हिंदी को इंग्लिश में क्या कहते हैं – Hindi Ko English Mein Kya Kahate Hain

हिंदी भाषा को अंग्रेजी में अनुवाद करना एक बहुत ही बेहतरीन कला है जिसके दम पर आप पूरे विश्व में किसी से भी बात कर सकते है। हिंदी भाषा के वाक्यों को अंग्रेजी में अनुवाद करते वक्त आप विभिन्न प्रकार के शब्द और अनुवाद प्रक्रिया के बारे में समझेंगे। मगर हो सकता है अनुवाद करने के दौरान आप Hindi Ko English Mein Kya Kahate Hain इसके बारे में विचार करें। अगर इस संदर्भ में गहन चिंतन किया जाए तो आखिर इसका क्या जवाब होगा इसके बारे में विस्तार पूर्वक जानकारी आज के लेख में दी गई है। 

हमने आपको सरल शब्दों में यह समझाने का प्रयास किया है कि हिंदी को अंग्रेजी में क्या कहते है। स्वाभाविक है इस तरह की बातें आपके मन में आती होगी मगर मुख्य रूप से किसी परीक्षा की दृष्टि से यह एक महत्वपूर्ण प्रश्न नहीं है। 

हिंदी क्या है

हिंदी विश्व की कुछ सबसे पौराणिक भाषाओं में से एक मानी जाती है। देवनागरी लिपि में लिखी गई इस भाषा को संस्कृत भाषा से प्रेरित होकर निर्माण किया गया है। 

हिंदी एक बहुत ही पुरानी भाषा है इसमें बहुत सारे शब्द आज भी संस्कृत भाषा से प्रेरित होकर लिए गए है। आज हिंदी भाषा विश्व की तीसरी सबसे अधिक बोले जाने वाली भाषा है भारत के अलावा कंबोडिया, नेपाल, और थाईलैंड जैसे कुछ देशों में हिंदी एक मुख्य भाषा है। 

हिंदी भाषा का जन्म कब हुआ?

हिंदी भाषा सबसे पहले लगभग 1500 ई पहले खोज गई थी। पहले जब इंसानी सभ्यता का विकास सिंधु घाटी पर हो रहा था तब संस्कृत भाषा के रूप में जन्म लेती है पूरे विश्व को संस्कृत भाषा में जोड़ते हुए अलग-अलग क्षेत्र में इस भाषा के साथ परिवर्तन किए गए। सिंधु घाटी सभ्यता के सबसे समीप भारत देश है इस वजह से यहां संस्कृत भाषा का इस्तेमाल कई सदी तक चलता रहा।

कुछ अध्ययन करताओ के मुताबिक 1500ई के बाद भारत में मूल रूप से संस्कृत में परिवर्तन होना शुरू हुआ और संस्कृत भाषा की पहली उत्तराधिकारी हिंदी भाषा बनी। हिंदी भाषा संस्कृत के मुकाबले कम जटिल है और इसे समझना ज्यादा आसान है हिंदी भाषा का निर्माण देवनागरी लिपि में किया गया। तब से लेकर आज तक हिंदी भाषा संस्कृत के उत्तराधिकारी के रूप में विश्व के अलग-अलग क्षेत्र में बोली जाती है और विश्व की तीसरी सबसे अधिक बोले जाने वाली भाषा बनी है। 

हिंदी भाषा का यूज कहां पर किया जाता है

वैसे तो हिंदी एक भाषा है जिसका मुख्य रूप से इस्तेमाल आप अपने विचारों और भावनाओं को लोगों तक पहुंचाने के इस्तेमाल कर सकते है। मगर हिंदी भाषा को भाषा के रूप में मुख्य रूप से भारत, नेपाल, भूटान, श्रीलंका, बांग्लादेश, थाईलैंड, कंबोडिया, जैसे कुछ देशों में किया जाता है। 

आज हिंदी भाषा विश्व की तीसरी सबसे अधिक बोले जाने वाली भाषा है जिसमें पहले स्थान पर अंग्रेजी और दूसरे स्थान पर चाइनीस भाषा आती है। पूरे विश्व में आप कहीं भी हिंदी भाषा का इस्तेमाल कर सकते है। 

हिंदी को इंग्लिश में क्या कहते है

हिंदी को इंग्लिश में हिंदी बोलना चाहता है। हिंदी एक भाषा है और किसी भी भाषा का नाम किसी दूसरे भाषा में परिवर्तित नहीं होता है।

जब हिंदी भाषा के किसी वाक्य को अंग्रेजी भाषा के वाक्य में अनुवाद करना होगा तो अनुवाद नियम के अनुसार अनुवाद प्रक्रिया का पालन किया जाएगा। मगर भाषा के नाम को किसी अन्य भाषा में भाषा के नाम से ही कहा जाता है। हिंदी को अंग्रेजी में हिंदी कहा जाता है मगर किसी अन्य भाषा में भी हिंदी को हिंदी ही कहा जाएगा। 

हिंदी को इंग्लिश में कैसे ट्रांसलेट करें

हिंदी भाषा में हम जितने वाक्यों को कहते हैं उसे अंग्रेजी भाषा में ट्रांसलेट करने के लिए अलग-अलग प्रकार के नियम होते हैं जिनका आपको मुख्य रूप से ध्यान देना होगा। हिंदी को इंग्लिश में ट्रांसलेट करने के लिए नीचे कुछ मुख्य बातों को बताया गया है उन्हें ध्यानपूर्वक पढ़ें – 

  • सबसे पहले हिंदी वाक्य को वर्तमान, भूत, भविष्य में विभाजित करें। अगर वाक्य के अंत में है शब्द का इस्तेमाल किया गया है तो वह वर्तमान वाक्य है। अगर वाक्य के अंत में था शब्द का इस्तेमाल किया गया है तो वह भूतकाल है। अगर होगा जैसे शब्द का इस्तेमाल किया गया है तो वह भविष्य काल है। 
  • इसके बाद हर काल को चार अलग-अलग भाग में विभाजित किया गया है आपको यह पता करना होगा कि वाक्य काल के चारों भाग में से कौन से भाग का है। 
  • उसके बाद उस भाग्य के लिए पर्याप्त सूत्र बनाया गया है जिसका इस्तेमाल करके वाक्य के Subject, Verb, और Object को सही तरीके से अरेंज करें और आपका वाक्य अंग्रेजी में अनुवाद हो जाएगा। 

हिंदी में कितने शब्द होते है

हिंदी में अलग-अलग अक्षरों को मिलाकर शब्द बनाया जाता है जिन्हें हम वर्ण कहते है। हिंदी में उच्चारण के आधार पर कुल 52 वर्ण होते है जिसमें 11 स्वर वर्ण,  और 41 व्यंजन वर्ण होता है।

इसके अलावा लेखन के आधार पर 56 वर्ण होते है, जिसमे 11 स्वर वर्ण 41 व्यंजन वर्ण और 4 संयुक्त वर्ण होते है, जिनका केवल लिखकर इस्तेमाल किया जाता है। इन सभी वर्णों को मिलाकर अलग अलग प्रकार के शब्द बनते हैं जिनकी कोई गिनती नहीं है। 

भारत की मुख्य भाषा क्या है

आजादी के बाद 1949 में एक सभा आयोजन किया गया था जिसमें केंद्र सरकार ने अपने मुख्य भाषा के रूप में हिंदी का चयन किया था। कुछ विवादों के बाद यह स्पष्ट किया गया कि पूरे भारत में 70% से अधिक क्षेत्र में हिंदी भाषा को समझा जाता है जिस वजह से हिंदी भाषा को भारत का मुख्य भाषा घोषित किया गया। इसी आधार पर 1953 में हिंदी भाषा को भारत की राज्य भाषा कहां गया था और इसी साल 14 सितंबर 1953 से हिंदी दिवस की परंपरा को शुरू किया गया था।  

इस आधार पर हम कह सकते हैं कि भारत के मुख्य भाषा हिंदी भाषा है। हिंदी भाषा को पूरे भारत में सही तरीके से समझा जाता है मगर अभी भी हिंदी साहित्य और हिंदी भाषा का संपूर्ण भारत में विस्तार नहीं हुआ है जिस वजह से अलग-अलग प्रकार के आयोजन का प्रबंध किया जाता है। 

हिंदी भाषा का महत्व

भारत में हिंदी एक महत्वपूर्ण भाषा के रूप में देखी जाती है। क्योंकि हिंदी भाषा का इस्तेमाल अलग-अलग प्रकार के व्यक्ति के द्वारा पूरे भारतवर्ष में किया जाता है। भारत में हिंदी एक ऐसी भाषा है जिसे लगभग किसी भी क्षेत्र का व्यक्ति आसानी से समझ सकता है। हिंदी एक महत्वपूर्ण भाषा है जो बहुत ही आसानी से समझा जा सकता है और उसे किसी अन्य भाषा में भी बड़ी आसानी से अनुवाद किया जा सकता है।

शायद यही कारण है कि पूरे विश्व में हिंदी भाषा सबसे अधिक बोले जाने वाली भाषा की सूची में तीसरे स्थान पर आती है। हिंदी भाषा को भारत का मुख्य भाषा माना जाता है भारत के 70% क्षेत्र में हिंदी भाषा को समझा और लिखा जाता है। मगर आपको अपनी मातृभाषा के बारे में भी जानकारी होनी चाहिए और विश्व स्तर पर अपनी बातों को सही तरीके से कहने के लिए अंग्रेजी एक महत्वपूर्ण भाषा के रूप में देखी जाती है इस वजह से आपको अंग्रेजी भाषा का भी ज्ञान होना चाहिए।

निष्कर्ष

अगर आपको Hindi Ko English Mein Kya Kahate Hain लेख हेल्पफुल रहा है तो फिर आप यह लेख अपने दोस्तों के साथ शेयर जरूर करना और इसके अलावा अगर आपको इस लेख से संबंधित कोई भी जानकारी चाहिए तो उसके लिए आप नीचे कमेंट बॉक्स का इस्तेमाल कर सकते हैं।

Abhishek Maurya

मेरा नाम अभिषेक मौर्य है और मैं उत्तर प्रदेश वाराणसी डिस्ट्रिक्ट का रहने वाला हूं और मैं एक दिव्यांग हूं। मुझे अलग-अलग विषयों पर आर्टिकल लिखना बहुत अच्छा लगता है और इसी को मैंने अपना जुनून बनाया है। मैं पिछले 3 वर्षों से आर्टिकल लेखन का कार्य कर रहा हूं। आपको हमारे द्वारा लिखे गए लेख कैसे लगते हैं? आप हमें कमेंट बॉक्स में अवश्य बताएं। मेरा भी एक हिंदी ब्लॉग है जिस पर मैं रिलेशनशिप के ऊपर आर्टिकल लिखता हूं जिसका यूआरएल इस प्रकार से है। माय वेबसाइट यूआरएल - https://hindibaatchit.com/

Leave a Reply