CCC क्या है – CCC के के बारे में पूरी जानकारी जानिए हिंदी में

आज कंप्यूटर हमारे जीवन का एक अभिन्न हिस्सा बन चुका है। वर्तमान समय में कंप्यूटर के क्षेत्र में नौकरी की संभावनाएं बड़ी तेजी से बढ़ रही है। यही कारण है कि कंप्यूटर के क्षेत्र में लोगों आज विभिन्न प्रकार कोर्स करना चाहते है। CCC एक ऐसा हि प्रचलित कंप्यूटर कोर्स है। अगर आप नहीं जानते कि CCC Kya Hai और इस कोर्स के जरिए आने वाले समय में आपके समक्ष कितने प्रकार के अवसर आ सकते है तो हमारे इस लेख के साथ अंत तक बनी रहे।

कंप्यूटर कोर्स की मांग बड़ी तेजी से बढ़ रही है क्योंकि कंप्यूटर हमारे जीवन शैली को आसान बनाता है। आज हर तरह के उद्योग में कंप्यूटर एक आवश्यक यंत्र बन चुका है। अगर आप कंप्यूटर के उपयोग और आवश्यकता को सही तरीके से समझते हुए इस यंत्र को चलाना चाहते है तो आपको इसके कांसेप्ट अच्छे से क्लियर होने चाहिए। इसके लिए CCC एक बेहतरीन कंप्यूटर कोर्स है। इस लेख में हम आपको बताएंगे कि CCC Kya Hai, CCC कैसे करें, और CCC करने से आपको किस तरह के लाभ हो सकते है। तो इस कोर्स से जुड़ी सभी प्रकार की जानकारी को अच्छे से समझने के लिए अंत तक हमारे लेख को पढ़ें।

CCC क्या है

CCC का मतलब कंप्यूटर अवधारणा पाठ्यक्रम होता है। इस कोर्स का उद्देश्य कंप्यूटर पाठ्यक्रम को सही तरीके से समझाना है। आज सरकारी नौकरी के क्षेत्र में भी कंप्यूटर के ज्ञान की महत्वता बढ़ गई है। CCC किसी सरकारी नौकरी में कंप्यूटर के ज्ञान को दर्शाने के लिए भी मान्य है। इस कोर्स के सर्टिफिकेट को किसी भी सरकारी नौकरी में प्रस्तुत कर सकते है और कंप्यूटर या टेक्नोलॉजी के क्षेत्र में पदोन्नति पा सकते हैं।

इस कोर्स की मान्यता इसलिए भी बहुत अधिक है क्योंकि इसे एक सरकारी संस्था द्वारा संपन्न करवाया जाता है। CCC कोर्स को NIELIT (National Institute of Electronics & Information Technology) के द्वारा संपन्न करवाया जाता है। सरकारी संस्था के द्वारा करवाए जाने वाले कोई भी कोर्स किसी भी तरह की नौकरी के लिए बहुत अधिक मान्यता रखते है। इसलिए अगर आप कंप्यूटर के क्षेत्र में किसी कोर्स के जरिए अपना करियर शुरु करना चाहते है, तो यह कोर्स आपके लिए बेहतरीन साबित हो सकता है।

CCC का फुल फॉर्म क्या है

CCC का फुल फॉर्म Course on Computer Concept होता है।

यह एक बहुत ही आवश्यक और प्रचलित कंप्यूटर कोर्स है। अगर किसी भी सरकारी या प्राइवेट नौकरी में पदोन्नति के लिए कंप्यूटर जानकारी की आवश्यकता है तो आप इस कोर्स को कर सकते है। इस कोर्स में आपको कंप्यूटर से जुड़ी सभी आवश्यक जानकारी दी जाती है ताकि आप एक कंप्यूटर का सही तरीके से इस्तेमाल कर सकें।

CCC का एडमिशन कैसे लें

अगर आप इस कोर्स में अपना दाखिला करवाना चाहते हैं तो इसके लिए मुख्य रूप से दो तरीके मौजूद है। पहला परीक्षा दे कर डायरेक्ट एडमिशन और दूसरा किसी प्राइवेट संस्था के जरिए। अगर आप इस कोर्स में अपने एडमिशन किसी प्राइवेट संस्था के जरिए करवाते है तो आवश्यक है कि आपको पहले से कंप्यूटर की कुछ जानकारी होनी चाहिए क्योंकि वहां इस कोर्स का स्तर उतना अच्छा नहीं होगा। हालांकि प्राइवेट संस्था से इस कोर्स को खत्म करने के लिए आपको किसी भी प्रकार के परीक्षा को पास करने की आवश्यकता नहीं है। आपको इस कोर्स के बारे में कितना अच्छा पढ़ाया जा रहा है यह प्राइवेट संस्था के रेपुटेशन पर निर्भर करता है।

इसके अलावा इस कोर्स को आप किसी सरकारी संस्था के जरिए भी कर सकते है। इस कोर्स को मुख्य रूप से सरकारी संस्था से मान्यता प्राप्त है, मगर किसी भी सरकारी संस्था से इस कोर्स को पूरा करने के लिए आपको एक परीक्षा पास करनी होगी। उस परीक्षा की जानकारी नीचे दी गई है।

CCC कोर्स करने के लिए परीक्षा

NIELIT एक सरकारी संस्था है और इस संस्था के द्वारा CCC का एग्जाम पूरे साला आयोजित करवाया जाता है आप साल में कभी भी इस कोर्स के लिए इनके आधिकारिक वेबसाइट के जरिए आवेदन कर सकते है। इनके आधिकारिक वेबसाइट पर ऑनलाइन फॉर्म भरते वक्त था आपको अपना शहर और एग्जाम का महीना चुनना होगा और उस महीने आपको इस एग्जाम को पूरा करना है।

एडमिट कार्ड मिलने के बाद आपको अपने द्वारा चयनित शहर में बताए गए तारीख और समय पर पहुंचना है और NIELIT CCC की परीक्षा को संपन्न करना है। इस परीक्षा में आपसे कंप्यूटर से जुड़े 100 सवाल पूछे जाते है, इस परीक्षा में प्रत्येक सवाल एक अंक का होता है मतलब परीक्षा 100 अंक की होती है। अगर आपको यह कोर्स NIELIT की सरकारी संस्था से पूरी करनी है तो आप को कम से कम 50% अर्थात 50 मार्क्स लाना अनिवार्य है। इस परीक्षा में किसी भी तरह की नेगेटिव मार्किंग नहीं होती है मगर जिस व्यक्ति का 100 में से 50 अंक नहीं आता उसे फेल घोषित किया जाता है।

इस परीक्षा को पास करने के बाद आप NIELIT के द्वारा मान्यता प्राप्त किसी भी संस्था के साथ अपने कोर्स को पूरा कर सकते है। आपको अपने पहचान पत्र के साथ एक आवेदन फॉर्म भर कर किसी भी मान्यता प्राप्त संस्था में जमा करवाना है और उसके बाद आप इस कोर्स के लिए चयनित किए जाएंगे।

CCC कोर्स करने के लिए एलिजिबिलिटी क्राइटेरिया

वैसे तो भारत में किसी भी तरह के कोर्स को करने के लिए कोई एलिजिबिलिटी क्राइटेरिया नहीं रखी गई है। मगर इस कोर्स को समझने के लिए आपके पास पहले से कुछ जानकारी होनी चाहिए जिसके आधार पर कुछ न्यूनतम एलिजिबिलिटी क्राइटेरिया बनाई गई है जिस विषय में नीचे सूचीबद्ध किया गया है– 

CCC करने के लिए योग्यता

  • इस कोर्स में अपना दाखिला करवाने के लिए आप को न्यूनतम दसवीं कक्षा पास करनी होगी। आप किसी भी अंक से दसवीं कक्षा पास करने के बाद इस कोर्स में आवेदन कर सकते हैं।
  • आपको कंप्यूटर के बारे में कुछ साधारण जानकारी होनी चाहिए ताकि आप इस कोर्स को ज्यादा बेहतर तरीके से समझ पाए।

CCC करने के लिए आयु

भारत में किसी भी कोर्स को करने के लिए सरकारी तौर पर किसी उम्र सीमा का जिक्र नहीं किया गया है। मगर जगह किसी प्राइवेट संस्था या कुछ सरकारी संस्था से इस कोर्स को करेंगे तो आप की न्यूनतम उम्र है सीमा देखी जाएगी। इसके आधार पर ट्रिपल सी का कोर्स करने के लिए आप की न्यूनतम उम्र सीमा 15 वर्ष होनी चाहिए।

CCC कोर्स के लिए सिलेबस

CCC का पूरा कोर्स उस व्यक्ति के लिए डिजाइन किया गया है जिसे कंप्यूटर की समझ नहीं है। इसलिए इस कोर्स में कंप्यूटर की कुछ बेसिक जनक्रियों के बारे में विस्तार से बताया है।

Day 1 – Introduction to Computer

Day 2 – Introduction to Operating System

Day 3 – Word Processing

Day 4 – SpreadSheet

Day 5 – Presentation

Day 6 – Introduction to Internet and WWW

Day 7 – E-mail, Social Networking and e-Governance Services

Day 8 – Digital Financial Tools and Applications

Day 9 – Overview of Future Skills & Security

इस कोर्स को आप कुछ ही दिनों में कंप्यूटर की बेसिक जानकारियों को समझते हुए पूरा कर लेंगे। इसके बाद कंप्यूटर का सारा बेसिक कांसेप्ट अच्छे से क्लियर हो जायेगा।

CCC कितने महीने में होता है

यह कोर्स 2 महीने 20 दिन में पूरा हो सकता है। सरल शब्दों में यह 80 दिन का कोर्स है जिसे रोजाना 1 घंटे देने पर आप 80 घंटे में पूरा कर सकते है। इस 80 घंटे के कोर्स में को 25 घंटे थ्योरी, 5 घंटे टुटोरिअल, और 50 घंटे प्रैक्टिकल के रूप में बांटा गया है।

इस कोर्स को पूरा करने की अवधि अलग अलग संस्था में थोड़ी कम या ज्यादा हो सकती है। मगर रोजाना 1 घंटे की तैयारी करने पर 80 घंटे अर्थात 80 दिन के अंदर आप इस कोर्स को पूरा खत्म कर सकते है। अगर आप रोज एक घंटा CCC की पढ़ाई करते है, तो 2 महीने 20 दिन में यह कोर्स पूरा हो जाएगा आपको अपने पढ़ने की अवधि के अनुसार इस कोर्स की अवधि को कम या ज्यादा कर सकते है।

CCC कोर्स की फीस कितनी होती है

जैसा कि आपको पता है इस कोर्स को करने के लिए आपको एक परीक्षा पास करनी होती है। कोर्स के फीस के रूप में आपको केवल उस परीक्षा फॉर्म के आवेदन शुल्क को जमा करना है। आप इस कोर्स के लिए ऑनलाइन आवेदन कर सकते है और इसके लिए एग्जाम फीस के रूप में ₹500 + GST का किसी भी ऑनलाइन पेमेंट प्रक्रिया से भुगतान करना है।

परीक्षा के लिए आवेदन करने के बाद आपको परीक्षा में 50% से अधिक अंक लाना है। अगर आप ऐसा कर पाते है, तो इस कोर्स को पूरा करने तक आपको किसी भी तरह का अन्य शुल्क नहीं देना है। अगर आप परीक्षा के लिए निर्धारित समय पर आवेदन नहीं कर पाते तो इस कोर्स के लिए विलंब शुल्क के साथ आवेदन करने का कोई प्रावधान नहीं है।

CCC करने के बाद जॉब कैसे पाए

आपको अब तक यह पता चल गया होगा कि CCC एक डिप्लोमा कोर्स है। इस कोर्स के जरिए आप कंप्यूटर से जुड़ी कुछ बेसिक जानकारियों को समझ पाएंगे। वर्तमान समय में अगर आपको कंप्यूटर से जुड़ी सही जानकारी नहीं है तो आप बहुत सारी सरकारी और प्राइवेट नौकरियों के लिए आवेदन नहीं कर पाएंगे। CCC एक आवश्यक कोर्स है जिसे करने के बाद मिलने वाली कुछ अच्छी नौकरी की सूची – 

  • आप गवर्नमेंट के SSC, BRO, और विभिन्न शाखाओं में टेक्नोलॉजी के क्षेत्र से जुड़ी नौकरी पा सकते है।
  • इसके अलावा इस कोर्स के जरिए मेट्रो ट्रेन विभाग में नौकरी मिलना आसान है। 
  • आप बैंक में भी विभिन्न प्रकार की नौकरियों को इस कोर्स के जरिए प्राप्त कर सकते है।
  • प्राइवेट कंपनी में इस कोर्स के जरिए कलर को और अकाउंटेंट नौकरी आसानी से मिल सकती है।
  • इसके अलावा किसी कंपनी में टेक्नोलॉजी के क्षेत्र में विभिन्न प्रकार की नौकरी के लिए आवेदन किया जा सकता है।

 आपको ऊपर बताए गए नौकरी के क्षेत्र के लिए उनके आधिकारिक वेबसाइट से या उनके कार्यालय से ऑनलाइन या ऑफलाइन आवेदन करना है। उसके बाद अपने CCC सर्टिफिकेट और इंटरव्यू के आधार पर नौकरी हासिल करनी है।

CCC करने के फायदे

अगर आप इस कोर्स को सही तरीके से संपन्न करते हैं और कंप्यूटर से जुड़ी सभी प्रकार की जानकारी को समझते है तो इसके मुख्य फायदों को नीचे सूचीबद्ध किया गया है – 

  • इस कोर्स को करने के बाद आप बहुत सारी सरकारी नौकरियों के लिए टेक्नोलॉजी फील्ड में आवेदन कर सकते है। 
  • इस कोर्स को सही तरीके से पूरा करने के बाद आप मेट्रो ट्रेन विभाग में आसानी से नौकरी पा सकते हैं।
  • आज बहुत सारी प्राइवेट नौकरियों में केवल कंप्यूटर की जानकारी के आधार पर नौकरी मिलती है ऐसी परिस्थिति में यह कोर्स आपको किसी भी प्राइवेट नौकरी में अच्छी नौकरी दिलाने में मदद करेगा।
  • चाहे आप किसी भी क्षेत्र में नौकरी कर रहे हो यह कौन सा आपके पदोन्नति के लिए आवश्यक है।

CCC करने के नुकसान

अगर ऊपर बताई गई जानकारियों को पढ़ने के बाद आपको इस कोर्स के बारे में सब कुछ अच्छे से समझ पाए है। तो आपको बता दें कि इस कोर्स को करने में किसी भी तरह का नुकसान नहीं है। मगर इस कोर्स को करने के दौरान आपको किस तरह की परेशानी आ सकती है उसके आधार पर कुछ नुकसान को सूचीबद्ध किया गया है –   

  • अगर आपको कंप्यूटर के बारे में कोई जानकारी नहीं है तो इस कोर्स को पूरा करने में थोड़ा अधिक वक्त लग सकता है।
  • यह कोर्स केवल आपको कंप्यूटर की बेसिक जानकारी देता है।
  • किसी सरकारी या निजी कंपनी में इस कोर्स के आधार पर उच्च पद प्राप्त नहीं कर सकते।
  • इस कोर्स में आपको किसी भी तरह के कंप्यूटर भाषा का ज्ञान नहीं दिया जाता है केवल कंप्यूटर के इस्तेमाल के बेसिक कांसेप्ट को सिखाया जाता है।

निष्कर्ष

अगर आपको CCC Kya Hai लेख हेल्पफुल रहा है तो फिर आप यह लेख अपने दोस्तों के साथ शेयर जरूर करना और इसके अलावा अगर आपको इस लेख से संबंधित कोई भी जानकारी चाहिए तो उसके लिए आप नीचे कमेंट बॉक्स का इस्तेमाल कर सकते हैं।

Junaid Bashir

Hi friends!! मेरा नाम Junaid Bashir है और मैं इस ब्लॉग का मालिक हूँ। इसके साथ-साथ मैंने इस ब्लॉग इसलिए बनाया है। क्योंकि मुझे लोगों की मदद करना बहुत ही अच्छा लगता है और अगर आप मेरे बारे में विस्तार से जानना चाहते है तो फिर उसके लिए आप इस ब्लॉग का About Us पेज पढ़ सकते हैं।

Leave a Reply