Physiotherapist कैसे बने – योग्यता, परीक्षा, सैलरी के बारे में जानिए

दोस्तों अगर आप एक ऐसी फील्ड में करियर बनाना चाहते हो जहां पर आपको कंपटीशन भी कम मिले और उस फील्ड में करियर के ऑप्शन भी ढेरों उपलब्ध हो तो ऐसे में आप फिजियोथैरेपिस्ट बनने का विकल्प चुन सकते हो। अब आपके मन में सवाल होगा कि आखिर फिजियोथैरेपिस्ट में सुनहरा कैरियर कैसे बनाया जा सकता है? तो हम आपको बताना चाहेंगे कि आज अनेकों प्रकार की शारीरिक बीमारी लोगों को परेशान कर रही है। 

और ऐसे में फिजियोथेरेपिस्ट ही बिना दवा किए आपको शारीरिक समस्या से निजात दिला सकता है एवं इतना ही नहीं अगर आप को फिट और फाइन रहना है तो ऐसे में फिजियोथेरेपिस्ट आपकी बहुत हेल्प करने वाला है। आप सोच रहे हो कि हम Physiotherapist Kaise Bane तो आज हम आपको अपने इस लेख के माध्यम से फिजियोथैरेपिस्ट बनने से संबंधित सभी प्रकार की आवश्यक जानकारी देंगे।

ताकि आप इस फील्ड में अपना करियर बना सको और सक्सेसफुल हो सके। हम आपको आगे फिजियोथैरेपिस्ट बनने से संबंधित जो भी जानकारी देंगे आप उन सभी जानकारी को ध्यान से और पूरा जरूर पढ़े ताकि आप से एक भी जानकारी मिस ना हो और आप इस फील्ड में अपना करियर बना सको।

Physiotherapist कौन होता है

फिजियोथैरेपिस्ट वह व्यक्ति होता है जिससे शरीर की मसाज और नस पकड़ने का सही ज्ञान होता है वह शरीर की मालिश इस तरीके से करता है कि आपके शरीर में हुई विभिन्न प्रकार की बीमारियों का निराकरण हो सके एक फिजियोथेरेपिस्ट मसाज और शरीर के सभी अंगों को दबाने की कला के जरिए किसी भी दर्द को ठीक कर सकता है और मानसिक रूप से बीमार लोगों का भी इलाज करता है। किसी जेनेटिक डिफेक्ट या एक्सीडेंट की वजह से हुए शारीरिक दोष को ख़त्म करने के लिए फिजियोथेरेपिस्ट मरीज को ठीक करने में डॉक्टर की सहायता करता है। 

हम कह सकते है कि फिजियोथेरेपिस्ट एक तरह का डॉक्टर होता है जिसे हड्डी मांस पेशी नस को दबाने और रीलोकेट करने की जानकारी होती है जिसमें काफी गहन अध्ययन करने के बाद वह शरीर के अंगों में आई बीमारी को ठीक करने की कला को सिख लेता है।

Physiotherapist कैसे बने

अगर आप फिजियोथेरेपिस्ट के कार्य से प्रभावित होकर इसे अपने जीवन में हिस्सा देना चाहते है और फिजियोथेरेपिस्ट कैसे बने की प्रक्रिया को समझना चाहते हैं तो नीचे बताए गए निर्देश का आदेश अनुसार पालन करें – 

1. सबसे पहले विज्ञान श्रेणी से पढ़ाई पूरी करें

जैसा कि हमने आपको बताया फिजियोथेरेपिस्ट एक ऐसा व्यक्ति होता है जिसे हड्डी, नस, मांसपेशी के बारे में अच्छी जानकारी होती है जिसे हम एक तरह से डॉक्टर की उपाधि दे सकते है। तो इसके लिए आवश्यक है कि आप अपनी बारहवीं की शिक्षा विज्ञान श्रेणी से पास करें। 

आपको 10 वीं कक्षा सही तरीके से पास करने के बाद आगे पढ़ने के लिए रसायन विज्ञान, जीव विज्ञान, और भौतिक विज्ञान जैसे विषयों का चयन करना होगा। इसके बाद अच्छे अंकों के साथ था आपको अपने 12वीं की कक्षा पास करनी होगी। 

2. आगे की पढ़ाई फिजियोथेरेपी में करिए 

फिजियोथेरेपिस्ट के नाम से ही आपको पता चल रहा होगा कि इस व्यक्ति को फिजियोथेरेपी विषय के बारे में अच्छे से जानकारी होगी। जिस वजह से हम आपको सुझाव देंगे कि आगे की पढ़ाई करने के लिए आप 12वीं कक्षा पास करने के बाद फिजियोथैरेपी का विषय चुने और अपने स्नातक की पढ़ाई पूर्ण करें। 

अगर आप ने स्नातक की पढ़ाई पूर्ण कर ली है तो आफ फिजियोथैरेपी में डिप्लोमा या पीजी कर सकते है। सरल शब्दों में आप चाहे अपने जीवन के किसी भी क्षेत्र में मौजूद हो फिजियोथेरेपिस्ट बनने के लिए सबसे पहले आपको फिजियोथैरेपी का एक कोर्स करना होगा अगर किसी कॉलेज से आप इस कोर्स को डिप्लोमा या पीजी के जरिए पूरा करते है, तो आपके पास एक सर्टिफिकेट होगा जिससे लोग आप पर विश्वास कर पाएंगे। 

3. कॉलेज से अपना प्लेसमेंट ले या कंसल्टेंसी फर्म शुरू करें 

ऊपर बताई गई जानकारियों को पढ़ने के बाद अगर आप फिजियोथैरेपी की पढ़ाई पूरी कर लेते है तो इसे अपना करियर बनाने के लिए आपको कॉलेज से ही विभिन्न हॉस्पिटल में प्लेसमेंट मिलने लगेगा। आज लगभग सभी प्रकार के बड़े अस्पतालों में आपको फिजियोथेरेपिस्ट डॉक्टर भी मिल जाएंगे जिनका प्लेसमेंट कॉलेज से डायरेक्ट कर लिया जाता है आपको कॉलेज में इसके लिए प्रैक्टिस और इंटर्नशिप करवाया जाएगा। 

अगर आपके कॉलेज में फिजियोथैरेपी की प्लेसमेंट नहीं लगती है तो आप अपने फिजियोथैरेपी के ज्ञान को लोगों के समक्ष विभिन्न सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म जैसे यूट्यूब, फेसबुक और इंस्टाग्राम के माध्यम से प्रकट कर सकते है और ऑनलाइन अपने व्यापार को एक कंसल्टेंसी फर्म के रूप में शुरू कर सकते हैं। 

Physiotherapist बनने के लिए योग्यता

ऊपर बताए गए निर्देशों का आदेश अनुसार पालन करने पर आप एक फिजियोथेरेपिस्ट के रूप में काम कर पाएंगे जिसके बाद आप यह समझ गए होंगे कि इस क्षेत्र में अपना करियर बनाने के लिए आपकी उम्र या किसी भी अन्य प्रकार की निर्धारित योग्यता नहीं तय की गई है। 

अगर आप फिजियोथेरेपिस्ट के रूप में अपने करियर को शुरू करना चाहते है तो इसके लिए आपके समक्ष दो रास्ते मौजूद है पहला अगर आप किसी कॉलेज से फिजियोथैरेपी की पढ़ाई करते है और वहां से आपको प्लेसमेंट मिलता है तो उस प्लेसमेंट को अवश्य लें और किसी हॉस्पिटल में फिजियोथेरेपिस्ट के तौर पर काम करें इसके अलावा अगर आपको किसी भी प्रकार का प्लेसमेंट नहीं मिलता तो अपने फिजियोथेरेपी के ज्ञान को मजबूत करें और अन्य सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म के जरिए फिजियोथैरेपी की सुविधा लोगों तक पहुंचाने के लिए अपने ऑनलाइन प्रोफाइल का इस्तेमाल करें। 

इन सभी प्रक्रियाओं का आदेश अनुसार पालन करने के लिए यह आवश्यक है कि आप अपने 12वीं की पढ़ाई विज्ञान क्षेत्र से करें ताकि फिजियोथैरेपी की पढ़ाई करते वक्त आपको किसी प्रकार की परेशानी ना हो इसके अलावा यह आवश्यक है कि आपको जीव विज्ञान और फिजियोथेरेपी के विषय में रुचि होनी चाहिए इन बातों को मूलतः इस कैरियर के लिए योग्यता समझ सकते है। 

Physiotherapist बनने के लिए कोर्स

फिजियोथेरेपिस्ट बनने के लिए आपको कुछ खास किस्म के कोर्स करने की आवश्यकता है। आप किस तरह की कोर्स को करने के बाद इस क्षेत्र में एक अच्छी नौकरी पा सकते है इसके बारे में संक्षिप्त जानकारी नीचे दी गई है – 

1. Bachelor in physiotherapy

बहुत सारे कॉलेज में फिजियोथैरेपी में स्नातक की डिग्री करवाई जाती है अगर आप किसी सरकारी या गैर सरकारी संस्था में पेशेवर नौकरी के रूप में फिजियोथेरेपिस्ट का काम करना चाहते है तो इसके लिए इस क्षेत्र में आपको स्नातक की डिग्री हासिल करना आवश्यक है जो उसके लिए 12वीं कक्षा पास करने के बाद भारत के किसी भी कॉलेज में बैचलर इन फिजियोथैरेपी में एडमिशन करवा सकते है। इस में एडमिशन लेने के लिए ₹30000 से ₹50000 का खर्च आएगा जो कि 3 साल का कोर्स होता है। 

2. DTP Course of Physiotherapy

स्कूल का मतलब होता है फिजियोथैरेपी में डिप्लोमा अगर आप 12वीं पास करने के बाद तुरंत फिजियोथैरेपी के ज्ञान को सीखना चाहते है तो इसके लिए आप किसी कॉलेज से फिजियोथैरेपी में डिप्लोमा कर सकते है इसे करने के लिए आपको ₹20000 से ₹40000 का खर्च आएगा और फिजियोथेरेपी का डिप्लोमा 1 साल का कोर्स है। 

3. MTP Course in Physiotherapy

इस कोर्स का तात्पर्य फिजियोथैरेपी में पोस्ट ग्रेजुएशन से है अगर आप स्नातक की पढ़ाई कर चुके है और फिजियोथैरेपी में कोई उच्च शिक्षा प्राप्त करना चाहते है तो आपको यह कोर्स चुनना चाहिए इसे आप भारत के किसी भी कॉलेज से 2 साल के अंदर पूरा कर सकते है इस कोर्स को करने में ₹50000 से ₹70000 का खर्च आएगा बड़ी आसानी से आप इसे किसी भी कॉलेज से कर सकते हैं आप जितने अच्छे कॉलेज से करेंगे आपको उतना ही कम खर्च आएगा और नौकरी में ज्यादा छूट मिलने की संभावना है। 

Physiotherapist करने के लिए कोर्स फीस

Physiotherapist एक बहुत ही प्रचलित नौकरी बनती जा रही है जिसे अब बड़ी आसानी से भारत के किसी भी क्षेत्र से करके काफी अच्छा पैसा कमा सकते है यह आपको नौकरी और व्यापार में भी काफी मदद करेगा। ऊपर हमने आपको बताया कि फिजियोथेरेपिस्ट की नौकरी करने के लिए आपको फिजियोथैरेपी का कोर्स करना होगा जिसके कुछ प्रचलित कोर्स के बारे में हमने आपको ऊपर जानकारी दी। 

अगर आप ऊपर बताए गए किसी भी कोर्स को भारत के किसी स्कूल या कॉलेज से करते हैं तो आपको ₹20000 से ₹70000 का खर्च आ सकता है यह निर्भर करता है आप अपना कोर्स किस डिग्री के लिए कर रहे हैं और किस जगह से कर रहे है। अगर आप किसी सरकारी जगह से इस कोर्स को पूरा करते है तो इसमें आपको काफी कम खर्च पड़ेगा मगर जब आप इस कोर्स को किसी गैर सरकारी संस्था से करते है तो वो आप को दी जाने वाली सुविधा के अनुसार कैसे चार्ज करेंगे जिसमें काफी अधिक खर्च हो सकता है। 

भारत में फिजियोथेरेपिस्ट बनने के लिए टॉप कॉलेज

अगर आप फिजियोथेरेपिस्ट बनना चाहते है तो आपको फिजियोथेरेपी की डिग्री हासिल करनी होगी आप उस डिग्री को जितने अच्छे कॉलेज से हासिल करेंगे उसकी अहमियत नौकरी और व्यापार में उतनी ही अधिक मानी जाएगी इस वजह से हम आपको सुझाव देंगे कि भारत के सर्वश्रेष्ठ कॉलेज से अपने फिजियोथैरेपी की पढ़ाई पूर्ण करें जिसके लिए भारत के टॉप कॉलेज की लिस्ट नीचे प्रस्तुत की गई है – 

  • महात्मा गांधी यूनिवर्सिटी ऑफ मेडिकल एजुकेशन, केरल
  • के जे सौम्या कॉलेज ऑफ फिजियोथेरिपी, मुंबई
  • एसडीएम कॉलेज ऑफ फिजियोथेरपी, कर्नाटक
  • निजाम इंस्टिट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेस, तेलंगाना
  • अपोलो फिजियोथेरपी कॉलेज, हैदराबाद
  • जे एस एस कॉलेज ऑफ फिजियोथेरपी, मैसूर

Physiotherapist की सैलरी कितनी होती है

यह एक बहुत ही प्रचलित काम बन चुका है जिससे आप काफी अच्छा पैसा कमा सकते है अगर आप फिजियोथेरेपिस्ट के काम के जरिए पैसा कमाना चाहते है तो आपके समक्ष व्यापार और नौकरी दोनों के रास्ते खुलेंगे व्यापार के तौर पर आप अपना खुद का फिजियोथैरेपिस्ट क्लीनिक खोल सकते है। अगर आप फिजियोथैरेपी की पढ़ाई करके फिजियोथेरेपिस्ट के तौर पर नौकरी करना चाहते है तो आपको किसी भी हॉस्पिटल में नौकरी मिल सकती है जहां हॉस्पिटल के आधार पर आपकी कमाई तय होगी। 

अगर एक अनुमानित प्रशिक्षण के तौर पर हम फिजियोथेरेपिस्ट की सैलरी आपके समक्ष प्रस्तुत करें तो हम कहेंगे कि किसी हॉस्पिटल में फिजियोथेरेपिस्ट की नौकरी करने के दौरान आपकी शुरुआती तनख्वाह ₹25000 से ₹70000 तक हो सकती है अगर आप फिजियोथैरेपी का कोई व्यापार शुरू करते है तो इसमें आपके द्वारा रखे गए चार्ज और दी जाने वाली सुविधा के अनुसार आपकी तनख्वाह तय होगी। 

निष्कर्ष

अगर आपको Physiotherapist Kaise Bane लेख हेल्पफुल रहा है तो फिर आप यह लेख अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करना। इसके अलावा अगर आपको इस लेख से सम्बंधित कोई भी जानकारी चाहिए तो उसके लिए आप निचे कमेंट बॉक्स का इस्तेमाल कर सकते हैं। 

Abhishek Maurya

मेरा नाम अभिषेक मौर्य है और मैं उत्तर प्रदेश वाराणसी डिस्ट्रिक्ट का रहने वाला हूं और मैं एक दिव्यांग हूं। मुझे अलग-अलग विषयों पर आर्टिकल लिखना बहुत अच्छा लगता है और इसी को मैंने अपना जुनून बनाया है। मैं पिछले 3 वर्षों से आर्टिकल लेखन का कार्य कर रहा हूं। आपको हमारे द्वारा लिखे गए लेख कैसे लगते हैं? आप हमें कमेंट बॉक्स में अवश्य बताएं। मेरा भी एक हिंदी ब्लॉग है जिस पर मैं रिलेशनशिप के ऊपर आर्टिकल लिखता हूं जिसका यूआरएल इस प्रकार से है। माय वेबसाइट यूआरएल - https://hindibaatchit.com/

Leave a Reply