टॉप 10 बेस्ट साइबर सिक्योरिटी टिप्स इन हिंदी 

दोस्तों अगर आप अपने साइबरसिक्योरिटी को लेकर काफी चिंतित रहते हो और सोच रहे हो कि साइबरसिक्योरिटी को इंप्रूव करने के लिए क्या करें तो आज हम आपको अपने इस लेख में VPN MAC OS के जरिए साइबरसिक्योरिटी को इंप्रूव करने के तरीकों के बारे में बताएंगे और इतना ही नहीं कुछ एक्स्ट्रा टिप्स भी आपको हम साइबर सिक्योरिटी को इंप्रूव करने के बारे में बताएंगे और इसीलिए हम चाहते है कि आप हमारे आज के ही महत्वपूर्ण लेख को शुरू से लेकर अंतिम तक जरूर पढ़ें ताकि आपको साइबरसिक्योरिटी की एक से बढ़कर एक टिप्स के बारे में पता चल सके।

बेस्ट साइबर सिक्योरिटी टिप्स इन हिंदी

साइबरसिक्योरिटी को इंप्रूव करने के लिए आपको कुछ महत्वपूर्ण बातों पर ध्यान देना चाहिए और इसके बारे में हमने नीचे आपको एक से बढ़कर एक साइबरसिक्योरिटी को इंप्रूव करने के तरीकों के बारे में बताया है और आप उन तरीकों को फॉलो करके बड़ी ही आसानी से अपने साइबर सिक्योरिटी को इंप्रूव कर सकते हो। ज्यादातर साइबरसिक्योरिटी कमजोर होने की वजह से हैकिंग के खतरा बढ़ जाता है और आपका पर्सनल डाटा या फिर इंपोर्टेंट डाटा चोरी हो सकता है या फिर उसका गलत उपयोग भी किया जा सकता है इसीलिए प्रत्येक व्यक्ति को अपने साइबरसिक्योरिटी पर विशेष ध्यान देना चाहिए और इसके लिए नीचे दी गई जानकारी को ध्यान से पढ़ें।

1. वीपीएन के जरिए

अगर आप का मैक डिवाइस साइबर सिक्योरिटी की अटैक से जूझ रहा है और आप भी परेशान हो रहे हो तो ऐसी परिस्थिति में आप VPN MAC OS नामक एक बेहतरीन वीपीएन का इस्तेमाल कर सकते हो और अपने मैक डिवाइस को सिक्योर बना सकते हो यह वीपीएन काफी बेहतरीन वीपीएन है जो आपके साइबर सिक्योरिटी को इंप्रूव करता है और लगभग सभी प्रकार के साइबर अटैक के बारे में आपको जानकारी भी देता है जिससे आप साइबर अटैक को रोक सकते हो और अपने डिवाइस को सिक्योर बना सकते हो। 

2. बिना सोचे समझे किसी भी लिंक पर क्लिक ना करे

आजकल ईमेल पर और अन्य सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर आपको बहुत सारी लिंक भेजी जाती होगी और आप लिंक पर क्लिक भी करते होंगे। अगर आपको साइबरसिक्योरिटी का डर सता रहा है तो आपको कभी भी किसी भी लिंक पर क्लिक नहीं करना चाहिए नहीं तो आपका सिस्टम है हो सकता है और आप साइबर सिक्योरिटी के शिकार हो सकते हो।

3. टू फैक्टर ऑथेंटिकेशन का यूज करे

अगर आप अपने सोशल अकाउंट को या फिर किसी अन्य इंटरनेट से कनेक्टेड डिवाइस को साइबर सिक्योरिटी के खतरे से बचाना चाहते हो तो आपको ज्यादा से ज्यादा टू फैक्टर ऑथेंटिकेशन का यूज करना चाहिए इससे कोई भी आपके सोशल अकाउंट को या फिर किसी भी डिवाइस को आसानी से हैक नहीं कर पाएगा।

4. अपने डिजिटल चीजों को ट्रैक करते रहें

आप जो जो भी डिजिटल चीज का इस्तेमाल करते हो आपको समय-समय पर उन्हें ट्राई करते रहना चाहिए आप अपनी एक्टिविटी को भी ट्रैक कर सकते है इससे आपको पता चलेगा कि कहीं कोई आपकी मर्जी की एक्टिविटी तो नहीं हो रही है इससे आप अपनी साइबरसिक्योरिटी को इंप्रूव कर सकते हो इसीलिए आप अपने डिजिटल चीजों को और डिजिटल अकाउंट को ट्रैक करते रहें।

5. अपना सिस्टम या डिवाइस अपडेट करते रहें

आपने देखा होगा कि आपके मोबाइल फोन में या फिर आपके कंप्यूटर में समय-समय पर अपडेट आता रहता है और आप उन्हें अनदेखा कर देते हो। आपको ऐसा बिल्कुल भी नहीं करना है अगर आप साइबरसिक्योरिटी को लेकर काफी ज्यादा चिंतित हो तो ऐसे में आपको अपने सिस्टम में मिलने वाले अपडेट को एक्सेप्ट करते रहना है ताकि आपका सिस्टम लेटेस्ट सिक्योरिटी अपडेट के जरिए अपडेट रहे और कभी भी हैकिंग का शिकार ना हो। साइबर सिक्योरिटी को इंप्रूव करने के लिए ही सिस्टम में अपडेट समय-समय पर भेजा जाता है।

6. सिक्योर कनेक्शन का ही इस्तेमाल करे

कभी भी किसी भी लोकल वाईफाई से कनेक्ट ना हो यह पूरी तरीके से साइबरसिक्योरिटी के दृष्टिकोण से सुरक्षित नहीं होता है और इतना ही नहीं कभी भी आपको ऐसी किसी वेबसाइट पर विजिट नहीं करना है जिसका कनेक्शन सिक्योर ना हो। आप ऐसी वेबसाइट को वेरीफाई करने के लिए उनके यूआरएल के पहले लगने वाले एचटीटीपीएस को ध्यान में रखें। सिर्फ HTTPS वाले URL की वेबसाइट पर विजिट करें यह पूरी तरीके से सिक्योर होती है।

7. मोबाइल डिवाइस को भी सिक्योर करें

साइबर सिक्योरिटी का खतरा केवल आपका डेक्सटॉप या फिर कंप्यूटर तक ही सीमित नहीं है यह आपके फोन को भी बर्बाद कर सकता है। अपने मोबाइल को भी सिक्योरिटी प्रदान करने के लिए आप बायोमेट्रिक फिंगरप्रिंट का इस्तेमाल करें, टू स्टेप ऑथेंटिकेशन का इस्तेमाल अपने सभी मोबाइल फोन के अकाउंट पर यूज करें और इतना ही नहीं अपने ब्लूटूथ को हमेशा ऑन ना रखें और ना ही कभी भी सर्वजनिक वाईफाई का इस्तेमाल करें इससे आपको काफी ज्यादा साइबर सिक्योरिटी का खतरा हो सकता है।

8. सोशल इंजीनियरिंग से सावधान रहें

अब आप सोच रहे होंगे कि सोशल इंजीनियरिंग क्या होता है तो हम आपको बता दें कि यह एक ऐसी कला होती है जिससे हैकर व्यक्ति का विश्वास जीतने की कोशिश करते है और इसके लिए वे आपके ईमेल पर या फिर आपके किसी भी सोशल अकाउंट पर या आपके डायरेक्ट फोन नंबर पर ऐसा मैसेज देंगे जैसे लगेगा कि आपको किसी अपने ने ही यह मैसेज फॉरवर्ड किया हुआ है और आप उस मैसेज पर क्लिक कर दोगे। इस प्रकार के मैसेज में    ऐसे स्पेलिंग छुपाए गए होते है और ऐसे ही स्क्रिप्ट का इस्तेमाल किया गया होता है जो आपके फोन को हैक कर सकता है या फिर आपकी किसी भी सिस्टम को हैक कर सकता है और इस प्रकार से आप साइबर सिक्योरिटी अटैक के शिकार हो जाते हो।

9. अपने डेटा का बैकअप लेते रहे

दोस्तों हम और आप अपनी डाटा का बैकअप नहीं लेते है जो कि बिल्कुल गलत है। हमें समय-समय पर अपने डेटा का बैकअप लेते रहना चाहिए इससे अगर आपके ऊपर कोई भी छोटा मोटा साइबर अटैक होगा तो जिससे आपको ज्यादा कोई फर्क नहीं पड़ेगा क्योंकि आपके पास पहले से ही आपके डाटा का बैकअप होगा और सभी कुछ को रिसेट करने के बाद आप अपने डाटा को आसानी से रिकवर भी कर पाओगे और किस प्रकार से आप साइबरसिक्योरिटी के दृष्टिकोण से अपने सिस्टम को बचा सकते हो।

10. स्ट्रांग पासवर्ड प्रयोग करें

अगर आप साइबर अटैक से बचना है तो आप को स्ट्रांग पासवर्ड का यूज करना होगा। आप इसके लिए अपना कोई भी अल्फाबेट, नंबर और स्पेशल करैक्टर का यूज कर सकते हो इससे आपका पासवर्ड स्ट्रांग बनेगा। जो लोग स्ट्रांग पासवर्ड का यूज़ करते है अक्सर ऐसे लोगों को साइबर सिक्योरिटी अटैक्स संबंधित खतरे बहुत कम होते है और आप साइबरसिक्योरिटी को इंप्रूव करने के लिए स्ट्रांग पासवर्ड का यूज कर सकते हो।

निष्कर्ष

अगर आपको Cybersecurity In Hindi लेख हेल्पफुल रहा है तो फिर आप यह लेख अपने दोस्तों के साथ शेयर जरूर करना और इसके अलावा अगर आपको इस लेख से संबंधित कोई भी जानकारी चाहिए तो उसके लिए आप नीचे कमेंट बॉक्स का इस्तेमाल कर सकते हैं।

Abhishek Maurya

मेरा नाम अभिषेक मौर्य है और मैं उत्तर प्रदेश वाराणसी डिस्ट्रिक्ट का रहने वाला हूं और मैं एक दिव्यांग हूं। मुझे अलग-अलग विषयों पर आर्टिकल लिखना बहुत अच्छा लगता है और इसी को मैंने अपना जुनून बनाया है। मैं पिछले 3 वर्षों से आर्टिकल लेखन का कार्य कर रहा हूं। आपको हमारे द्वारा लिखे गए लेख कैसे लगते हैं? आप हमें कमेंट बॉक्स में अवश्य बताएं। मेरा भी एक हिंदी ब्लॉग है जिस पर मैं रिलेशनशिप के ऊपर आर्टिकल लिखता हूं जिसका यूआरएल इस प्रकार से है। माय वेबसाइट यूआरएल - https://hindibaatchit.com/

This Post Has 2 Comments

  1. Hindi Magazine

    Acha blog hai.

Leave a Reply