ताजमहल कब बनाया गया था – ताजमहल के इतिहास, निर्माण के बारे में जानिए हिंदी में

ताजमहल की खूबसूरती और इसके पीछे की कहानी को भला दुनिया में कौन नहीं जानता। वैसे तो ताजमहल के बारे में दुनिया में सब को अच्छी तरीके से पता है परंतु आज भी कई लोग है जिन्हें Taj Mahal Kab Bana Tha के बारे में पता नहीं है और वह इसके बारे में जानना भी चाहते हैं।

यदि आपको भी जानना है कि ताजमहल कब बना था? तो आप आज बिल्कुल सही लेख को पढ़ रहे हो क्योंकि हमने अपने आज के इस महत्वपूर्ण लेख में ताजमहल के निर्माण के पीछे की कहानी को विस्तार पूर्वक से बनाया है और इतना ही नहीं ताजमहल को बनाने में कितना समय लग गया? के बारे में भी आपको इसी लेख में जानकारी मिल जाएगी।

यदि आप ताजमहल के बारे में इन्हीं सभी महत्वपूर्ण जानकारियों के बारे में जानना चाहते हो तो ऐसे में आपको हमारा आज का यह महत्वपूर्ण लेख शुरुआत से लेकर अंतिम तक ध्यान पूर्वक से पढ़ना है और एक भी जानकारी मिस नहीं करना है नहीं तो आपको आज की यह जानकारी समझ में नहीं आएगी और फिर आप इधर-उधर ताजमहल के बारे में जानकारी हासिल करने के लिए भटकते रह जाओगे और आपका समय भी व्यर्थ हो गई इसीलिए लेख कों पूरा ध्यान से अवश्य पढ़ें।

ताजमहल क्या है

दोस्तों ताजमहल एक ऐसा महल है जिसके अंदर जाने से आपको बहुत ही अच्छा कंफर्टेबल महसूस होता है क्योंकि इस महल में आपको बहुत ही अलग-अलग चीजे को देखने को मिलते है ताजमहल को शाहजहां की पत्नी के लिए बनाया गया था।

दोस्तों अगर आप ताजमहल को देखना चाहते हो तो ऐसे में h हम  आपकी जानकारी के लिए बता दें कि ताजमहल का शीर्ष वाला भाग थोड़ा मंदिर के जैसा देखने में लगता है आप इस तरीके से बहुत ही आसानी से ताजमहल की पहचान कर सकते हो।

ताजमहल को शाहजहां ने बनवाया था और उन्होंने ताजमहल का बनवाने का काम 1631 में शुरू कर दिया अगर आपको इस लेख से संबंधित और भी ज्यादा जानकारी चाहिए तो आप हमारे इस महत्वपूर्ण लेख को शुरू से अंत तक अवश्य पढ़े ताकि आपको हमारा यह महत्व पूर्ण लेख समझ में आ सके और कहीं पर भटकने की आवश्यकता बिल्कुल भी ना पड़े।

ताजमहल कब बनाया गया था

दोस्तों ताजमहल को बनाने में कई वर्ष लग गए ताजमहल को बनाने का काम 1632 में शुरू कर दिया गया था दोस्तों आपको तो पता ही होगा कि ताजमहल बहुत ही बड़ा महल है इसलिए ताजमहल को बनाने में पूरे 21 वर्ष लग गए ताजमहल 1653 में बन कर पूरे अच्छे तरीके से तैयार हो गया।

दोस्तों क्या आपको मालूम है कि ताजमहल बनवाने का आइडिया सबसे पहले किसने दिया था हम आपकी जानकारी के लिए बता दें कि ताजमहल बनवाने का श्रेय सबसे पहले उस्ताद अहमद लाहौरी को दिया जाता है क्योंकि ताजमहल को बनवाने आदेश इन्होंने ही शाहजहां को दिया था।

जैसे आज के समय में अगल बगल में किसी भी बात पर विवाद हो जाता है ठीक उसी प्रकार ताजमहल को भी लेकर विवाद हुआ था क्योंकि उस समय आधे लोग ताजमहल को हिंदुओं का मंदिर मानते थे उन लोगों का यह कहना था कि यह शिव मंदिर नहीं तो तेजोमहालय है इसी बात को लेकर वहां के लोगों ने बहुत ही ज्यादा विवाद किया यह विवाद इतना बड़ा हो गया था कि इस बात की खबर हाई कोर्ट को भी हो गई।

जब हाई कोर्ट ने इस विवाद को शांत करने की कोशिश की तो कुछ लोगों ने हाईकोर्ट से यह मांग की कि ताजमहल के नीचे के सारे दरवाजे खोल दिए जाएं जिनमें से 22 कमरे 1934 में खोलने पर उस कमरे के अंदर हीरे चांदी व सोने की मूर्तियां पाई गई बाकी शेष कमरों में रास्ते बने हुए थे जोकि 40 से 50 साल पहले ही उन रास्तों को बंद कर दिया गया था और आप इस तरीके से बहुत ही आसानी से ताजमहल के बारे में जानकारी।

ताजमहल क्यों बनाया गया था

दोस्तों अगर आप एक स्टूडेंट हो तो आपको ताज महल से संबंधित जानकारी होनी चाहिए क्योंकि परीक्षाओं में इस विषय पर बहुत ही ज्यादा क्वेश्चन पूछे जाते है ताजमहल के बारे में जानकारियां करने के लिए ऐसे में आप इंटरनेट का सहारा ले सकते हो अगर आप गूगल पर ताज महल क्यों बनाया गया था सर्च करते हो तो आपको इस विषय पर बहुत ही आसानी से पूरी जानकारी मिल जाएगी।

ताजमहल शाहजहां ने अपनी पत्नी के लिए बनवाया था क्योंकि जब शाहजहां की शादी नहीं हुई थी तब शाहजहां ने अपनी पत्नी को कुछ ऐसा प्रस्ताव देने को सोचा जो कि पूरे विश्व में ना हो यही बात शाहजहां सोच रहे थे की उन्हीं के बगल में उस्ताद लाहौरी अहमद नाम के व्यक्ति वहीं पर खड़े थे उन्होंने शाहजहां को एक बहुत ही अच्छा प्रस्ताव दिया कि वह अपनी होने वाली पत्नी को ताजमहल का प्रस्ताव दें यह प्रस्ताव शाहजहां की पत्नी मुमताज को बहुत ही अच्छा लगेगा हमारे कहने का यह मतलब था कि ताजमहल को केवल मुमताज के लिए ही बनाया गया था आप इस तरीके से बहुत ही आसानी से ताजमहल के बारे में बहुत ही आसानी से जानकारी एकत्रित कर सकते हो।

ताजमहल का इतिहास

दोस्तों ताजमहल को बनाने में बहुत ही ज्यादा समय लग गया ताजमहल को बनाने में पूरे 21 वर्ष बीत गए और इस माल को बनाने में पूरे 20000 मजदूर कंटिन्यू लगे रहे तब जाकर ताजमहल बनकर तैयार हुआ है।

 ताजमहल की स्थापना ताजमहल की स्थापना 1653 मैं शाहजहां के अनुसार हुआ था जब हम ताजमहल के इतिहास के बारे में जानना चाहते हैं तो कुछ ऐसी बातें हमारे सामने आ जाती है जिन्हें हम समझ नहीं पाते है क्योंकि वहां को लोगों का यह कहना था कि मुमताज 1631 में निधन हो गई थी और मुमताज को ताजमहल के नीचे ही दफना दिया गया था यानी कि आप बहुत ही आसानी से समझ सकते हो कि मुमताज के मरने के बाद ताजमहल बनना शुरू हुआ है और आप इस तरीके से बहुत ही आसानी से ताजमहल के बारे में छोटी से छोटी जानकारी बहुत ही आसानी से हासिल कर सकते हो।

ताजमहल के निर्माण

दोस्तों हमने आपको ताजमहल के बारे में बहुत कुछ जानकारी बता चुके है अब हम आपको ताजमहल के इतिहास से संबंधित कुछ ऐसी बात बताएंगे जिन्हें आप जानकर बहुत ही अच्छा व्यतीत करोगे हमने आपको नीचे कुछ पॉइंट के माध्यम से विस्तार पूर्वक बताया हुआ है जिसे आप पढ़ कर बहुत ही आसानी से समझ सकते हो।

  • दोस्तों ताजमहल यमुना नदी के किनारे आगरा के दक्षिणी छोर पर स्थित हैं।
  • दोस्तों ताजमहल को भले ही 21 वर्ष लग गए बनाने में लेकिन वहां के लोगों का यह कहना है कि ताजमहल के स्थान पर पहले से ही राजपूताना नाम का माल था।
  • राजपूताना महल के राजा जयसिंह आलीशान भव्य थे।
  • ताजमहल का स्थान शाहजहां ने खरीदा हुआ था इस स्थान को शाहजहां ने जय सिंह से खरीदा हुआ था।
  • ताजमहल नदी के किनारे स्थित था इसीलिए ताजमहल को बनवाने से पहले 3 एकड़ भूमि से दूर 50 मीटर ऊंचा बनाया गया।
  • ताजमहल को बनाने में पूरे 50 कुएं में बनाए गए थे।
  • ताजमहल का ऊंचा करने के लिए वहां के स्थान पर कूड़ा करकट और बॉस के जरिए उस स्थान को ऊंचा किया गया।
  • दोस्तों ताजमहल को बनाने के लिए शाहजहां ने मजदूरों को यह आदेश दिया कि वह 1 दिन में चाहे जितने अपने मन से ताजमहल बनाने के लिए ईट इस्तेमाल कर सकते हैं।
  • ताजमहल को बनाने में बहुत ही अधिक से अधिक समय लग गए।
  • ताजमहल को बनाने के लिए शुरू से अंत तक 30 से 40 बैल गाड़ियों का उपयोग किया गया।
  • ताजमहल 1653 ईस्वी में बनकर तैयार हुआ।
  • ताजमहल के नीचे मुमताज को दफनाया गया हैं।

ताजमहल के बारे में पूछे जाने वाले प्रश्न

यहाँ पर मैंने ऐसे पांच सवालों के जवाब दिए है जो की अक्सर लोग ताजमहल के बारे में पूछते रहते हैं।

Q. ताजमहल के कितने दरवाजे बंद हैं?

ताजमहल में कई दशकों से 22 दरवाजे बंद हैं।

Q. ताजमहल कौन सी नदी के किनारे स्थित हैं?

ताजमहल यमुना नदी के किनारे स्थित हैं।

Q. ताजमहल लकड़ी पर बना हैं?

हां ताजमहल बांस के सहारे बना हुआ हैं।

निष्कर्ष

अगर आपको Taj Mahal Kab Bana Tha लेख हेल्पफुल रहा है तो फिर आप यह लेख अपने दोस्तों के साथ शेयर जरूर करना और इसके अलावा अगर आपको इस लेख से संबंधित कोई भी जानकारी चाहिए तो उसके लिए आप नीचे कमेंट बॉक्स का इस्तेमाल कर सकते हैं।

Abhishek Maurya

मेरा नाम अभिषेक मौर्य है और मैं उत्तर प्रदेश वाराणसी डिस्ट्रिक्ट का रहने वाला हूं और मैं एक दिव्यांग हूं। मुझे अलग-अलग विषयों पर आर्टिकल लिखना बहुत अच्छा लगता है और इसी को मैंने अपना जुनून बनाया है। मैं पिछले 3 वर्षों से आर्टिकल लेखन का कार्य कर रहा हूं। आपको हमारे द्वारा लिखे गए लेख कैसे लगते हैं? आप हमें कमेंट बॉक्स में अवश्य बताएं। मेरा भी एक हिंदी ब्लॉग है जिस पर मैं रिलेशनशिप के ऊपर आर्टिकल लिखता हूं जिसका यूआरएल इस प्रकार से है। माय वेबसाइट यूआरएल - https://hindibaatchit.com/

Leave a Reply