आसमान में कितने तारे है – Aasman Me Kitne Taare Hain

दोस्तों आजकल इंटरनेट पर ऐसे ऐसे प्रश्न पूछे जाते है जिनका जवाब लोगों को पता नहीं होता है और आज हम आपको अपने इस लेख में Aasman Me Kitne Taare Hai के बारे में बताएंगे। दोस्तों कभी कभी कंपटीशन एग्जाम में इस प्रकार के प्रश्न कैंडिडेट से पूछ लिए जाते है परंतु इस प्रकार के प्रश्नों का जवाब ना मालूम होने की वजह से छात्र प्रश्न को छोड़ देते हैं।

देखने में यह प्रश्न काफी छोटा है परंतु इस प्रश्न का जवाब हर किसी को मालूम नहीं होता और हमने सोचा कि क्यों ना आज हम आप सभी लोगों को आसमान में कितने तारे है? के बारे में कंप्लीट जानकारी दें और साथ ही साथ चारों के बारे में मुख्य जानकारियों के बारे में भी आपको बताया जाए और अगर आप इन सभी महत्वपूर्ण जानकारी के बारे में जानना चाहते हो तो लेख में दी गई जानकारी को शुरुआत से लेकर अंतिम तक ध्यान पूर्वक जरूर पढ़ें और एक भी जानकारी मिस ना करें।

तारा किसे कहते है

कुछ खगोलीय पिंडो के पास अपना ऊष्मा और प्रकाश होता है जिसे वे उत्सर्जित करते रहते है इन खगोलीय पिंडो को तारा कहते है। तारे का अपना कोई वजन नहीं होता और ना ही तारे का कोई अपना एक आकार होता है। 

आसमान में तारों की संख्या दिन प्रतिदिन बढ़ती ही जा रही है। हमारे ब्रह्मांड में लगभग 10 लाख करोड़ से भी अधिक आकाशगंगा है और आकाशगंगा में न जाने कितने तारे है जिनके बारे में हम कल्पना नहीं कर सकते। हमारी पृथ्वी पर तारों की भी अलग भूमिका रही है और तारों के बिना आकाश रात में खाली सा लगने लगेगा।

तारे का क्या इतिहास है

दोस्तों तारो की खोज गैलेक्सी के लोगों ने की है एक बार किन्ही के गांव में एक तारा गिरा हुआ लोगों ने देखा था गैलेक्सी के भूमि पर तारे को टिमटिमाते हुए देखा था और उन्होंने यह बताया कि एक तारा अपने समय में पूरी 1 करोड साल से भी अधिक जीता है उन्होंने यह भी बताया था कि तारे टिमटिमाते क्यों है क्योंकि तारे सूर्य से अधिक दूरी पर पाए जाते है इसीलिए तारे का प्रकाश भूमि पर बहुत ही कम आप आते है इस कारण तारे टिमटिमाते हैं।

दोस्तों आसमान में अनेकों प्रकार की गैसे पाई जाती हैं जैसे हाइड्रोजन हिलियम कार्बन इत्यादि गैस पाए जाते है जब बड़ा तारा हाइड्रोजन गैस ग्रहण करता है तो तारे की मृत्यु बहुत ही जल्दी हो जाती है वैज्ञानिकों के रिसर्च पर यह पाया जाता है कि हाइड्रोजन गैस तारों के लिए बहुत ही गलत होता है हाइड्रोजन गैस के होने से तारों की मृत्यु कम से कम समय में हो जाती हैं।

तारा सूर्य से 50 गुना ज्यादा बड़ा होता है इसीलिए तारे बहुत ही ऊपर होते है इसका यही कारण होता है की तारे हमें छोटे दिखाई देते है और सूर्य बड़े दिखाई देते है इस तरीके से आप तारों के बारे में छोटी से छोटी और बड़ी से बड़ी जानकारी बहुत ही आसानी से हासिल कर सकते हो।

आसमान में कितने तारे है

ब्रह्मांड में 10 हज़ार करोड़ आकाशगंगाएं है और हर आकाशगंगा में करीब 20 हज़ार करोड़ तारे है।

दोस्तों आज से करीब 20 साल पहले तारों की संख्या आसमान में लगभग एक करोड़ से भी कम थी लेकिन तारों में परिवर्तन होने के कारण तारों की संख्या बहुत ही अधिक हो गई दोस्तों अगर आप आसमान में कितने तारे है इसकी सही-सही जानकारी पाना चाहते हो तो ऐसे में आप इंटरनेट का प्रयोग कर सकते हो अगर आप गूगल पर आसमान में कितने तारे है यह लिख कर सर्च करते हो तो आपको बहुत ही आसानी से आसमान में तारों की संख्या पता चल जाएगा।

दोस्तों हमें आसमान में बादल देखने को मिलते हैं ऐसे में आप सोच रहे होंगे कि आखिर बादल बनते कैसे हैं तो ऐसे में हम आपकी जानकारी के लिए बता दें कि समुंद्र में जितनी तेजी से धूप पढ़ती है उसका पानी वाष्प बनकर आसमान में उड़ जाता है इस तरीके से आज बादल का निर्माण होता है और ऐसे में बादलों में भी धूल कंकड़ पाए जाते है और गूगल हमें एक धूल और कंकड़ कि लंबाई 20 मीटर तक बताता है इस तरीके से आप तारों के बारे में जानकारी हासिल कर सकते हो।

आसमान में तारों के महत्व

दोस्तों अभी तक आपने तारों से संबंधित बहुत कुछ जानकारी हासिल की अब हम आपको तारों से संबंधित कुछ महत्वपूर्ण बात बताने वाले हैं जिसे आप पढ़ कर बहुत ही आसानी से समझ सकते हो और अपने आसपास के किसी भी व्यक्ति को यह जानकारी समझा सकते हो।

  • दोस्तों जैसे मानव की मृत्यु निश्चित होती है ठीक उसी प्रकार तारों की भी मृत्यु निश्चित होती हैं।
  • अगर आप छोटे तारे की तुलना बड़े तारे से करते हो तो ऐसे में हम आपकी जानकारी के लिए बता दें कि छोटे तारे अधिक समय तक जीवित रहते हैं और बड़े तारे कम जीते हैं क्योंकि बड़ा तारा हाइड्रोजन गैस अधिग्रहण करता है और छोटा गैस छोटे होने के कारण कम गैस ग्रहण करता है इस तरीके से छोटे तारे और बड़े तारीख के बीच अंतर जान सकते हो।
  • सूर्य एक तारा है जिसके अंदर बहुत ही ज्यादा गर्मी पाई जाती हैं।
  • तारे हमें टिमटिमाते हुए दिखाई देते हैं और सूर्य में टिमटिमाते हुए दिखाई नहीं देते हैं क्योंकि सूर्य पृथ्वी से नजदीक होता है और पृथ्वी से बहुत ही दूर तारे पाए जाते हैं।
  • दोस्तों पृथ्वी पर तारों की संख्या अनंत होती है जिसे आम आदमी अपनी लाइफ में कभी भी नहीं गिन सकता हैं।
  • अगर आप तारो के बारे में शुरू से लेकर अंत तक जानकारी पाना चाहते हो तो आप ऐसे में इंटरनेट का प्रयोग कर सकते हो।
  • दोस्तों अगर आप यह सोच रहे हो कि सूर्य को छू पाना संभव है ऐसे में हम आपकी जानकारी के लिए बता दें कि सूर्य को छू पाना असंभव है क्योंकि सूर्य के अंदर इतनी ज्यादा गर्मी होती है कि आप उसके नजदीक पहुंचे थे आप जल जाओगे।

तारे के बारे में पूछे जाने वाले प्रश्न

यहाँ पर मैंने ऐसे पांच सवालों के जवाब दिए है जो की अक्सर लोग तारे के बारे में पूछते रहते हैं।

Q. सूर्य के अंदर क्या होता है?

दोस्तों सामान्य भाषा में जान आ जाए कि सूर्य के अंदर क्या होता है तो सूर्य के अंदर केवल गर्मी होती है लेकिन इसे साइंस के हिसाब से देखा जाए तो इसके अंदर हाइड्रोजन हीलियम और अनेक प्रकार की गैस पाई जाती है इसका आकार 13 लाख 90 हजार किलोमीटर का होता है और यह पृथ्वी से कई गुना अधिक बड़ा पाया जाता है इस तरीके से आप सूर्य के बारे में जानकारी हासिल कर सकते हो।

Q. टूटे तारे से क्या होता है?

दोस्तों हमें बुजुर्गों ने यह बताया है कि अगर आप कहीं पर भी टूटे हुए तारों को देखते हो तो आपकी इच्छा जो होती है वह पूरी बहुत ही आसानी से हो जाती है लेकिन साइंस की भाषा से यह देखा जाए तो यह बहुत ही गलत होता है क्योंकि टूटे हुए तारे में केवल आग लगी होती है क्योंकि वह 75000 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से भूमि की तरफ आता है और इस तरीके से टूटे हुए तारे से हमें यह जानकारी पता चलती हैं।

निष्कर्ष

अगर आपको Aasman Me Kitne Taare Hai लेख हेल्पफुल रहा है तो फिर आप यह लेख अपने दोस्तों के साथ शेयर जरूर करना और इसके अलावा अगर आपको इस लेख से संबंधित कोई भी जानकारी चाहिए तो उसके लिए आप नीचे कमेंट बॉक्स का इस्तेमाल कर सकते हैं।

Abhishek Maurya

मेरा नाम अभिषेक मौर्य है और मैं उत्तर प्रदेश वाराणसी डिस्ट्रिक्ट का रहने वाला हूं और मैं एक दिव्यांग हूं। मुझे अलग-अलग विषयों पर आर्टिकल लिखना बहुत अच्छा लगता है और इसी को मैंने अपना जुनून बनाया है। मैं पिछले 3 वर्षों से आर्टिकल लेखन का कार्य कर रहा हूं। आपको हमारे द्वारा लिखे गए लेख कैसे लगते हैं? आप हमें कमेंट बॉक्स में अवश्य बताएं। मेरा भी एक हिंदी ब्लॉग है जिस पर मैं रिलेशनशिप के ऊपर आर्टिकल लिखता हूं जिसका यूआरएल इस प्रकार से है। माय वेबसाइट यूआरएल - https://hindibaatchit.com/

Leave a Reply