CPU In Hindi – CPU कैसे काम कैसे काम करता है जानिए हिंदी में

आज हम आपको उस यंत्र के बारे में बताने जा रहे है जिसे कंप्यूटर का दिमाग कहा जाता है। हमारे शरीर में दिमाग कितना आवश्यक है यह बात तो आप जानते है मगर क्या आपको पता है कि कंप्यूटर में भी एक ऐसा यंत्र होता है जिसे कंप्यूटर का दिमाग कहा जाता है आज हम आपको बताएंगे CPU in Hindi के बारे में विस्तार से। 

CPU एक ऐसा यंत्र है जिसका इस्तेमाल कर के कंप्यूटर सभी प्रकार के कार्य कर पाता है मगर यंत्र कैसे काम करता है और इसे किसने बनाया यह जानना आवश्यक हैं।

CPU In Hindi

CPU कंप्यूटर का एक महत्वपूर्ण भाग है जिसे साधारण कंप्यूटर यूजर भी पहचानते है। इस यंत्र को माइक्रो प्रोसेसर प्रोसेसर के अलावा सीपीयू भी कहते है। जैसा कि हम जानते है कंप्यूटर बहुत सारे मशीनों को मिलाकर बनता हैं। 

CPU एक ऐसा यंत्र है जिसमे बहुत सारे विभिन्न मशीनें होती है जिनका इस्तमाल कर के कंप्यूटर को दिए जाने वाले इनपुट निर्देश और मिलने वाले आउटपुट रिजल्ट को संभालने और निर्देश अनुसार कार्य करने के लिए कुछ मशीन होते हैं। 

सरल भाषा में CPU एक यंत्र होता है जिसमें विभिन्न प्रकार की मशीनें लगी होती है जो कंप्यूटर के इनपुट और आउटपुट डाटा को संभालने के अलावा निर्देश अनुसार कार्य करने के काम करते है। बहुत सारे मशीनों को एक स्थान पर निर्देश अनुसार संभालने और कार्य करने के लिए सीपीयू को कंप्यूटर का दिमाग कहा जाता हैं। 

CPU कैसे काम करता हैं

CPU कंप्यूटर के मदरबोर्ड से जुड़ा हुआ होता है और कंप्यूटर में आने वाली सभी प्रकार की जानकारी को स्टोर करने और आदेश अनुसार कार्य करने का काम करता है जिसके लिए उसमें ALU, Cache Memory, Registers तथा FPU जैसे पार्ट्स इसके अंदर होते हैं। 

CPU में विभिन्न प्रकार की मशीनें होती है जो सीपीयू को तीन हिस्से में विभाजित करती है। पहला हिस्सा कंप्यूटर को इनपुट डाटा स्टोर करने में मदद करता है और दूसरा उन सभी इनपुट डाटा को आदेश अनुसार कार्य करने में मदद करता है जिसके बाद डाटा पर काम करके रिजल्ट दिया जाता हैं।

CPU में जितनी भी मशीनें होती है उन्हे तीन हिस्सों में विभाजित किया गया है जो सीपीयू के सभी काम को अच्छे से करने में मदद करती है और उन सभी भाग के बारे में नीचे विस्तार पूर्वक बताया गया हैं। 

CPU का फुल फॉर्म इन हिंदी

CPU का फुल फॉर्म Central Processing Unit होता हैं। 

इस फूल फार्म के जरिए आप यह समझ सकते है की CPU एक ऐसा यंत्र है जो कंप्यूटर का मुख्य भाग है और यह सभी प्रकार के इनपुट डाटा पर कार्य किया जाता है ताकि आदेश अनुसार आउटपुट मिल सके। 

सबसे पहले कंप्यूटर बहुत बड़े आकार का होता था क्योंकि सभी प्रकार के मशीन है कंप्यूटर के अंदर होती थी जिस वजह से कंप्यूटर को मैनेज करना काफी मुश्किल हो जाता था इस बात को समझते हुए इटली के भौतिक शास्त्री Federico Faggin वो पहले इंसान थे जिन्होंने सीपीयू बनाने का ख्वाब देखा और उसमें सफल भी हुए। 

Federico Faggin ने कंप्यूटर में मौजूद उन सभी मशीनों को बाहर निकाला जिससे इनपुट डाटा को स्टोर किया जाता था और उन पर कार्य किया जाता था उन्होंने उन सभी मशीनों को अलग-अलग हिस्से में विभाजित कर के एक डिब्बे में बंद कर दिया जिसका नाम CPU दिया आगे चलकर सुविधा के अनुसार इस मशीन में बदलाव किए गए और आज हमें अपना वर्तमान सीपीयू मिला साथ ही कंप्यूटर का आकार भी छोटा हो गया। 

यह भी पढ़ें

टाइप्स ऑफ़ सीपीयू इन हिंदी

CPU भी बहुत तरह के होते है जैसा कि हमने आपको बताया CPU का खोज कम्प्यूटर को आकार में छोटा बनाने के लिए किया गया था। जैसे-जैसे कंप्यूटर ने प्रगति की उसमें काफी बदलाव किए गए और सीपीयू भी विभिन्न प्रकार के हमारे बीच आए आज इस लेख में हम आपको सभी प्रकार के सीपीयू के बारे में बताएंगे। 

आपको बता दें की बाजार में हम कंप्यूटर के प्रोसेसर को जिस नाम से बुलाते है वही CPU का प्रकार होता है। अगर अपने i3, i5, i7, या i9 बाजार में सुना है तो ये सब CPU के प्रकार माने जाते हैं। 

मगर आपको बता दें की ये सब CPU के नाम है जिसे Intel कंपनी द्वारा बनाया गया है। यह कंपनी प्रसिद्ध होने के कारण CPU को लोग इस कंपनी के नाम से जानने लगे है। इंटेल के अलावा और भी विभिन्न प्रकार की कंपनियां है जो सीपीयू बनाने का कार्य करती है जिस वजह से आप कंपनी द्वारा बनाए गए सीपीयू के नाम को सीपीयू का प्रकार नहीं कह सकते। 

i3, i5, और i7 सीपीयू के नाम है जिसे इंटेल कंपनी के द्वारा बनाया गया है इसके प्रकार को इस लेख में नीचे विस्तारपूर्वक समझाया गया हैं।  

सीपीयू के प्रकार को कोर के नाम से जानते है और कुल 6 प्रकार के सीपीयू होते हैं जिनके बारे में नीचे विस्तार पूर्वक बताया गया है। 

1. Single Core CPU

इस CPU का इस्तमाल बहुत पहले किया जाता था। इस सीपीयू के काम करने की रफ्तार काफी कम हुआ करती थी सिंगल कोर सीपीयू एक समय में एक ही काम कर पाता था अर्थात जब आप कोई एक निर्देश देंगे तो सीपीयू पहले उस निर्देश को पूरा करेगा उसके बाद ही किसी दूसरे काम को कर पाएगा। 

इस सीपीयू में बहुत सारी परेशानियां थी जिस वजह से इसका इस्तेमाल धीरे-धीरे बंद हो गया। 

2. Dual Core CPU

Dual core एक खास किस्म का सीपीयू था जिसे दो मजबूत कोर की मदद से बनाया गया था यह सीपीयू एक साथ दो काम कर सकता था और इस वजह से सिंगल कोर को मार्केट से खत्म करने में कारगर साबित हुआ डुअल कोर सीपीयू की मदद से एक से ज्यादा काम अपने कंप्यूटर में एक साथ कर सकते थे। 

मगर आज हम dual-core का इस्तेमाल नहीं करते क्योंकि यह सिंगल कोर से तेज तो है मगर ज्यादा तेज काम नहीं कर पाता। 

3. Quad Core CPU 

यह एक प्रसिद्ध सीपीयू था इसका इस्तेमाल मार्केट में काफी समय तक चला यह किसी सिंगल कोर सीपीयू के मुकाबले 4 गुना ज्यादा तेज काम कर सकता था इस सीपीयू में चार अलग-अलग कोर थे जो सीपीयू में होने वाले काम को अलग-अलग हिस्सों में विभाजित कर देते थे जिससे सीपीयू जल्दी काम कर पाता था। 

हम ने 2005 से 2010 के बीच जितने भी सीपीयू को देखा वह सब क्वॉड कोर सीपीयू ही थे इनका इस्तेमाल इसके बाद भी लंबे समय तक चला मगर आजकल बाजार में हम क्वॉड कोर सीपीयू नहीं देखते हैं। 

4. Hexa Core CPU

यह भी काफी प्रसिद्ध सीपीयू का प्रकार था जो लंबे समय तक मार्केट में चला यह एक ओर से बना हुआ था और बहुत सारे काम को एक साथ करने में सक्षम था इस सीपीयू के माध्यम से हम कई सारे काम एक साथ अपने कंप्यूटर में कर सकते थे और सभी काम एक बराबर स्पीड से होते थे।

2010 में इंटेल ने i7 लॉन्च किया जो सीपीयू हेक्सा कोर सीपीयू के ऊपर आधारित था यह पहली बार था जब हेक्सा कोर सीपीयू को किसी पर्सनल कंप्यूटर में इस्तेमाल किया गया लोगों का रिव्यू काफी अच्छा रहा और सीपीयू ने बाजार में काफी प्रसिद्धि हासिल की आज के समय में हम हेक्सा कोर सीपीयू को अलग-अलग मोबाइलों में भी देख रहे हैं। 

5. Octa core CPU

यह भी एक प्रसिद्ध सीपीयू है जिसका इस्तेमाल हम आजकल अपने रोजमर्रा के जीवन में कर रहे है। यह एक ऐसा CPU है जो 8 विभिन्न कोर से मिलकर बना है। इस सीपीयू में हम एक से ज्यादा कार्य कर सकते हैं और वह सभी कार्य काफी तेजी से होते है इंटेल के द्वारा लांच किया गया i7 or i8 एक octa core CPU हैं। 

6. Deca Core CPU

अभी सबसे लेटेस्ट जो सीपीओ बाजार में चल रहा है वह डेका कोर सीपीयू है यह सीपीयू 10 तरह के कोर से मिलकर बना है जो अब तक के बने हुए सभी सीपीयू में सबसे मजबूत और बहुत सारे काम को एक साथ करने और काफी तेज रफ्तार के लिए प्रसिद्ध हैं।

इंटेल कंपनी के द्वारा लांच किया गया i9 CPU इसी डेका कोर सीपीयू का प्रकार हैं। 

पार्ट्स ऑफ़ सीपीयू इन हिंदी

CPU कैसे काम करता है यह समझाते वक्त हमने आपको बताया था कि सीपीयू बहुत सारे मशीनों के मिलने से काम करता है और उन सभी मशीनों को सीपीयू के अंदर अलग-अलग नाम और भाग से विभाजित किया जाता है ताकि काम करने और समझने में आसानी हो अब हम आपको यह पता नहीं चाह रहे है कि कंप्यूटर के सीपीयू में कितने पार्ट या भाग होते हैं। 

कंप्यूटर के CPU का तीन पार्ट्स होता हैं। 

  • Memory 
  • Control Unit 
  • ALU

1. Memory

सीपीयू का एक ऐसा होता है मेमोरी जिसे आप कंप्यूटर का भंडार कह सकते है यह वह जगह होता है जहां कंप्यूटर अपने सभी इनपुट और आउटपुट डाटा को जमा करता है जब भी आप कंप्यूटर को कोई निर्देश देते है कंप्यूटर उस निर्देश को सबसे पहले मेमोरी के हिस्से में जमा कर देता है ताकि वक्त आने पर वह इसका जरूरत के अनुसार इस्तेमाल कर सके। 

आम भाषा में आप यह कह सकते है कि सीपीयू का एक हिस्सा होता है मेमोरी जहां निर्देश अनुसार कार्य करने के लिए सभी डाटा को जमा किया जाता है और जो भी डाटा काम करने के बाद आता है उसे भी मेमोरी में ही रखा जाता हैं।

2. Control Unit

सीपीयू का यह दूसरा सबसे महत्वपूर्ण भाग होता है इस भाग में सीपीयू कंप्यूटर को यह बताता है की मिले हुए इनपुट पर किस तरह से कार्य करना है। अर्थात हम कंप्यूटर को जो भी निर्देश देते हैं वह कंट्रोल यूनिट में जाता है और वहां से सीपीयू कंप्यूटर में मौजूद सभी इनपुट और आउटपुट डिवाइस को यह बताता है कि आदेश अनुसार कैसे कार्य करना हैं। 

साधारण भाषा में आप यह कह सकते है कि कंट्रोल यूनिट कंप्यूटर का मैनेजर होता है जो कंप्यूटर में दिए गए सभी निर्देशों को किस प्रकार पालन करना है यह बात बाकी मशीनों को समझाता हैं।

3. ALU

यह CPU का अकीरी सबसे महत्वपूर्ण हिस्सा है, इस का फुल फॉर्म होता है Arithmetic Logical Unit है, यह एक ऐसा खास हिस्सा है जिसका इस्तेमाल गणित क्रिया करने के लिए होता है। ALU की मदद से सीपीयू सभी डाटा को छांटना, बांटना और समय पर अपने यूजर को सही डाटा पहुंचाने का कार्य करता है इसके अलावा ALU का मुख्य रूप से इस्तेमाल गणित काम करने के लिए होता है जैसे जोड़ना, घटाना, गुणा करना। 

CPU के विशेषताएं

सीपीयू की कुछ खास और महत्वपूर्ण विशेषताओं के बारे में नीचे विस्तार पूर्वक बताया गया है उन्हें ध्यान से पढ़ें। 

सीपीयू में Cache मेमोरी होती है: सीपीयू के सभी विशेषताओं में यह विशेषता सबसे महत्वपूर्ण है क्योंकि सीपीयू में एक छोटा सा मेमोरी होता है जिसे कैच कहते है जिसकी मदद से सीपीयू बहुत सारी जानकारी को अपने अंधेरे स्टोर करके रख पाता है। यह कैच मेमोरी कंप्यूटर में लेयर 1 और layer 2 कर के बहुत सारे लेयर में फैली होती है जो बहुत सारी जानकारी को एक समय पर स्टोर करके रखने का काम करती हैं। 

सीपीयू में बहुत सारे कोर होते है: अगर आपने ऊपर सीपीयू के प्रकार के बारे में पढ़ा होगा तो आपको कोर की अहमियत समझ आ गई होगी और की इस वजह से सीपीयू बहुत सारे कार्य को एक साथ कर पाता है हर कोर के पास अपना कैच मेमोरी होता है जिस वजह से हर कोर अपने डाटा को स्टोर करता है और अलग-अलग तरह के कोर अलग-अलग तरह के काम को एक साथ कर पाते है। पहले के समय में एक कोर एक काम को ही कर पाता था मगर धीरे-धीरे कोर की छमता को भी बढ़ा दिया गया आज जिस सीपीयू का इस्तेमाल हम अपने रोजमर्रा के जीवन में करते है वह कम से कम आठ कोर से बना हुआ होता हैं।

सीपीयू की रफ्तार (speed): कोर की वजह से सीपीयू में रफ्तार आता है और सीपीयू के काम करने का रफ्तार ही सीपीयू का दूसरा सबसे मुख्य विशेषता है। आज कंप्यूटर का मुख्य तौर पर इस्तेमाल इसकी रफ्तार की वजह से ही होता है कंप्यूटर किसी भी कार्य को बहुत जल्दी कर सकता है तो हम यह कह सकते हैं कि कंप्यूटर की मुख्य विशेषताओं में इसकी रफ्तार भी एक स्थान रखती हैं। 

सीपीयू के (Bandwidth): सीपीयू में बहुत सारी मशीनें होती है और वह मशीन मदर बोर्ड से जुड़ी हुई होती है हम बहुत सारी मशीनों को तार के माध्यम से भी जोड़ते है। सीपीयू में दो मशीनों के बीच जिस रफ्तार से कम्युनिकेशन होता है उसे bandwidth कहा जाता है अर्थात जब हम माउस को सीपीयू से जोड़ते है तो वह माउस कितनी जल्दी अपना काम करना शुरू करता है यह सीपीयू के क्वालिटी पर निर्भर करता हैं।

अर्थात सीपीयू बाकी सारे मशीनों को कितनी जल्दी निर्देश देता है और आपका दिया हुआ इनपुट रिजल्ट बनकर आपके आगे कितनी जल्दी आता है यह सीपीयू की एक महत्वपूर्ण विशेषता है जिसे हम नजर अंदाज नहीं कर सकते। 

CPU के बारे में पूछे जाने वाले प्रश्न

यहाँ पर मैंने ऐसे पांच सवालों के जवाब दिए है जो की अक्सर लोग सीपीयू के बारे में पूछते रहते हैं।

Q. सीपीयू का आविष्कार किसने किया?

सीपीयू का आविष्कार इटली के एक भौतिक शास्त्र Federico Faggin ने किया था। 

Q. सीपीयू का फुल फॉर्म क्या हैं?

सीपीयू का फुल फॉर्म Central Processing Unit होता हैं।

Q. सीपीयू का इस्तेमाल क्यों करते हैं?

CPU कंप्यूटर में मौजूद विभिन्न प्रकार के मशीनों को नियंत्रित करती है और आदेश अनुसार कार्य करने में मदद करती है, जिस वजह से सीपीयू कंप्यूटर का सबसे महत्वपूर्ण हिस्सा बन जाता हैं।

Q. कौन सा सीपीयू सबसे अच्छा होता हैं?

आज के समय में इंटेल कंपनी का बनाया हुआ आईना i9 सबसे अच्छा सीपीयू माना जाता हैं।

यह भी पढ़ें

निष्कर्ष

अगर आपको Generation Of Computers In Hindi लेख हेल्पफुल रहा है तो फिर आप यह लेख अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करना। इसके अलावा अगर आपको इस लेख से सम्बंधित कोई भी जानकारी चाहिए तो उसके लिए आप निचे कमेंट बॉक्स का इस्तेमाल कर सकते हैं। 

Abhishek Maurya

मेरा नाम अभिषेक मौर्य है और मैं उत्तर प्रदेश वाराणसी डिस्ट्रिक्ट का रहने वाला हूं और मैं एक दिव्यांग हूं। मुझे अलग-अलग विषयों पर आर्टिकल लिखना बहुत अच्छा लगता है और इसी को मैंने अपना जुनून बनाया है। मैं पिछले 3 वर्षों से आर्टिकल लेखन का कार्य कर रहा हूं। आपको हमारे द्वारा लिखे गए लेख कैसे लगते हैं? आप हमें कमेंट बॉक्स में अवश्य बताएं। मेरा भी एक हिंदी ब्लॉग है जिस पर मैं रिलेशनशिप के ऊपर आर्टिकल लिखता हूं जिसका यूआरएल इस प्रकार से है। माय वेबसाइट यूआरएल - https://hindibaatchit.com/

Leave a Reply