Tehsildar कैसे बने पूरी जानकारी जानिए हिंदी में

गांव या कस्बों में लोग जिला सरकारी महकमे के लोगों को कार्य करते देखते है, उन्हें सबसे प्रतिष्ठित और सम्मानित पद मानते है तहसीलदार भी ऐसा ही एक पद है जो गांव कस्बों के लोगों के साथ मिलकर सरकारी कार्य करता है और समाज में प्रतिष्ठित और प्रचलित भूमिका रखता है। अगर आप Tehsildar Kaise Bane के बारे में गूगल पर जानकारी ढूंढ रहे है तो आज के इस लेख में हमने कुछ सरल तरीकों से आपको तहसीलदार की नौकरी पाने के बारे में जानकारी दी है, उन्हें ध्यानपूर्वक पढ़ें।

आज हर कोई एक प्रतिष्ठित सरकारी नौकरी पाना चाहता है समाज में बड़ी तेजी से सरकारी नौकरी की मांग बढ़ रही है मगर बिना मेहनत के किसी भी तरह की नौकरी को पाना बहुत मुश्किल है मेहनत के साथ आपको सही रास्ता पता होना चाहिए जिससे आप अपने पसंद की नौकरी पा सकें अगर आप तहसीलदार बनना चाहते है तो आपको कुछ खास निर्देशों का पालन करना होगा जिसे सरल शब्दों में नीचे बताया गया हैं। 

Tehsildar कौन होता है

किसी भी जिले को अलग-अलग तहसील में बांटा जाता है और एक तहसील का प्रमुख मुखिया तहसीलदार होता है, जो इस जिले में आने वाले गांव के किसानों को उनके भूमि की सटीक जानकारी और लाभ देता है। इसके अलावा किसी भी प्रकार के सरकारी दस्तावेज से संबंधित परेशानियों का निराकरण भी एक तहसीलदार करता है तहसीलदार बहुत ही जिम्मेदारी भरा पद है जिसका मुख्य कार्य किसी गांव या कस्बे में रहने वाले लोगों को सभी प्रकार की सुविधा देना हैं।

तहसीलदार एक ऐसा सरकारी पद है जिसे छोटे गांव या कस्बों में सबसे प्रमुख पद माना जाता है वह वहां के सभी किसान और अन्य लोगों को सरकारी लाभ पहुंचाने का कार्य करता है। गांव में पटवारी का आज रात जमीन से जुड़े जितने भी कार्य होते है वह तहसीलदार के हस्ताक्षर के बिना नहीं हो सकते जिस वजह से तहसीलदार को एक प्रमुख सरकारी नौकरी का पद माना जाता हैं।

Tehsildar क्या कार्य करता है

तहसीलदार एक इतना प्रमुख पद है कि उसके विभिन्न प्रकार के कार्य और जिम्मेदारी होती है जिसे एक लेख में समझाना मुश्किल हो सकता है इस वजह से तहसीलदार के प्रमुख कार्यों को नीचे सूचीबद्ध तरीकों से लिखा गया है उन्हें ध्यानपूर्वक पढ़ें। 

  • तहसीलदार एक ग्राम पंचायत का प्रमुख पद है जो सरकार के तरफ से दिए जाने वाली सभी प्रकार की सुविधाओं को गांव के किसानों और अन्य लोगों तक पहुंचाता हैं।
  • सरकारी दस्तावेज जैसे जाति प्रमाण पत्र आय प्रमाण पत्र पहचान प्रमाण पत्र आवासीय जन्म प्रमाण पत्र इन सभी प्रकार की जानकारियों पर तहसीलदार के हस्ताक्षर के बाद ही उसे वैद्य माना जाता हैं।
  • गांव में एक किसान की कितनी भूमि है और किसानों को सरकार के द्वारा दी जा रही सुविधाएं सही तरीके से पहुंच रही है या नहीं इसे एक तहसीलदार देखरेख करता हैं।
  • गांव कस्बे में पटवारी जमीन के संबंध में जितने भी कार्य करता है उनकी देखरेख करना भी एक तहसीलदार का कार्य होता हैं।

Tehsildar कैसे बने

अगर ऊपर बताई गई जानकारी को पढ़ने के बाद आप तहसीलदार बनने की प्रक्रिया के बारे में विचार कर रहे हैं तो नीचे बताए गए निर्देशों का आदेश अनुसार पालन करें और अपने तहसीलदार बनने के सपने को पूरा करें।

1. अपनी प्रारंभिक शिक्षा पूरी करें और ग्रेजुएशन की डिग्री ले

यह एक प्रतिष्ठित नौकरी है, जिसे पाने के लिए आपको सबसे पहले अपनी प्रारंभिक शिक्षा पूरी करते हुए स्नातक की डिग्री लेनी है आप किसी भी स्ट्रीम से अपने स्नातक की पढ़ाई पूरी कर सकते हैं।

सबसे पहले अच्छे अंक से दसवीं परीक्षा पास करें उसके बाद कोई भी स्ट्रीम चुनकर 12वीं कक्षा पास करें और आप किसी भी कॉलेज यूनिवर्सिटी से कोई सी भी स्ट्रीम से ग्रेजुएशन की पढ़ाई पूरी करें और अपनी एक डिग्री ले।

2. राज्य लोक सेवा आयोग के लिए आवेदन करें 

भारत के प्रत्येक राज्य के लिए राज्य लोक सेवा आयोग की परीक्षा प्रेतेक साल आयोजित की जाती है। आप अपने राज्य की राज्य लोक सेवा आयोग की परीक्षा के लिए आवेदन कर सकते है, इसकी जानकारी आपको लोक सेवा आयोग की आधिकारिक वेबसाइट पर मिल जाएगी इसके अलावा गूगल पर भी आप इसके बारे में सर्च करके जानकारी पता कर सकते हैं कि कब आपके राज्य में राज्य लोक सेवा आयोग की परीक्षा आयोजित करवाई जा रही हैं।

3. प्रीलिम्स की परीक्षा पास करें

सबसे पहले एक परीक्षा ली जाती है जिसमें कुछ वैकल्पिक प्रश्न पूछे जाते हैं उन सभी वैकल्पिक प्रश्न का कट ऑफ मार्क्स तक सही उत्तर देने के बाद आप प्रिलिम्स परीक्षा को पास कर लेंगे अपनी इस पहली परीक्षा को पास करने के बाद जो छात्र चयनित होंगे वह दूसरे चरण की परीक्षा में बैठ सकते हैं। 

4. मेंस की परीक्षा पास करें

इसके बाद आपसे लिखित परीक्षा ली जाएगी जिसमें भारतीय इतिहास भारतीय राजनीति भारतीय भूगोल से जुड़े कुछ सवाल पूछे जाएंगे जिनका आपको लिखित रूप से जवाब देना है और आप मेंस की परीक्षा पास कर लेंगे इस परीक्षा को पास करने वाले छात्र को कट ऑफ मार्क्स ले आना होता है और जो छात्र उतना मार्क्स ले आता है उसका इंटरव्यू के लिए चयन होता हैं।

5. इंटरव्यू पास करें और दस्तावेज सत्यापित करें

ऊपर बताए गए सभी निर्देशों का पालन करते हुए अगर आप सभी परीक्षाओं को सही तरीके से पास कर लेते है तो आपको इंटरव्यू पास करना होगा जिसमें आपसे कुछ साधारण प्रश्न पूछे जाएंगे जिनका सही तरीके से जवाब देने के बाद आप लोक सेवा आयोग के द्वारा चयनित कर लिए जाएंगे उसमें आपको दस्तावेज सत्यापन करना होता है अगर आप के पहचान पत्र और इस प्रकार के कुछ साधारण दस्तावेज सही है तो तहसीलदार की नौकरी दे दी जाती हैं।

Tehsildar बनने के लिए योग्यता

जैसा कि हमने आपको बताया तहसीलदार एक प्रतिष्ठित पद है और इस पद पर नौकरी प्राप्त करने के लिए व्यक्ति के पास कुछ साधारण योग्यता होनी चाहिए तभी आप इस नौकरी के लिए आवेदन कर सकता है। जिसमे सबसे प्रमुख तहसीलदार बनने के लिए शिक्षण योग्यता होती हैं।

हालांकि इस नौकरी को पाने के लिए किसी भी प्रकार से खास विषय में जानकारी होने की आवश्यकता नहीं होती है। मगर इस पद को पाने के लिए आपके पास स्नातक डिग्री होनी चाहिए अर्थात् किसी भी स्ट्रीम से भारत के किसी भी मान्यता प्राप्त कॉलेज या यूनिवर्सिटी से आपको एक ग्रेजुएशन की डिग्री मिली हुई होनी चाहिए और इसके अलावा अगर आप की उम्र निर्देश अनुसार अधिकतम आयु से कम है तो आप तहसीलदार की परीक्षा में बैठ सकते हैं।

Tehsildar बनने के लिए आयु सीमा 

तहसीलदार एक राज्य लोक सेवा आयोग की परीक्षा है जिस में बैठने के लिए मुख्य रूप से न्यूनतम उम्र 21 वर्ष और अधिकतम उम्र 40 वर्ष रखी गई है मगर अलग-अलग श्रेणी के लोगों के लिए यह उम्र अलग अलग हैं।

  • सामान्य वर्ग के लोगों के लिए – जनरल वर्क के लिए न्यूनतम आयु 21 वर्ष और अधिकतम आयु 32 वर्ष रखी गई है।
  • ओबीसी वर्ग के लोगों के लिए – ओबीसी वर्ग के लिए न्यूनतम आयु 21 वर्ष और अधिकतम आयु में 3 वर्ष बढ़ाकर अर्थात 35 वर्ष रखी गई हैं।
  • SC/ST वर्ग के लोगो के लिए – SC ST वर्ग के लोगों के लिए न्यूनतम आयु 21 वर्ष और अधिकतम आयु में 5 वर्ष बढ़ाकर अर्थात 40 वर्ष रखी गई हैं।

Tehsildar बनने की तैयारी कैसे करें

अगर आप तहसीलदार बनना चाहते है तो इसके लिए आपको कुछ खास तरीके से अपने परीक्षा की तैयारी करनी होगी क्योंकि यह परीक्षा लोक सेवा आयोग के द्वारा आयोजित करवाई जाती है किस प्रकार आप तहसीलदार बनने की तैयारी कर सकते है इसे नीचे संक्षिप्त रूप से समझाया गया हैं। 

  • सबसे पहले रोजाना अखबार पढ़ने की आदत डालें। तहसीलदार बनने की शुरुआत आपको देश में हो रहे चीजों की जानकारी से करनी चाहिए जिसमें आप “द हिंदू” जैसे अखबार को रोजाना पढ़ने की आदत डालें।
  • तहसीलदार की परीक्षा में भारतीय इतिहास भारतीय भूगोल और भारतीय राजनीति से जुड़े कुछ प्रश्न पूछे जाते हैं जिस वजह से इन सभी किताबों के कक्षा दसवीं से ग्रेजुएशन तक के एनसीईआरटी को आप ध्यानपूर्वक पढ़ें।
  • प्रीवियस ईयर क्वेश्चन पेपर को गूगल से डाउनलोड करके सॉल्व करने का प्रयास करें। अलग-अलग साल के क्वेश्चन पेपर को हल करते हुए आप यह समझ पाएंगे कि किस तरह के सवाल में हर बार पूछे जा रहे हैं।
  • विश्वास और धैर्य बनाते हुए रोजाना प्रैक्टिस करते रहें और एक निश्चित टाइम टेबल के जरिए रोजाना पढ़ाई करें।

Tehsildar की सैलरी कितनी होती है

हम किसी भी तरह के नौकरी को पानी का प्रयास इसलिए करते हैं क्योंकि उसमें हम को अलग-अलग तरह के फायदे और अच्छी तनख्वाह मिलती है। अगर आप तहसीलदार में मिलने वाले तनख्वाह की बात करें तो आमतौर पर जब एक तहसीलदार के पद पर नौकरी लगती है तो आपकी तनख्वाह ₹35000 प्रति माह से ₹45000 प्रति माह होती है कुछ साल में नया तहसीलदार के पद पर प्रमोशन हो जाता है और उस वक्त आपकी तनख्वाह ₹50000 प्रति माह से ज्यादा हो जाती हैं।

तहसीलदार के नौकरी में आपको यात्रा भत्ता महंगाई भत्ता एक मकान और यात्रा करने के लिए गाड़ी और उसका किराया सरकार के तरफ से दिया जाता है। साथ ही इस तरह के अलग-अलग सुविधा एक सरकारी नौकरी होने की वजह से आपको अक्सर सरकार के तरफ से मिलती रहती हैं।

निष्कर्ष

अगर आपको Tehsildar Kaise Bane लेख हेल्पफुल रहा है तो फिर आप यह लेख अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करना।इसके अलावा अगर आपको इस लेख से सम्बंधित कोई भी जानकारी चाहिए तो उसके लिए आप निचे कमेंट बॉक्स का इस्तेमाल कर सकते हैं। 

Abhishek Maurya

मेरा नाम अभिषेक मौर्य है और मैं उत्तर प्रदेश वाराणसी डिस्ट्रिक्ट का रहने वाला हूं और मैं एक दिव्यांग हूं। मुझे अलग-अलग विषयों पर आर्टिकल लिखना बहुत अच्छा लगता है और इसी को मैंने अपना जुनून बनाया है। मैं पिछले 3 वर्षों से आर्टिकल लेखन का कार्य कर रहा हूं। आपको हमारे द्वारा लिखे गए लेख कैसे लगते हैं? आप हमें कमेंट बॉक्स में अवश्य बताएं। मेरा भी एक हिंदी ब्लॉग है जिस पर मैं रिलेशनशिप के ऊपर आर्टिकल लिखता हूं जिसका यूआरएल इस प्रकार से है। माय वेबसाइट यूआरएल - https://hindibaatchit.com/

Leave a Reply