बाद CA की परीक्षा देंगे तो आप का सिलेबस अलग होगा दोनों ही स्थिति में फाइनल परीक्षा का सिलेबस एक ही होता है इस परीक्षा को आप 3 साल की ट्रेनिंग के बाद दे सकते हैं। 

CA का सिलेबस फाउंडेशन कोर्स की परीक्षा के लिए

  • Marketing law – 100 marks 
  • Accounting – 100 marks 
  • Business economics – 100 marks 
  • General English – 100 marks 

यह सब विषयों में आपको किस प्रकार की पढ़ाई या क्या क्या पढ़ना है यह बात पंजीकृत करते वक्त आपको वेबसाइट पर पता चल जाएगा। 

CA के लिए ICITSS का सिलेब्स

यह परीक्षा आप स्नातक डिग्री पूरा करने के बाद ही दे सकते है। इस स्तर पर दो ग्रुप में परीक्षा ली जाती है और आपको दोनों में से किसी एक ग्रुप में उतरे ना करना होता है। इस परीक्षा को उत्तीर्ण करने के लिए एक ग्रुप के चारों विषयों में 40% और आपका कुल मार्क्स 50% से अधिक होना चाहिए तब ही आप परीक्षा में उत्तीर्ण माने जाएंगे। 

ICITSS की ग्रुप 1 का सिलेबस

  • Accounting – 100 Marks
  • Corporate Laws and other laws – 100 Marks
  • Cost and management Accounting – 100 Marks
  • Taxation – 100 Marks

ICITSS की ग्रुप 2 का सिलेबस

  • Advanced Accounting – 100 Marks
  • Auditing and Assurance – 100 Marks
  • Information and Strategic Management – 100 Marks
  • फाइनेंसियल मैनेजमेंट & Economics – 100 Marks

भारत में CA के टॉप 5 कॉलेज

अगर आपको भारत में CA बनना है इसके लिए आपको कौन से टॉप 5 कॉलेज में अपनी पढ़ाई करनी चाहिए इसके बारे में नीचे बताया गया है हमने भारत के कुछ प्रसिद्ध और टॉप CA कॉलेज के नाम नीचे दिए हैं।

  1. CA neeraj arora classes, faridabad
  2. Pinnacle academy, Hyderabad, Telangana
  3. Master minds, Guntur, Andhra Pradesh
  4. MT educate, Chennai
  5. Deshbhakt Ratnappa Kumbhar College of Commerce, Delhi

CA बनने के लिए कितनी फीस लगती हैं

जैसा कि हमने बताया CA भारत के कुछ प्रसिद्ध कोर्स में से एक है जिस वजह से इसकी कीमत भी काफी ज्यादा है मगर इंजीनियरिंग और डॉक्टरी से कम खर्चा लगता है आपको CA बनने में कुल 5 साल की मेहनत लगती है इन 5 सालों तक कोचिंग का खर्चा मुख्य खर्चा होता है इसके अलावा आपको फॉर्म भरने और रजिस्ट्रेशन के लिए जो पैसे लगते है उनके बारे में नीचे बताया गया हैं। 

  • 12वीं के बाद से यह करने में कितना खर्च लगेगा
  • 12वीं के बाद CA करने के लिए आपको फाउंडेशन कोर्स की परीक्षा देनी होती है उस फाउंडेशन कोर्स में आपको कुल ₹96000 लगेंगे। 
  • Foundation Course Registration Fee – Rs. 9000
  • CA foundation form fees – Rs. 200
  • Subscription fees for Member’s Journal – Rs. 200 (Optional)
  • Foundation Prospectus cost Rs. 200

Total = Rs. 9600

स्नातक के बाद CA करने में कितना खर्च आएगा

आप ग्रेजुएशन या स्नातक की डिग्री खत्म करने के बाद अगर CA करना चाहते हैं तो इस प्रक्रिया में आपको कुल Rs. 13000 ग्रुप वन के लिए और Rs. 18200 ग्रुप-2 के लिए खर्च आएगा। 

  • Foundation Prospectus cost – Rs. 200
  • CA intermediate registration fees – 
  • ग्रुप 1 के लिए – Rs. 11000
  • ग्रुप 2 के लिए – Rs. 15000
  • Studen’s Activity fees for CA intermediate ग्रुप 1 के लिए – Rs. 2000
  • ग्रुप 2 के लिए – Rs. 2000
  • CA intermediate registration fees as an article assistant
  • ग्रुप 1 केवल – Rs. 1000
  • इसी के साथ आपको ₹13000 ग्रुप वालों के परीक्षा के लिए और ₹18200 ग्रुप डी की परीक्षा के लिए देने होंगे। 

यह सब के अलावा अगर आप को CA की परीक्षा में और कोई खर्च आएगा तो वह आपके कोचिंग का है CA में आपकी परीक्षा 5 साल बाद होगी 5 साल तक आपको कोचिंग का खर्च मुख्य खर्च होता है जिसमें 50,000 से 2.5 लाख रुपए तक का खर्च आ सकता हैं। 

CA का सर्टिफिकेट कैसे हासिल करें

CA का सर्टिफिकेट हासिल करने के लिए आपको सबसे पहले आपको यह चुनना होगा कि आप CA की परीक्षा में कब बैठना चाहते है अर्थात 12वीं के बाद या स्नातक के बाद अगर आप 12वीं के बाद बैठना चाहते हैं तो आपको सबसे पहले फाउंडेशन कोर्स की परीक्षा उसके बाद सीपीटी परीक्षा देनी होगी तत्पश्चात आप फाइनल परीक्षा के लिए बैठ सकते हैं और फाइनल परीक्षा के बाद आपको CA की सर्टिफिकेट मिल जाएगी। 

अगर आप स्नातक की डिग्री पूरा करने के बाद CA का कोर्स करना चाहते है तो सबसे पहले आपको ICITSS की परीक्षा देनी होगी उसके बाद आपसी एक पहाड़ नल परीक्षा में बैठकर CA का सर्टिफिकेट हासिल कर सकते हैं।

CA का सर्टिफिकेट हासिल करने से पहले आपको एक बात याद रखनी जरूरी है कि फाइनल परीक्षा में आप तभी बैठ सकते है जब आपने 3 साल की ट्रेनिंग पूरी की हो अर्थात अपने सभी परीक्षा को पास करने के बाद आपको 3 साल की ट्रेनिंग करनी होगी जब आप की ट्रेनिंग खत्म होने में 6 महीना बाकी रहेगा तब आप CA की फाइनल परीक्षा में बैठ सकते हैं। 

अगर आप 3 साल की ट्रेनिंग और अपनी सभी परीक्षाओं में अच्छे अंको से उत्तीर्ण कर ली है तब फाइनल परीक्षा पास करने के बाद आपको यह का सर्टिफिकेट दे दिया जाएगा जिसके बाद आप किसी कंपनी में या अपना ऑफिस खोल कर CA की नौकरी कर सकते हैं। 

CA की सैलेरी कितनी होती हैं

CA के बारे में सभी जानकारी विस्तार पूर्वक पाने के बाद आपको अगर जानना है की CA की सैलरी या तनख्वाह कितनी होती है तो यह नीचे विस्तार पूर्वक बताया गया है। याद रखें CA की सैलरी अनुभव कौशल के साथ-साथ किस कंपनी के साथ हो जुड़ा है इस बात पर भी निर्भर करती हैं। 

जब आप एक नए या फ्रेशर CA रहेंगे तब आपकी सैलरी 600000 से 700000 साल आना होगी अर्थात ₹40000 से ₹60000 महीना और बाद में जब आपको कुछ अनुभव हो जाएगा तो अनुभव और कौशल के आधार पर आपकी तनख्वाह 1200000 से 1500000 सालाना अर्थात ₹100000 महीना कर दी जाएगी। 

CA के बारे में पूछे जाने वाले प्रश्न

यहाँ पर मैंने ऐसे पांच सवालों के जवाब दिए है जो की अक्सर लोग CA के बारे में पूछते रहते हैं।

Q. CA कौन होता हैं?

CA वो व्यक्ति होता है जो वित्तीय संबंधित सुझाव देता है साथ ही किसी व्यापार के अकाउंटिंग और टैक्स से जुड़े हिसाब किताब को देखता हैं। 

Q. CA किसके लिए काम करता हैं?

CA किसी बड़ी दुकान या शोरूम के साथ-साथ बड़ी-बड़ी कंपनियों के लिए भी काम करता है। CA अपना ऑफिस भी खोल कर काम करता है जहां वह इस बात कौन निश्चित करता है कि उसके उसके ग्राहक को ज्यादा से ज्यादा मुनाफा और कम से कम टैक्स देना पड़े। 

Q. CA बनने में कितना वर्ष लगता हैं?

CA की परीक्षा साल में होती है और 3 साल की ट्रेनिंग भी होती है जिसे जोड़कर 4 से 5 साल तक का समय लगता हैं।

Q. CA की कितनी सैलरी होती हैं?

CA की तनख्वाह उसके अनुभव और कौशल पर निर्भर करती है अगर कोई नया CA है तो उसे ₹40000 से ₹50000 महीना और अनुभवी CA को ₹100000 महीने तक भी मिलता हैं।

यह भी पढ़ें

निष्कर्ष

अगर आपको CA Kaise Bane लेख हेल्पफुल रहा है तो फिर आप यह लेख अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करना। इसके अलावा अगर आपको इस लेख से सम्बंधित कोई भी जानकारी चाहिए तो उसके लिए आप निचे कमेंट बॉक्स का इस्तेमाल कर सकते हैं। 

Abhishek Maurya

मेरा नाम अभिषेक मौर्य है और मैं उत्तर प्रदेश वाराणसी डिस्ट्रिक्ट का रहने वाला हूं और मैं एक दिव्यांग हूं। मुझे अलग-अलग विषयों पर आर्टिकल लिखना बहुत अच्छा लगता है और इसी को मैंने अपना जुनून बनाया है। मैं पिछले 3 वर्षों से आर्टिकल लेखन का कार्य कर रहा हूं। आपको हमारे द्वारा लिखे गए लेख कैसे लगते हैं? आप हमें कमेंट बॉक्स में अवश्य बताएं। मेरा भी एक हिंदी ब्लॉग है जिस पर मैं रिलेशनशिप के ऊपर आर्टिकल लिखता हूं जिसका यूआरएल इस प्रकार से है। माय वेबसाइट यूआरएल - https://hindibaatchit.com/

Leave a Reply