Chemistry क्या है और इसे हिंदी में क्या कहते हैं

एक प्रश्न इंसान के दिमाग में आया कि आखिर हमारे आस पास कितने प्रकार के पदार्थ मौजूद हैऔर वह पदार्थ कैसे कार्य करते हैइन सभी सवालों का जवाब ढूंढते हुए विज्ञान की एक नई शाखा का जन्म हुआ जिसे रसायन विज्ञान या केमिस्ट्री के नाम से इस दुनिया में प्रचलिता हासिल हुई। 

यह विज्ञान की एक ऐसी शाखा है जिसमें पदार्थ के निर्माण, व्यवहार और गतिविधि के बारे में विस्तारपूर्वक जानकारी दी जाती है। अगर आप विज्ञान के छात्र हैया विज्ञान में रुचि रखते है तो Chemistry Kya Hai के बारे में समझना आवश्यक है। आज यह इंसानी सभ्यता के विकास का एक अभिन्न अंग बन चुका है जिसके बारे में विस्तार पूर्वक जानकारी आज के लेख में दी गई हैं। 

किस प्रकार आज इतनी विभिन्न प्रकार के रसायन हमारे समक्ष मौजूद है जो दवाई आप खाते हैवहां से लेकर जितने हथियार आज इस्तेमाल किए जा रहे है उन सब के निर्माण में किसी न किसी प्रकार के रसायन की आवश्यकता पड़ती है जो पदार्थ के गतिविधि और निर्माण के विभिन्न सिद्धांतों को समझने के बाद इंसान को पता चला है इन सब की शुरुआत रसायन विज्ञान से हुई है और केमिस्ट्री क्या है? यह प्रश्न रसायन विज्ञान को जन्म देता है इस वजह से हर किसी को इसके बारे में विस्तार पूर्वक जानकारी होनी चाहिए। 

Chemistry क्या है

सरल शब्दों में कहें तो रसायन विज्ञान विज्ञान की एक महत्वपूर्ण शाखा है जो आपको पदार्थ के निर्माण मिश्रण गतिविधि और रसायन की विभिन्न प्रकार का ज्ञान देती है। अगर हम इस विषय की परिभाषा के बारे में चर्चा करें तो हम कहेंगे कि – यह विज्ञान की वह शाखा है जिसमें पदार्थ के निर्माण, संगठन, संरचना, गुण, गतिविधि और रासायनिक प्रक्रिया के बारे में अध्ययन कराया जाता हैं।

इस विषय के बारे में आपको विस्तार पूर्वक जानकारी 10 वीं कक्षा के बाद दी जाएगी दसवीं कक्षा तक रसायन विज्ञान के बारे में थोड़ी बहुत अध्ययन करवाई जाती है। दसवीं कक्षा तक एक बच्चा यह समझ जाता है कि पदार्थ कितने प्रकार के होते हैवह किस प्रकार संगठित होते हैऔर एक रासायनिक प्रक्रिया किस प्रकार होती है साथ ही तापमान का विभिन्न पदार्थों पर कैसा असर पड़ता है या किसी पदार्थ को बनाने के लिए उसका सूत्र किस प्रकार निर्माण किया जाता हैं।

इतने सारे अध्ययन को कहां इस्तेमाल करना है और किस प्रकार सूत्र की सटीकता का अंदाजा लगाया जाता है और विभिन्न रासायनिक अभिक्रिया ओं के बारे में विस्तार पूर्वक जानकारी आगे की कक्षाओं में बताया जाता हैं।

Chemistry का इतिहास

हर भाषा की उत्पत्ति के पीछे एक सुनहरा इतिहास छुपा होता है जो इंसानी सभ्यता में उस भाषा की जरूरत को परिभाषित करता है जिसके बाद उस भाषा की उपलब्धियां हमारे समक्ष आती हैअगर आपको इस रसायन शास्त्र की उपलब्धि आज इंसानी सभ्यता में नजर आती है तो इसका इतिहास क्या था यह समझना भी अनिवार्य है जिसके बारे में एक संक्षिप्त जानकारी नीचे दी गई हैं। 

भाषा के अध्ययन के अनुसार Chemistry शब्द का मूल Chemi है। जो प्राचीन यूनानी भाषा से संबंध रखता है जिसका अर्थ – “धातु निर्माण की यूनानी तकनीक है”। अर्थात आज से कई वर्ष पहले यूनान के कुछ अति विशिष्ट पढ़े लिखे लोगों ने किसी धातु को निर्माण करने के ऊपर कुछ अध्ययन किए और उन्होंने जिस जानकारी को संग्रह किया उसे Chemi शब्द से संबोधित किया था। 

इसके अलावा कुछ अन्य मान्यताएं भी लोगों के समक्ष आती है जिनके अनुसार भारत में रसायन विज्ञान का अर्थ परस्पर एक दूसरे से मिलना हुआ करता था। जिस प्रकार पदार्थ के आंतरिक अंश एक दूसरे से परस्पर मिलते हैतब जाकर एक नए पदार्थ की उत्पत्ति होती है इसी संदर्भ को आगे बढ़ाते हुए रसायन विज्ञान का या केमिस्ट्री का एक अर्थ – “परस्पर एक-दूसरे से मिलना” भी दिया गया हैं।

इस विषय से जुड़ी एक और रोचक बात लोगों के समक्ष आई है कि चीन में किसी पदार्थ के रूप परिवर्तन के ऊपर अध्ययन किया गया और किसी पदार्थ के रूप परिवर्तन के अध्ययन को chemy शब्द से संबोधित किया गया था जो आगे चलकर केमिस्ट्री शब्द की उत्पत्ति का कारण बनता हैं।

केवल चीन में ही नहीं स्पेनिश भाषा में भी किसी पदार्थ के रूपांतरण के लिए खास अध्ययन किया गया था और उस अध्ययन को alchemy शब्द से संबोधित किया गया था और कुछ मान्यताएं यह कहती है कि वहीं से केमिस्ट्री शब्द की उत्पत्ति हुई थी। 

अंत में अलग-अलग खोज करता हूं ने यह पाया कि भले ही पदार्थ के रूपांतरण और उसके संबंध में अलग-अलग प्रक्रिया से अध्ययन किया गया मगर मध्य एशिया और यूरोप के कुछ भाषा से यह पता चलता है कि इस प्रक्रिया को chem शब्द से ही संबोधित किया गया था इस वजह से इस खास अध्ययन को केमिस्ट्री शब्द दिया गया। 

चाहे हम किसी भी इतिहास को सच माने मगर यह सच है कि आज से कई साल पहले विश्व के अलग-अलग कोने में अलग-अलग तरीके से किसी पदार्थ के रूपांतरण और उसके संबंध में किए गए अलग-अलग अध्ययन को केमिस्ट्री शब्द से संबोधित किया गया जो भारत में रसायनशास्त्र के नाम से प्रचलित हुआ। 

और अलग-अलग क्षेत्र में इसका अलग अलग असर देखने को मिला अंततः इस रसायन विज्ञान के शास्त्र ने इंसानी सभ्यता को अलग-अलग तरह के रसायन दवाई और हथियारों को बनाने के बारे में शिक्षा दी जो इंसानी सभ्यता के विकास का एक महत्वपूर्ण कारण बना। 

Chemistry के ब्रांच

चाहे हम किसी भी विषय के बारे में अध्ययन कर रहे हो हम एक बार में उस पूरे विषय को नहीं समझ सकते इस वजह से उसके बारे में अध्ययन करने और उस विषय से जुड़े विभिन्न प्रकार के प्रश्न को अलग-अलग ब्रांच या शाखा में विभाजित कर दिया जाता है रसायन विज्ञान में कितनी शाखाएं आती है उनके बारे में विस्तारपूर्वक जानकारी नीचे दी गई है उसे ध्यानपूर्वक पढ़ें। 

1. Analytical Chemistry

यह रसायन विज्ञान की एक मुख्य शाखा है जिसमें पदार्थ का गुणात्मक और मात्रात्मक अध्ययन किया जाता है जिसमें यह बताया जाता है कि कोई पदार्थ कितना शुद्ध है और विभिन्न पदार्थों की मात्रा को किस प्रकार नापते हैसाथी में उनकी कितनी मात्रा रखी जाती है इन सब के बारे में एक गहन अध्ययन करवाया जाता हैं।

2. Physical Chemistry

इस विज्ञान की शाखा में भौतिक विज्ञान और रसायन विज्ञान को एक साथ मिलाकर समझाया जाता है जिसमें पदार्थ तापमान पर कैसा बर्ताव करता है और विभिन्न ऊर्जा से पदार्थ के अलग-अलग मिश्रण का क्या बर्ताव होता है यह अध्ययन किया जाता है इसके साथ ही थर्मल फिजिक्स और क्वांटम फिजिक्स में रसायन विज्ञान में असर पड़ता है इसके बारे में भी समझाया जाता हैं।

3. Organic Chemistry

यह रसायन विज्ञान की सबसे प्रमुख शाखाओं में से एक है जिसमें पदार्थ किस प्रकार बनता है इसके बारे में विस्तारपूर्वक जानकारी दी जाती है कैसे एक पदार्थ बाकी पदार्थ के साथ मिलता है और उसके भीतर किस प्रकार के अंश होते हैउनके मिश्रण किस तरीके से होते हैइन सब के बारे में विस्तारपूर्वक जानकारी दी जाती है। 

रसायन विज्ञान की इस शाखा में खास रूप से कार्बन पदार्थ के बारे में बात किया जाता है क्योंकि आज तक रसायन विज्ञान में जितने भी पदार्था आए है उनमें से सबसे जटिल और सबसे अधिक प्रश्नों से जुड़ा हुआ कार्बन ही है कार्बन किस प्रकार नए पदार्थ को जन्म देता हैं।

और किस प्रकार उसके अंदर के आम से एक दूसरे के साथ जुड़े होते हैसाथ ही वह किस परिस्थिति में कैसा व्यवहार करता है और किस तरह के पदार्थ को जन्म देता है इन सब के बारे में विस्तारपूर्वक जानकारी दी जाती हैं। 

4. Inorganic Chemistry

जिस प्रकार रसायन विज्ञान में कार्बन एक ऐसा पदार्थ है जो विभिन्न प्रकार के प्रश्नों से जुड़ा हुआ है तो केवल कार्बन के लिए एक शाखा बना दी गई है इस वजह से बाकी सभी पदार्थों के ऊपर ध्यान कम ना हो जाए। 

इससे समझते हुए इस इन ऑर्गेनिक केमिस्ट्री की शाखा का निर्माण किया गया है जहां उन सभी पदार्थ के बारे में चर्चा किया जाता है जिसमें कार्बन उपस्थित नहीं होता। 

हम यह भी कह सकते हैविभिन्न प्रकार के ठोस, तरल और गैस पदार्थ जिसमें कार्बन उपस्थित नहीं होता उसे समझने के लिए रसायन विज्ञान की इस शाखा का निर्माण किया गया है। 

5. Biochemistry

प्यारे साइन विज्ञान का एक बहुत ही महत्वपूर्ण शाखा है जिसका महत्व आने वाले समय में बड़ी तेजी से बढ़ता जा रहा है। यह एक ऐसी शाखा है जो जीव जंतु में हो रहे रसायनिक अभिक्रियाओं के बारे में विस्तार पूर्वक जानकारी देती हैं। 

बायोकेमिस्ट्री में अलग-अलग प्रकार के और शाखाएं होती है जो किसी भी जीव जंतु में हो रहे रसायनिक अभिक्रिया के बारे में अलग-अलग प्रकार की जानकारी देती हैं। 

जिनमें से कुछ जीव जंतु के डीएनए के बारे में जानकारी देती है तो खुद जीव जंतु के त्वचा और उनकी बीमारियों के बारे में जानकारी देती है इस तरह बायो केमिस्ट्री में भी अलग-अलग शाखाएं बैठी हुई है। 

मगर इतना साफ है कि यह एक बहुत ही महत्वपूर्ण शाखा है जिसकी आने वाले समय में बहुत अधिक मांग बढ़ने वाली है इस शाखा के अंतर्गत रसायन विज्ञान किसी जीव के अंदर कैसे कार्य करता है यह समझाया जाता है। 

6. Food Chemistry

जैसा कि हम सब जानते है हम जो खाना खाते हैउसमें विभिन्न प्रकार किस विटामिन और मिनरल होती है वह सब भी कोई ना कोई पदार्थ से आती है और किसी प्रकार के पदार्थ से बनी हुई होती है तो उसके बारे में भी अध्ययन करना आवश्यक है इस वजह से रसायन विज्ञान में जितने भी प्रकार के खाना हम खाते हैउन सभी खाना के ऊपर रिसर्च करना काफी आवश्यक हो गया है और इसके ऊपर हो रहे अध्ययन को एक खास शाखा में बांटा गया है जिसे फूड केमिस्ट्री कहा जाता हैं। 

थाना में पाया जाने वाला प्रोटीन और कार्बोहाइड्रेट किस प्रकार हमारे शरीर में मिलता है और हमें क्या उस से हानि होती है साथी क्या लाभ होती है किस प्रकार किसी पदार्थ में कार्बोहाइड्रेट की मात्रा आती है तो किस प्रकार किसी खाना में प्रोटीन की मात्रा दी है इन सभी बातों के बारे में विस्तार पूर्वक अध्ययन के रसायन विज्ञान के इस शाखा में किया जाता हैं।

7. Environmental Chemistry

रसायन विज्ञान हमारे पर्यावरण के लिए भी काफी आवश्यक है जो सूर्य हमारे शरीर को छूता है वह हमारे शरीर में हो रही है रसायनिक अभिक्रिया ओं को तेज कर देता है इसके अलावा विभिन्न प्रकार के रसायन और पदार्थ हमारे पर्यावरण में मौजूद हैं।

जो सूर्य और चंद्रमा जैसे खगोलीय पिंडों के व्यवहार पर भी निर्भर करते हैतो किस प्रकार हमारे पर्यावरण में मौजूद विभिन्न प्रकार के रसायन कार्य करते हैऔर हमारे बीच हवा में कितनी रसायनिक अभिक्रिया हो रही है इन सभी चीजों को समझने के लिए एक खास शाखा बनाया गया है जिसे प्राकृतिक रसायन विज्ञान या एनवायरमेंटल केमेस्ट्री कहते हैं। 

निष्कर्ष

अगर आपको Chemistry Kya Hai लेख हेल्पफुल रहा है तो फिर आप यह लेख अपने दोस्तों के साथ शेयर जरूर करना और इसके अलावा अगर आपको इस लेख से संबंधित कोई भी जानकारी चाहिए तो उसके लिए आप नीचे कमेंट बॉक्स का इस्तेमाल कर सकते हैं।

Abhishek Maurya

मेरा नाम अभिषेक मौर्य है और मैं उत्तर प्रदेश वाराणसी डिस्ट्रिक्ट का रहने वाला हूं और मैं एक दिव्यांग हूं। मुझे अलग-अलग विषयों पर आर्टिकल लिखना बहुत अच्छा लगता है और इसी को मैंने अपना जुनून बनाया है। मैं पिछले 3 वर्षों से आर्टिकल लेखन का कार्य कर रहा हूं। आपको हमारे द्वारा लिखे गए लेख कैसे लगते हैं? आप हमें कमेंट बॉक्स में अवश्य बताएं। मेरा भी एक हिंदी ब्लॉग है जिस पर मैं रिलेशनशिप के ऊपर आर्टिकल लिखता हूं जिसका यूआरएल इस प्रकार से है। माय वेबसाइट यूआरएल - https://hindibaatchit.com/

Leave a Reply