एफिलिएट मार्केटिंग क्या है – What Is Affiliate Marketing In Hindi

अगर आप ऑनलाइन पैसा कमाना चाहते है तो एफिलिएट मार्केटिंग एक अच्छा विकल्प हो सकता है। इसके लिए आपको एफिलिएट मार्केटिंग क्या हैWhat Is Affiliate Marketing In Hindi को समझना होगा, जिस बारे में विस्तार से इस लेख में बताया गया हैं।

इस लेख में हम आपको एफिलिएट मार्केटिंग क्या है के साथ-साथ यह भी बताएंगे कि किस तरह से आप एफिलिएट मार्केटिंग से अच्छा पैसा कमा सकते है। आपको इस लेख के साथ अंत तक बने रहना हैं। 

एफिलिएट मार्केटिंग क्या है – What Is Affiliate Marketing In Hindi

एफिलिएट मार्केटिंग एक ऐसा तरीका है जिसमें आप अपनी जनता को कंपनी के कुछ प्रोडक्ट भेजते है और हर प्रोडक्ट के बिकने पर आपको कमीशन मिलता है। अर्थात अगर आपके पास कुछ जनता है जो आपके वेबसाइट पर, यूट्यूब चैनल पर, या सोशल मीडिया पेज पर एक्टिव हो तो आप इस तरीके से अच्छा पैसा कमा सकते हैं।

हर कंपनी अपने प्रोडक्ट को बेचना चाहती है ताकि वो काम सके मगर एफिलिएट मार्केटिंग ऐसा तरीका है जिसमें आप उस कंपनी के साथ पैसा कमा सकते है। जब आप उस कंपनी के प्रोडक्ट्स को बेचने में मदद करते है तो वह कंपनी उस प्रोडक्ट की कीमत का 10 परसेंट या 15 परसेंट आपको देती है जिसे हम एफिलिएट मार्केटिंग कहते हैं।

एफिलिएट मार्केटिंग कैसे काम करता हैं

अगर आप ऑनलाइन किसी काम को करते है या फिर आप यह चाहते है कि आप की बनाई हुई प्रोडक्ट ऑनलाइन बीके या आपकी कोई ऑनलाइन वेबसाइट हो तो आपके लिए इस सवाल का जवाब जानना बहुत ही आवश्यक हैं। 

किसी भी बिजनेस को ऑनलाइन चलाने के लिए एफिलिएट मार्केटिंग का तरीका जानना बहुत ही जरूरी है क्योंकि आज के समय में यह काफी फायदेमंद साबित हुआ है। एफिलिएट मार्केटिंग में कंपनी अपने प्रोडक्ट का प्रचार करने के लिए एड्स का इस्तेमाल नहीं करती है वह कंपनी किसी पॉपुलर ब्लॉग, यूट्यूब चैनल, या सोशल पेज के जरिए अपने समान का प्रचार करती हैं।

एक ऐसा ब्लॉग या वेबसाइट जिसके ऊपर 1000 से 2000 लोग रोज आते हो अगर वह ब्लॉक किसी सामान का प्रचार करें और कहेगी इस प्रोडक्ट को खरीदना चाहिए और उन हजार लोगों में से 10 लोग भी उस सामान को खरीदेंगे तो कंपनी को बिना पैसा लगाए 10 सेल मिल जायगी और उस ब्लॉग के मालिक को हर सेल का 5% या 10% देना होगा जो ब्लॉग के मालिक और प्रोडक्ट के मालिक के लिए एक फायदे का सौदा हैं।

उम्मीद करते है आप समझ पाए होंगे कि एफिलिएट मार्केटिंग कैसे काम करता है। इसमें एक कंपनी होती है जिसके पास उनका प्रोडक्ट है जिसे वह बेचना चाहती है वह किसी पॉपुलर वेबसाइट यूट्यूब चैनल का इस्तेमाल करती है जहां हजारों लोग रोजाना आते हो और उस यूट्यूब चैनल या वेबसाइट का मालिक इनके प्रोडक्ट की तारीफ करता है सेल मिलने पर कंपनी को मुनाफा होता है और हर मुनाफे का 5% या 10% ब्लॉग या यूट्यूब चैनल के मालिक को देना पड़ता है इसे ही एफिलिएट मार्केटिंग कहते हैं।

एफिलिएट मार्केटिंग करने के लिए रिक्वायरमेंट

  • सबसे पहले आपको एक प्लेटफार्म चुनना होगा जहां आप लोगों को आकर्षित करके बुला सके। आप इस प्लेटफार्म के रूप में किसी सोशल मीडिया ऐप को चुन सकते है, कोई ब्लॉग शुरू कर सकते है, या अपना यूट्यूब चैनल बना सकते हैं। 
  • जब आप एक अच्छा जरिया चुन लें तो अपने कंटेंट के बारे में सोचें कि किस तरह के प्रोडक्ट या सामान का प्रचार आप अपने प्लेटफार्म के जरिए करना चाहेंगे। 
  • जब आप प्लेटफार्म और प्रोडक्ट के बारे में निश्चित हो जाएं तब तरीका सोचे जिस तरह से आप लोगों को अपने प्लेटफार्म की ओर आकर्षित करेंगे। 

ध्यान दें – आप लोगों को अपनी ओर आकर्षित करने के लिए ऐड्स चला सकते है। मगर हम आपको बता दें कि कल पैसा खर्चा करने से आप इस तरीके से पैसा नहीं कमा पाएंगे आपको निश्चित तौर पर पता होना चाहिए कि किस तरह से आपको आगे बढ़ना है जिस बारे में हमने विस्तार से समझाया हैं।

अगर आपको एफिलिएट मार्केटिंग शुरू करनी है तो आपको कुछ खास बिंदुओं के ऊपर अपना पूर्ण ध्यान देना होगा वह खास बातें कौन सी है नीचे बताया गया है उन्हें कृपया ध्यान से पढ़ें और अपने बिजनेस के लिए तैयारी करें। 

एक सही प्लेटफॉर्म चुने: यह पहला टिप्स है जिसे अब नजरअंदाज नहीं कर सकते आप की जनता कहां पर सबसे ज्यादा समय बिताती है यह जानना जरूरी है। प्लेटफॉर्म के रूप में किसी ब्लॉक को शुरू कर सकते है, यूट्यूब चैनल शुरू कर सकते है, यह किसी सोशल मीडिया पेज का इस्तेमाल कर सकते हैं। 

ब्लॉग को प्लेटफार्म कब चुने: अगर आप उस तरह के प्रोडक्ट को प्रमोट करना चाहते है जिसे खरीदने वाले लोग ज्यादातर पढ़ना पसंद करते है तब आपको एक ब्लॉग शुरू करना चाहिए जैसे आप किताबों की एफिलिएट मार्केटिंग करना चाहते है, या किसी इलेक्ट्रॉनिक गैजेट की एफिलिएट मार्केटिंग शुरू करना चाहते है, तो लोग इस तरह की चीजों को कंपेयर करने के लिए और रिव्यू पता करने के लिए गूगल का इस्तेमाल करते है इसलिए ब्लॉग शुरू करें। 

यूट्यूब चैनल को प्लेटफार्म कब चुने: अगर आप ऐसे किसी प्रोडक्ट को एफिलिएट मार्केटिंग के जरिए प्रमोट करना चाहते है जिसकी जनता ज्यादातर यूट्यूब पर अपने सवालों के जवाब ढूंढती है तो आपको यूट्यूब चैनल शुरू करना चाहिए। 

अगर किसी फिटनेस आइटम, खाद्य सामग्री या किचन से जुड़े प्रोडक्ट का रिव्यू शुरू करना चाहते है तो लोग खाना बनाने और खाना के बारे में जानने के लिए आजकल ज्यादा यूट्यूब चैनल का इस्तेमाल कर रहे है तो आपको यूट्यूब चैनल खोलना चाहिए। 

सोशल मीडिया को प्लेटफार्म कब चुने: आजकल की 16 साल से 25 साल के उम्र के बच्चे Instagram और Facebook ज्यादा चला रहे है और अगर आप किसी ऐसे प्रोडक्ट को प्रमोट करना चाहते है जिसे बच्चे इस्तेमाल करते हो तो आपको सोशल मीडिया का सहारा लेना चाहिए। 

हमने जो बताया वह केवल एकमात्र तरीका नहीं हो सकता अपने प्लेटफार्म को चुनने का। मगर यह एक दिशा है कि आपको इस तरह से सोचना है अपने आने वाली जनता के हिसाब से सोचें कि उस तरह की जनता ज्यादातर किस प्लेटफार्म का इस्तेमाल करती है और उसके बाद अपने सही प्लेटफॉर्म का चयन करें। 

नीच का सही चुनाव करें: एफिलिएट मार्केटिंग में दूसरा सबसे महत्वपूर्ण टिप्स जिससे आप नजरअंदाज नहीं कर सकते वह आपका चुना हुआ नीच है। कहने का अर्थ यह है कि आप किस तरह के प्रोडक्ट को चुनते है प्रमोट करने के लिए यह भी बहुत अहम भूमिका निभाता है एफिलिएट मार्केटिंग में। 

आपको किसी ऐसे प्रोडक्ट को नहीं चुनना है जिसकी बिक्री सालों भर ना होती हो वरना आपको अपनी जनता को कुछ समय के लिए ही आकर्षित करना होगा जो की बहुत कठिन हो जाता हैं।

जैसे अगर आप ठंड में मिलने वाली जैकेट एफिलिएट मार्केटिंग शुरू करेंगे तो आपको अपनी जनता को केवल ठंड के समय अपने प्लेटफार्म पर खींचना होगा जो कि ज्यादा फायदेमंद नहीं है और इस तरह के नीच पर काम करना कठिन भी हैं। 

हर एक ही नीच का चुनाव करते वक्त आप कंपटीशन का भी पूर्ण ध्यान रखें जैसे आज-कल इलेक्ट्रॉनिक आइटम पर एफिलिएट मार्केटिंग करना काफी मुश्किल हो चुका है क्योंकि इस प्रोडक्ट को प्रमोट करने वालों की संख्या बहुत ज्यादा बढ़ गई है तो आपको कंपटीशन के हिसाब से और जरूरत के हिसाब से अपने नीच का चुनाव करना हैं। 

सही एफिलिएट प्रोग्राम चुने: एक ऐसी कंपनी चुने जो आपको ज्यादा से ज्यादा पर आउट देने को तैयार हो। गूगल पर कुछ देर रिसर्च करने के बाद आपको यह पता चल जाएगा कि एफिलिएट मार्केटिंग में सबसे ज्यादा पैसे देने वाली कंपनी कौन सी हैं। 

हम अपने विचार से बताएं तो आपको अमेजॉन एफिलिएट प्रोग्राम के साथ आगे बढ़ना चाहिए मगर आप अपने हिसाब से किसी भी एफिलिएट प्रोग्राम को चुन सकते है बस इस बात का ध्यान रखें कि उनका पेमेंट टाइम पर होता हो और सीधे आपके बैंक अकाउंट में होता हो। 

एक अच्छा कंटेंट तैयार करें: आप किसी भी प्लेटफार्म के साथ जुड़ जाएं या कोई भी कंपनी आपको प्रोडक्ट दे आप एफिलिएट मार्केटिंग से तभी कमा पाएंगे जब आप की जनता अच्छी होगी। 

एक अच्छी जनता पाने के लिए आपको अपने कंटेंट पर मेहनत करना होगा आपका कंटेंट जितना अच्छा होगा आप की जनता उतनी ही अच्छी होगी। आप अपने प्लेटफार्म पर किस तरह से ऐसा कंटेंट डालेंगे लोग उसे पसंद करें और उसके साथ अंत तक जुड़े रहे यह जानना बहुत ही आवश्यक है अपना ज्यादा से ज्यादा समय अपने कंटेंट पर लगाएं। 

क्लिक को सेल्स में बदले: आपके प्लेटफार्म पर कितनी भी ज्यादा तादाद में लोग क्यों ना आ जाए अगर आप का प्रोडक्ट यूजर की समस्या का सटीक समाधान देने में सक्षम नहीं है तो आप सेल्स नहीं कर पाएंगे। 

यह जरूरी है कि आप ऐसा प्रोडक्ट चुनें जो आपकी जनता के समस्या का सटीक समाधान करता हो जब आपके प्लेटफार्म पर आने वाली जनता अपनी समस्या का समाधान आएगी तब वह आपके एफिलिएट लिंक पर क्लिक करेगी। 

जिससे सेल्स होगा अंततः आपका मोटिफ यही होना चाहिए कि किस तरह ज्यादा से ज्यादा क्लिक लिया जाए जिसके लिए आपको जनता की समस्या के समाधान पर ध्यान देना होगा। एक सही समस्या का समाधान करने वाले प्रोडक्ट का चयन आप अपने competition का रिसर्च कर के पता लगा सकते हैं।

एफिलिएट मार्केटिंग कैसे शुरू करें 

जब आप एफिलिएट मार्केटिंग के बारे में पूरी तरह से जानकारी ले चुके है तब हम आपको बताएंगे की एफिलिएट मार्केटिंग किस तरह से शुरू की जाती हैं। 

एफिलिएट मार्केटिंग भी दो तरह की होती है जिसमें पहला है डिजिटल तरीका और दूसरा है फिजिकल तरीका। 

डिजिटल तरीका: डिजिटल तरीका से हमारा मतलब है कि आप किसी कंपनी के प्रोडक्ट को ऑनलाइन किसी प्लेटफार्म पर प्रमोट करें और जो लोग इस प्रोडक्ट को खरीदेंगे तो आपको कुछ कमीशन मिलेगा। 

फिजिकल तरीका: फिजिकल तरीके से हमारा तात्पर्य यह है कि आप किसी कंपनी के प्रोडक्ट को ऑफलाइन लोगों से मिलकर उन्हें समझाएं कि किस तरह वह इस कंपनी को ज्वाइन कर सकते है या इस कंपनी के प्रोडक्ट को खरीद कर अपनी समस्या का समाधान पा सकते हैं। 

1. एफिलिएट मार्केटिंग शुरू करने का डिजिटल तरीका

आजकल हर कोई डिजिटल होता जा रहा है हर काम मोबाइल या लैपटॉप से बड़ी आसानी से होता जा रहा है इसलिए यह जरूरी है कि आप अपने आने वाले बिजनेस को डिजिटल करने का प्रयास करें। एफिलिएट मार्केटिंग एक तरह का व्यापार है जिसमें आपको अपने प्रोडक्ट के लिंक को शेयर या प्रमोट करना है ताकि ज्यादा से ज्यादा लोग इस प्रोडक्ट को खरीदे है और आप ज्यादा से ज्यादा पैसा कमा पाए। 

डिजिटल एफिलिएट मार्केटिंग शुरू करने के लिए आपको एक अच्छी कंपनी के बारे में पता करना है और उस कंपनी के प्रोडक्ट को अलग-अलग डिजिटल प्लेटफॉर्म पर प्रमोट करना है जिसके लिए आप ऊपर बताए हुए टिप्स का पालन कर सकते हैं। 

2. एफिलिएट मार्केटिंग शुरू करने का फिजिकल तरीका

एफिलिएट मार्केटिंग में जिस तरह हम एक प्रोडक्ट को प्रमोट करते है और उस प्रोडक्ट के बिकने पर कमीशन कम आते है ठीक उसी तरह फिजिकल एफिलिएट मार्केटिंग में हम किसी कंपनी के साथ फिजिकली जुड़ जाते है जिसके लिए हमें किसी प्लेटफार्म की जरूरत नहीं होती।

अर्थात आपको किसी कंपनी के साथ जोड़ना होगा आजकल मार्केट में बहुत सारी ऐसी कंपनियां है जिन कंपनियों में आप कुछ पैसे देकर जुड़ सकते है और उसके बाद उस कंपनी के प्रोडक्ट को प्रमोट करके आप अच्छा खासा कमीशन कमा सकते है फिजिकल एफिलिएट मार्केटिंग को डायरेक्ट मार्केटिंग भी कहते हैं। 

आपको डायरेक्ट मार्केटिंग से करोड़पति बनने वाले बहुत सारे लोगों की कहानियां सुनने को मिल जाएंगी इसमें आपको किसी कंपनी के साथ जुड़कर उस कंपनी के बारे में लोगों को बताना है ताकि ज्यादा से ज्यादा लोग आपके साथ जुड़ सकें और हर एक लोग को जोड़ने पर आपको कमीशन मिलता है जिसके जरिए आप बहुत सारा पैसा कमा सकते हैं।  

एफिलिएट प्रोग्राम कैसे ज्वाइन करें 

एफिलिएट प्रोग्राम ज्वाइन करना कोई बहुत बड़ी बात नहीं है आप जिस तरह फेसबुक अकाउंट बनाते है बिल्कुल उतनी ही आसानी से आप एफिलिएट प्रोग्राम ज्वाइन कर सकते हैं।

सबसे बड़ी बात है एक सही एफिलिएट प्रोग्राम को चुनना। एफिलिएट प्रोग्राम को चुनते वक्त आप उस एफिलिएट प्रोग्राम से कितना पे आउट मिलता है अब कब उस पेमेंट को अपने बैंक अकाउंट में भेज सकते है और कितनी आसानी से आपको आपका पैसा बैंक में मिलेगा इन सारी बातों को ध्यान से जाने। 

बहुत सारे एफिलिएट प्रोग्राम आपको ज्यादा कमीशन देते है मगर उनके अकाउंट से बैंक अकाउंट में पैसा भेजने में काफी वक्त लगता है और लंबा तरीका होता है। आपको इस बात का पूर्ण ध्यान रखना है कि एफिलिएट प्रोग्राम ऐसा हो जिसने अब जल्दी से जल्दी पैसा निकालकर बैंक अकाउंट में भेज सकें। एफिलिएट प्रोग्राम चुनते वक्त इस बात का भी ध्यान रखें कि वह एफिलिएट कंपनी कितनी ज्यादा विश्वासी है ताकि लोग उस कंपनी के सामान को खरीदने में हिचकीचाय नहीं। 

जब आएगा पर एक ऐसा ही अपनी एक प्रोग्राम चुन लें तब उस एफिलिएट प्रोग्राम को ज्वाइन करने के लिए उस एफिलिएट प्रोग्राम की वेबसाइट पर जाएं और आपको ज्वाइन करने का ऑप्शन मिल जाएगा जहां आप अपने ईमेल आईडी और मोबाइल नंबर को देखकर उस एफिलिएट प्रोग्राम को ज्वाइन कर सकते हैं।

एफिलिएट प्रोडक्ट कैसे प्रमोट करें

Affiliate product को कैसे प्रमोटर किया जाए यह जानना बहुत जरूरी है। अगर आप अपने प्रोडक्ट को सही तरीके से प्रमोट नहीं करेंगे तो उस प्रोडक्ट पर सही जनता नहीं पहुंच पाएगी जिस वजह से आप अच्छा सेल नहीं जनरेट कर पाएंगे। 

आपको बता दें कि एफिलिएट प्रोडक्ट को प्रमोट करने का दो तरीका होता है एक पेड तरीका एक फ्री तरीका। पेड तरीके में आपको कुछ पैसे देकर अपने एफिलिएट प्रोग्राम के प्रोडक्ट को जनता तक पहुंचाना होता है। फ्री तरीका देखो ऐसा ही होता है बस आपको कोई पैसा नहीं देना चाहता। 

Affiliate product को प्रमोट करने का पेड तरीका: पैसे देकर आप एफिलिएट प्रोडक्ट का प्रमोशन कैसे कर सकते हो इस बारे में नीचे बताया गया है उन सभी तरीको को ध्यान से पढ़ें। 

1. Facebook

किसी कई तरह के प्रमोशन के लिए फेसबुक का काफी अच्छा विकल्प माना जाता है क्योंकि रोजाना लाखों लोग इस प्लेटफार्म पर अपने दिल की बात कहने आते है। लोगों की एक्टिविटी इस प्लेटफार्म पर ज्यादा है जिस वजह से प्लेटफार्म पर चार चलाने की सुविधा प्रदान करता हैं।

फेसबुक पर अपना प्रचार चलाना कोई बड़ी बात नहीं है आपको फेसबुक ऐड की वेबसाइट पर जाना है जहां जाकर आप अपना किस तरह का प्रचार चलाना चाहते हो इसे चुनो और कम पैसों में आप ज्यादा से ज्यादा लोगों तक अपने प्रोडक्ट को पहुंचा सकते हो। 

2. Instagram

जैसा कि हमने आपको पहले भी बताया कि 16 साल से 25 साल के बच्चे आजकल ज्यादातर इंस्टाग्राम चलाना पसंद करते है। Instagram पर लोगों की एक्टिविटी दिन प दिन पड़ती जा रही है और अगर आपका प्रोडक्ट ऐसा है जिसे 16 साल से 25 साल के व्यक्ति इस्तेमाल करना पसंद करेंगे तो इंस्टाग्राम आपके लिए एक अच्छा सुझाव हो सकता हैं। 

इस प्लेटफार्म पर आप ज्यादा से ज्यादा लोगों तक कम से कम पैसे में पहुंच सकते है और अपने प्रोडक्ट के बारे में बता सकते है अगर आप का प्रचार लोगों को आकर्षित करेगा तो आप ज्यादा से ज्यादा सेल क्रिएट कर पाएंगे। 

3. Google Ads

आपको जब भी कोई समस्या होती है अब उस समस्या का समाधान पाने के लिए गूगल पर सर्च जरूर करते होंगे, और ऐसा करते हुए आपको बहुत सारे ads भी दिखते होंगे। आप भी गूगल पर अपना प्रचार चला सकते है और कम से कम पैसा खर्च करके ज्यादा से ज्यादा लोगों तक अपने प्रोडक्ट को पहुंचा सकते है। आप कम से कम ₹100 में हजार दो हजार लोगों तक अपने प्रोडक्ट को पहुंचा सकते है जिससे आप यह अनुमान लगा सकते है कि आपके प्रोडक्ट के बिकने की संभावना कितनी ज्यादा हैं। 

4. YouTube

आज कल न्यूज़ यूट्यूब पर कितना ज्यादा समय बिताते है यह समझाने और बताने की बात नहीं है। आप यह समझते है कि अगर यूट्यूब पर आप अपने प्रोडक्ट का प्रचार करेंगे तो कितने ज्यादा लोग उसे देखेंगे और उसके बिकने की संभावना कितनी ज्यादा बढ़ जाएगी। 

5. Email Marketing

गूगल और फेसबुक पर प्रचार चला करके लोगों के ईमेल का पता लगा है और उन ईमेल पर अपनी बात भेजें और लोग आपकी बात को समझ कर आपके प्रॉडक्ट को खरीदेंगे। 

इस तरीके में आपको लोगो के ईमेल को इकठ्ठा करने के लिए पैसा देना है और फिर उन ईमेल पर अपने विचार लिख कर लोगो को अपने प्रोडक्ट के बारे में बताना हैं। 

एफिलिएट प्रोडक्ट को प्रमोट करने का फ्री तरीका: आप एफिलिएट मार्केटिंग के प्रोडक्ट को फ्री में भी प्रमोट कर सकते है। इसको फ्री में प्रोमोट करने के लिए आप ऊपर दिए हुए सभी तरीकों का इस्तेमाल कर सकते हैं। 

हमारे कहने का अर्थ यह है कि ऊपर दिया हुआ कोई भी तरीका आप फ्री में इस्तेमाल कर सकते है अर्थात आप फेसबुक का इस्तेमाल करें मगर प्रचार ना चलाते हुए फेसबुक पेज पर अपने प्रोडक्ट के बारे में बताएं। 

ठीक उसी तरह यूट्यूब पर अपना प्रचार ना करते हुए आप अपना यूट्यूब चैनल बनाएं और अपने प्रोडक्ट के बारे में बताएं आप इस तरह से लोगों को अपनी और आकर्षित कर सकते है मगर इसमें वक्त लगेगा।

फ्री तरीका काफी अच्छा है अपने एफिलिएट प्रोडक्ट को प्रोमोट करने के लिए, बस इस तरीके में वक्त ज्यादा लगता है मगर जब एक बार समय लगा कर लोगों को आकर्षित कर लिया जाता है तब वह लोग हर बार आते रहते है और इसलिए यह तरीका पेड तरीके के अच्छा साबित हो जाता हैं।

यह भी पढ़ें

एफिलिएट मार्केटिंग के फायदे 

एफिलिएट मार्केटिंग काफी अच्छा तरीका है घर बैठे पैसा कमाने का इसके कुछ फायदे नीचे बताए गए हैं।

  • एफिलिएट मार्केटिंग शुरू करने के लिए आप को किसी तरह के पढ़ाई या अलग ज्ञान की आवश्यकता नहीं होती है इस मार्केटिंग को केवल गूगल पर मौजूद कुछ आर्टिकल से समझ व सीख सकते हैं।
  • एफिलिएट मार्केटिंग एक मात्र ऐसा व्यापार है जिसको आप काम 1000 से ₹2000 में शुरू कर सकते हैं। 
  • एफिलिएट मार्केटिंग करने के लिए आपको बस अपने मोबाइल व लैपटॉप में इंटरनेट कनेक्शन की आवश्यकता हैं।
  • एफिलिएट मार्केटिंग से आपकी एक ब्रांड बनती है क्योंकि कुछ लोगों के समूह को आप पर और आपके प्रोडक्ट पर विश्वास होता हैं। 

एफिलिएट मार्केटिंग के नुकसान

आपको बता दें कि दुनिया में ऐसी कोई चीज नहीं है जिसके केवल फायदे हो एफिलिएट मार्केटिंग भी ऐसे ही दो धारी तलवार है जिसके कुछ नुकसान भी है जिसके बारे में नीचे बताया गया हैं। 

  • एफिलिएट मार्केटिंग में आपको लोगों को आकर्षित करने के लिए बहुत मेहनत करनी पड़ती है। जब तक आप अच्छी खासी जनता को आकर्षित नहीं कर लेते तब तक आप कुछ नहीं कमा पाओगे। 
  • अगर आप एफिलिएट मार्केटिंग में ज्यादा पैसा खर्चा नहीं करोगे तो आपको इस व्यापार में सफलता पाने में काफी वक्त लगेगा। 
  • एफिलिएट मार्केटिंग में अपना ब्रांड बनाने में बहुत वक्त लगता हैं। 

निष्कर्ष

अगर आपको एफिलिएट मार्केटिंग क्या हैWhat Is Affiliate Marketing In Hindi लेख हेल्पफुल रहा है तो फिर आप यह लेख अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करना इसके अलावा अगर आपको इस लेख से सम्बंधित कोई भी जानकारी चाहिए तो उसके लिए आप निचे कमेंट बॉक्स का इस्तेमाल कर सकते हैं। 

Abhishek Maurya

मेरा नाम अभिषेक मौर्य है और मैं उत्तर प्रदेश वाराणसी डिस्ट्रिक्ट का रहने वाला हूं और मैं एक दिव्यांग हूं। मुझे अलग-अलग विषयों पर आर्टिकल लिखना बहुत अच्छा लगता है और इसी को मैंने अपना जुनून बनाया है। मैं पिछले 3 वर्षों से आर्टिकल लेखन का कार्य कर रहा हूं। आपको हमारे द्वारा लिखे गए लेख कैसे लगते हैं? आप हमें कमेंट बॉक्स में अवश्य बताएं। मेरा भी एक हिंदी ब्लॉग है जिस पर मैं रिलेशनशिप के ऊपर आर्टिकल लिखता हूं जिसका यूआरएल इस प्रकार से है। माय वेबसाइट यूआरएल - https://hindibaatchit.com/

Leave a Reply