(Junior Engineer) JE कैसे बने पूरी जानकारी जानिए हिंदी में

वर्तमान समय में भारत का सबसे प्रतिष्ठित नौकरी इंजीनियरिंग को माना जा रहा है। आज भारत में बहुत सारे विद्यार्थी इंजीनियरिंग की पढ़ाई करके इंजीनियर बनना चाह रहे है, मगर आप भी उनमें से एक है, और JE Kaise Bane के बारे में विचार कर रहे हैं तो आज के लेख में इसके बारे में विस्तार पूर्वक जानकारी दी जा रही हैं। 

JE को जूनियर इंजीनियर बोला जाता है, यह एक प्रतिष्ठित और जिम्मेदारी पूर्ण नौकरी है। JE Kaise Bane, और यह पद प्राप्त करने के लिए आपके पास किस तरह की योग्यता होनी चाहिए साथ ही आपको कितना वेतन मिल सकता है जैसे कुछ आवश्यक प्रश्न आज के लेख में सरल शब्दों में आपको समझाए जाएंगे।

JE कौन होता है

यह इंजीनियर का पद है जो किसी प्राइवेट कंपनी में ना होकर सरकारी कंपनी में होता है। सरल शब्दों में सरकार के द्वारा संचालित हर विभाग में उस विभाग के कार्य को संचालित करने के लिए एक जूनियर इंजीनियर रखा जाता है इस नौकरी को सरकार के स्केल पर ग्रुप सी लेवल हासिल हैं।

चाहे हम रेलवे, बिजली पीडब्ल्यूडी जैसे सरकारी विभाग की बात करें या फिर GAIL, BHEL, Indian Oil, जैसी कंपनियों की बात करें हर जगह कार्य को सही रूप से संचालित करने के लिए एक इंजीनियर की आवश्यकता होती है और जूनियर इंजीनियर का पद इन सभी विभागों में होता है जो केंद्र सरकार के नेतृत्व में काम करती हैं। 

JE फुल फॉर्म

JE का फुल फॉर्म Juniour Engineer होता हैं। 

किसी भी तरह के कार्य को पूरा करने के लिए उसमें अलग-अलग तरह के विशेषज्ञों की टोली होती है जूनियर इंजीनियर उनमें से एक होता है। अन्य विशेषज्ञों के साथ मिलकर किसी भी कार्य को संपन्न करने के पीछे किए जाने वाले चिंतन मनन में जूनियर इंजीनियर का योगदान होता हैं।

JE का कार्य क्या है

इसमें व्यक्ति को अपने गणित और विज्ञान की समझ से किसी भी काम को कैसे डिजाइन करें और उसे कैसे खत्म करें, साथ ही जिस फील्ड में इंजीनियरिंग की पढ़ाई की है उस फील्ड में आने वाली समस्या का निराकरण बताने का कार्य एक जूनियर इंजीनियर का होता हैं।

अगर कोई कंस्ट्रक्शन से इंजीनियरिंग की पढ़ाई करता है तो कंस्ट्रक्शन करते वक्त डिजाइनिंग और वर्क में जिस तरह की दिक्कत आ सकती है उसे अपने गणित और विज्ञान की समझ से जानना है और उस समस्या के निराकरण के बारे में मजदूरों को बताना है यह काम एक जूनियर इंजीनियर का होता है। यह एक जिम्मेदारी भरा काम है जिसमें बहुत अधिक चिंतन मनन की आवश्यकता होती है। हम यह कह सकते हैं कि किसी भी तरह के कार्य को संपन्न करने में उस कार्य के इंजीनियर का बहुत बड़ा योगदान होता है।

JE कैसे बने

जूनियर इंजीनियर कैसा पद है और इसका क्या कार्य होता है इसके बारे में हमने आपको बताया आपको यह भी जानने की आवश्यकता है कि आप इस पद तक कैसे पहुंच सकते है, इसके लिए नीचे बताए गए निर्देशों का आदेश अनुसार पालन करें। 

1. अपनी प्रारंभिक शिक्षा पूरी करें

इंजीनियर बनने के लिए आपको खास किस्म की पढ़ाई करनी पड़ती है जिसे इंजीनियरिंग कहते हैं उसे आप अपनी प्रारंभिक शिक्षा पूर्ण करने के बाद कर सकते हैं तो सबसे पहले अच्छे अंको से 12वीं कक्षा पास करें क्योंकि आप जितने अच्छे अंक से पास करेंगे आपको इंजीनियरिंग पढ़ने के लिए इतना अच्छा कॉलेज मिलेगा।

2. JEE Mains या Diploma करे

भारत के कुछ सबसे अधिक भरे जाने वाले परीक्षा फॉर्म में जी मेंस और एडवांस का नाम आता है अगर आप इन दोनों परीक्षा को उत्तरण कर पाते हैं तो आप भारत के कुछ सबसे प्रतिष्ठित कॉलेज में बहुत कम पैसे में अपने इंजीनियरिंग की पढ़ाई कर पाएंगे।

पर जी मैंस और एडवांस की परीक्षा पास करना बहुत कठिन होता है अगर आप उसे पास करके किसी आईआईटी कॉलेज में अपना दाखिला नहीं करवा पाते तो आपको दसवीं के बाद डिप्लोमा करना चाहिए।

आप डिप्लोमा में अपना एक विषय चुनते हैं जिस विषय में चिंतन मनन करने के बाद B.Tech कर सकते हैं।

3. B.Tech करें

जब आप 12वीं कक्षा पास करने के बाद जी मेंस  की परीक्षा पास करेंगे तो आपको इंजीनियरिंग की पूरी पढ़ाई करने के लिए एक IIT या NIT कॉलेज में दाखिला लेना होगा, और 3 साल का B.Tech करना होगा। पर अगर आप दसवीं पास करने के बाद डिप्लोमा कर रहे हैं तो डिप्लोमा पास करने के बाद आपको 2 साल का B.Tech करना होगा। 

जूनियर इंजीनियर के पद पर डिप्लोमा उसके बाद बीटेक करने के बाद या फिर 12वीं पास करें और फिर बीटेक करने के बाद जा सकते हैं।

4. JE के लिए आवेदन करे

प्रत्येक नौकरी के लिए सरकार अपने आधिकारिक वेबसाइट पर सूचना प्रकाशित करती है आपको अगर जूनियर इंजीनियर के पद पर नौकरी करनी है तो न्यूज़पेपर, अलग-अलग ब्लॉक, या फिर अलग-अलग सरकारी आधिकारिक वेबसाइट को चेक करते रहना होगा। इन सभी जगहों को चेक करने पर आपको जूनियर इंजीनियर के पद के बारे में पता चलेगा जिस पर आप आवेदन कर सकते हैं।

आवेदन प्रक्रिया में आपकी शिक्षण योग्यता पहचान पत्र जैसी कुछ आवश्यक जानकारी मांगी जाएगी उन सबको देकर एक फॉर्म भरे और आवेदन कर दें।

5. परीक्षा पास करके चयन प्रक्रिया को पूर्ण करने के बाद जूनियर इंजीनियर की नौकरी करें

ऊपर बताए सभी निर्देशों का पालन करने के बाद आप जूनियर इंजीनियर के पद के लिए आवेदन कर देंगे उसके बाद चयन प्रक्रिया के अनुसार आपको परीक्षा देना होगा और इंटरव्यू पास करना होगा जिसके बाद आप अपने स्पेशलाइजेशन के अनुसार किसी सरकारी विभाग में जूनियर इंजीनियर के पद पर कार्यरत हो जाएंगे।

JE बनने के लिए योग्यता

अगर आप जूनियर इंजीनियर के पद पर नौकरी करना चाहते हैं तो आपके पास कुछ खास किस्म की क्वालिफिकेशन होनी चाहिए जिसके बारे में नीचे जानकारी दी गई हैं। 

  • JE के पद पर नौकरी करने के लिए आपके पास खास किस्म का ज्ञान होना चाहिए अर्थात आपको अपने निर्धारित स्पेशलाइजेशन से डिप्लोमा या इंजीनियरिंग का कोर्स करना होगा।
  • दसवीं के बाद 3 साल का polytechnic डिप्लोमा और 2 साल का B.Tech का कोर्स कर सकते है, इसके अलावा आप 12वीं कक्षा पास करने के बाद 3 साल का बी टेक का कोर्स कर सकते हैं।

JE बनने के लिए आयु सीमा

जैसा कि हमने आपको बताया जी एक सरकारी पद है जिसके लिए आवेदन करने हेतु अलग-अलग कैटेगरी के लोगों के लिए अलग-अलग अधिकतम आयु रखी गई है अगर आप ओबीसी हैं तो अधिकतम आयु से 3 वर्ष अधिक की छूट मिलती है अगर आप एसटीएससी है तो अधिकतम आयु में 5 वर्ष की छूट मिलती हैं।

  • साधारण वर्ग के लोगो के लिए  – 32 वर्ष अधिकतम आयु रखी गई हैं।
  • ओबीसी वर्ग के लोगों के लिए – 35 वर्ष अधिकतम आयु रखी गई हैं।
  • ST/SC के लोगों के लिए – 40 वर्ष अधिकतम आयु रखी गई हैं।

JE बनने के लिए कौन सी परीक्षा देनी होती है

जूनियर इंजीनियर एक प्रतिष्ठित नौकरी है अलग-अलग सरकारी विभाग के तरफ से प्रत्येक साल जूनियर इंजीनियर की वैकेंसी निकलती है जिसके अनुसार आवेदन कर सकते हैं और अपने आवश्यक दस्तावेज दे सकते हैं अगर आप सही तरीके से आवेदन करेंगे तो परीक्षा सेंटर पर आपको लिखित परीक्षा के लिए बुलाया जाएगा यह परीक्षा प्राइवेट और सरकारी विभाग में अलग-अलग तरह से होता हैं।

JE बनने के लिए अगर आप किसी प्राइवेट कंपनी में आवेदन करते हैं तो आपको एक लिखित परीक्षा पास करनी होगी और इंटरव्यू देना होगा जिसके बाद आपको नौकरी मिल जाएगी मगर सरकारी विभाग में यह प्रक्रिया थोड़ी सी अलग होती हैं।

अगर सरकारी विभाग में JE बनने के लिए आप आवेदन करते हैं तो आपको दो चरण में परीक्षा पास करनी होती है पहले चरण में आपसे रिजनिंग और सामान्य ज्ञान के वैकल्पिक प्रश्न पूछे जाते है और जितने विद्यार्थी इसमें पास होते हैं उन्हें लिखित परीक्षा में बैठना होता है और इंजीनियरिंग के प्रश्न का लिखित रूप से उत्तर देना होता हैं।

  • अगर हम एग्जाम पैटर्न की बात करें तो सबसे पहला रिटेन परीक्षा वैकल्पिक प्रश्न से भरा होता है जिसमें आपको 2 घंटे का वक्त मिलता है और 100 रिजनिंग और सामान्य ज्ञान से जुड़े प्रश्नों को हल करना होताहैं।
  • इसके बाद जो विद्यार्थी पहले पेपर में पास हो जाते हैं उन्हें दूसरा पेपर लिखने का मौका दिया जाता है उसमें आपके स्पेशलाइजेशन इंजीनियरिंग ब्रांच से कुछ प्रश्न पूछे जाते हैं जिनका लिखित रूप से उत्तर देना होता है उस में पूछे गए सवाल गणित और विज्ञान से जुड़े होते हैं वह सब इंजीनियरिंग कोर्स से रिलेटेड होते हैं आपको उन्हें हल करना होता है इसमें आपको 2 घंटे में 300 मार्क्स का क्वेश्चन हल करना होता हैं।

JE बनने के लिए सिलेबस

जैसा कि हमने आपको बताया इस पद के लिए दो अलग-अलग चरण में परीक्षा होती है और दोनों में अलग-अलग तरह के प्रश्न पूछे जाते है आपको तैयारी अपने पद के हिसाब से पूछे जाने वाले सवाल पर करनी चाहिए जिसके लिए सिलेबस की जानकारी नीचे दी गई हैं।

  • पहला पेपर रिजनिंग और सामान्य ज्ञान से होता है इसलिए बीते 1 वर्ष के सभी करंट अफेयर्स को याद रखें और रिजनिंग के अलग-अलग तरह के सवाल को हल करें।
  • दूसरा पेपर इंजीनियरिंग कोर्स से रिलेटेड होता है आपको अपने कोर्स के संबंध में गहन तरीके से पढ़ाई करने की आवश्यकता हैं। आपने अपने स्पेशलाइजेशन स्ट्रीम चुना है उससे संबंधित प्रश्न पूछे जाते है, जिसकी तैयारी आप अपने कोर्स के किताब से कर सकते हैं।
  • इसके अलावा बीते 5 साल में के क्वेश्चन पेपर को अपना सिलेबस समझे और उन्हें जरूर हल करें।

JE बनने का सिलेक्शन प्रोसेस

जूनियर इंजीनियर के पद पर नौकरी करने से पहले आपको यह जानना चाहिए कि जूनियर इंजीनियर के पद के लिए चयन प्रक्रिया कैसी होती है ताकि आप उसके अनुसार अपनी तैयारी कर सकें।

अगर जूनियर इंजीनियर के पद के लिए चयन प्रक्रिया की बात करें तो सबसे पहले आपको लिखित परीक्षा पास करनी होगी। लिखित परीक्षा को पास करने से पहले आपको जूनियर इंजीनियर के पद पर आवेदन करना होगा अगर आप फॉर्म में पूछे गए सभी सवालों का सही तरीके से उत्तर देंगे तो आपका आवेदन स्वीकार कर लिया जाएगा और लिखित परीक्षा के लिए परीक्षा सेंटर पर बुलवाया जाएगा।

परीक्षा सेंटर पर परीक्षा के पहले चरण में आपसे सामान्य ज्ञान और रिजनिंग के कुछ प्रश्न पूछे जाएंगे जिनका सही तरीके से उत्तर देने के बाद उन बच्चों को चयनित किया जाएगा जो कट ऑफ मार्क्स लेकर आए हैं।

जो बच्चे कट ऑफ मार्क्स ले आए हैं उन्हें दूसरे चरण की परीक्षा में बैठने का मौका मिलेगा और वहां उनसे इंजीनियरिंग के सवाल पूछे जाएंगे जिनका सही तरीके से उत्तर देने के बाद वह सभी बच्चे जो दोबारा कट ऑफ मार्क्स लेकर आ पाएंगे उनका डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन किया जाएगा।

सरल शब्दों में दो चरण की परीक्षा होगी दोनों चरण की परीक्षा को कट ऑफ मार्क्स लाकर पास करना होगा और उसके बाद अगर आप ऐसा कर पाते हैं तो आपका डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन होगा जिसमें आपके क्वालिफिकेशन और पहचान पत्र जैसे कुछ साधारण डॉक्यूमेंट देखे जाएंगे और उसके बाद जूनियर इंजीनियर के पद पर नौकरी दे दी जाएगी।

JE की कितनी सैलरी होती है

जूनियर इंजीनियर एक ऐसा पद है जिसमें आपकी कार्यकुशलता आपके अनुभव के साथ बढ़ती जाती है जिस वजह से आपकी तनख्वाह के अनुभव पर निर्भर करती है मगर यह एक प्रतिष्ठित सरकारी पद है जिसमें नौकरी मिलने पर आपको ₹29500 से ₹32000 तक की तनख्वाह मिलती है। धीरे-धीरे आपके अनुभव के अनुसार आपकी तनख्वाह बढ़ती जाती है और इसके अलावा सरकारी घर और सरकार के तरफ से अलग-अलग तरह की सुविधाएं भी दी जाती हैं।

अगर हम बात करें किसी प्राइवेट नौकरी की और आप किसी प्राइवेट कंपनी में जूनियर इंजीनियर के पद पर नौकरी करते हैं तो आपकी तनख्वाह ₹50000 महीना होती है वह भी धीरे-धीरे बढ़ती चली जाती है मगर प्राइवेट नौकरी के मुकाबले सरकारी नौकरी में ज्यादा सुविधाएं दी जाती है और तनख्वाह बढ़ाई जाती है इस वजह से कुछ साल काम करने के बाद सरकारी नौकरी की तनख्वाह ज्यादा हो जाती है और सरकार के तरफ से दी जाने वाली सुविधा की वजह से सरकारी विभाग में जूनियर इंजीनियर के पद पर ज्यादा लोग काम करना चाहते हैं।

निष्कर्ष

अगर आपको JE Kaise Bane लेख हेल्पफुल रहा है तो फिर आप यह लेख अपने दोस्तों के साथ शेयर जरूर करना और इसके अलावा अगर आपको इस लेख से संबंधित कोई भी जानकारी चाहिए तो उसके लिए आप नीचे कमेंट बॉक्स का इस्तेमाल कर सकते हैं।

Junaid Bashir

Hi friends!! मेरा नाम Junaid Bashir है और मैं इस ब्लॉग का मालिक हूँ। इसके साथ-साथ मैंने इस ब्लॉग इसलिए बनाया है। क्योंकि मुझे लोगों की मदद करना बहुत ही अच्छा लगता है और अगर आप मेरे बारे में विस्तार से जानना चाहते है तो फिर उसके लिए आप इस ब्लॉग का About Us पेज पढ़ सकते हैं।

Leave a Reply