Bank Clerk कैसे बने जानिए पूरी जानकारी हिंदी में

बैंक में एक ऐसा व्यक्ति होता है जो बैंक में सभी प्रकार के हिसाब किताब करता है और बैंक में पैसा जमा करना, पैसा निकालना, चेक जमा करना, जैसे सभी काम बैंक क्लर्क करता है। आज के समय में सरकारी नौकरी के जितना ही महत्व बैंक की नौकरी को दिया जा रहा है इसीलिए बहुत सारे उम्मीदवार बैंक में नौकरी प्राप्त करने के लिए दिन रात मेहनत कर रहे हैं।

अगर आप Bank clerk Kaise Bane इस बात की जानकारी प्राप्त करना चाहते है तो आप बिल्कुल सही जगह पर है। अगर आपको बैंक क्लर्क बनना है तब आपको हमारा आज का यह लेख शुरू से अंत तक पढ़ना चाहिए ताकि आपको इस विषय पर पूरी कंप्लीट जानकारी मिल सके। 

Bank Clerk कौन होता हैं 

बैंक क्लर्क बैंक का एक मुख्य अधिकारी होता है जो बैंक में पैसा निकालना पैसा जमा करना, चेक जमा करना, पासबुक अपडेट करना, जैसे काम करता है और बैंक में आए ग्राहकों के लिए विभिन्न प्रकार की सेवाएं प्रदान करता हैं। 

बैंक क्लर्क एक प्रतिष्ठित पद होता है और बैंक की नौकरी को बहुत अच्छी नौकरी के रूप मे देखा जाता है आज के समय में बहुत सारे लोग बैंक की नौकरी की तैयारी दसवीं पास करने के बाद से ही करते है। अगर आप भी बैंक की प्रतिष्ठित नौकरी करना चाहते है तो इस लेख में बताए गए निर्देशों का आदेश अनुसार पालन करें। 

Bank Clerk क्या कार्य करता हैं

इस नौकरी का कार्यभार हर बैंक में एक व्यक्ति उठाता है मगर कभी कभी बैंक मे क्लर्क की संख्या बैंक के आकार पर भी निर्भर करता है कभी-कभी एक बैंक में 2 से अधिक क्लर्क कभी होते है। उन सभी क्लर्क का काम ग्राहकों के पास बुक को अपडेट करना, पैसा निकालना, पैसा जमा करना, और बैंक में आने और जाने वाले पैसे का हिसाब किताब करना होता हैं।

समाज में बैंक क्लर्क को एक प्रतिष्ठित नौकरी के रूप में देखा जाता है एक सरकारी नौकरी के जितना ही महत्व हम बैंक की नौकरी को देते है क्योंकि बैंक में क्लर्क वह व्यक्ति होता है जिसे बैंक में होने वाले सभी प्रकार के लेनदेन का रिकॉर्ड रखने की जिम्मेदारी होती हैं। 

Bank Clerk कैसे बने

अगर आप आज के दिन में किसी बैंक में क्लर्क बनना चाहते है तो नीचे बताए गए निर्देशों को आदेश अनुसार पढ़ें। बैंक क्लर्क दो प्रकार के होते हैं पहला जब आप भारत के किसी नेशनल बैंक या सरकारी बैंक में क्लर्क बनते है दूसरा अगर आप किसी प्राइवेट बैंक में क्लर्क के बनते हैं।

आपको बता दें कि भारत में कुछ ही नेशनलाइज्ड बैंक है जैसे स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (SBI), बैंक ऑफ इंडिया (BOI), पंजाब नेशनल बैंक (PNB), आदि। कुछ बैंक नेशनलाइज्ड नहीं भी होती है जैसे एचडीएफसी (HDFC), केनरा बैंक आदि। 

आपको यह बात भी समझनी होगी कि चाहे आप भारत के नेशनलाइज या सरकारी बैंक में क्लर्क बनना चाहते हो या एक प्राइवेट बैंक में क्लर्क बनना चाहते हो दोनों की प्रक्रिया एक समान ही हैं।

Step 1- बैंक क्लर्क बनने के लिए आपको सबसे पहले 12वी करनी होगी। आप ही जगह किसी भी स्ट्रीम से पास कर सकते हैं बैंक में क्लर्क बनने के लिए किसी खास पढ़ाई की आवश्यकता नहीं होती है इस वजह से आप विज्ञान वाणिज्य कला में से किसी भी विषय को चुनकर अपने आगे की पढ़ाई जारी रख सकते हैं।

Step 2- आपको बता दें कि बैंक क्लर्क बनने के लिए आपको स्नातक की डिग्री हासिल करना भी आवश्यक है। भारत में किसी भी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय कॉलेज से स्नातक की डिग्री प्राप्त करें आप अपनी स्नातक की डिग्री किसी भी विषय से कर सकते हैं।

Step 3- भारत में जितने भी बैंक हैं उन सब में आपकी नौकरी भारतीय संस्था आई बी पी एस की परीक्षा उत्तीर्ण करनी होगी। आपको बता दें कि भारत में जितनी भी बैंक है उन सब में उम्मीदवार का चयन भारतीय सरकार की संगठन IBPS के द्वारा किया जाता है यह संगठन हर साल बैंक के विभिन्न पदों के लिए परीक्षा आयोजित करवाती हैं।

Step 4- बैंक क्लर्क बनने के लिए आपको स्नातक की पढ़ाई पूर्ण करने के बाद आई बी पी एस की परीक्षा उत्तीर्ण करनी होगी। अगर आप आई बी पी एस की परीक्षा नहीं देना चाहते तो आप किसी प्राइवेट बैंक में क्लर्क बन सकते हैं इसके अलावा केवल एसबीआई ही एक ऐसा बैंक है जो अपने पदों के लिए स्वयं परीक्षा आयोजित करवाता है। 

Step 5- IBPS के परीक्षा दो चरण में होती है इसके अलावा बैंक के किसी भी पद के लिए आपकी परीक्षा दो चरणों में होगी और पहली शुरुआती परीक्षा दूसरी मुख्य परीक्षा जब कोई उम्मीदवार दोनों परीक्षा को कट ऑफ मार्क्स से उत्तीर्ण कर लेगा तब उसे इंटरव्यू के लिए बुलाया जाएगा और अंत में उसे बैंक के पद के लिए नियुक्त कर लिया जाएगा। 

Bank Clerk बनने के लिए आयु

जब भी हम किसी नौकरी के बारे में सुनते है तो सर्वप्रथम हमारे दिमाग में यह ख्याल आता है कि इस नौकरी के आवेदन के लिए अंतिम आयु कितनी है। बैंक क्लर्क बनने के लिए आपको तीन चरण में परीक्षा उत्तीर्ण करनी होगी जिस वजह से इस नौकरी को पाने में वक्त लगता है और सब यह जानना चाहते हैं कि अंतिम आयु किस श्रेणी के व्यक्ति के लिए कितनी हैं।

  • अगर आप सामान्य वर्ग के है – न्यूनतम आयु 18 वर्ष और अधिकतम आयु 30 वर्ष रखी गई हैं।
  • अगर आप ओबीसी वर्ग के है – न्यूनतम आयु 18 वर्ष और अधिकतम आयु 33 वर्ष रखी गई है अर्थात OBC को 3 वर्ष की छूट दी जाएगी।
  • अगर आप एससी एसटी वर्ग के है – न्यूनतम आयु 18 वर्ष और अधिकतम आयु 38 वर्ष रखी गई है अर्थात एसटी एससी को 5 वर्ष की छूट दी गई हैं।
  • अगर आप विकलांग श्रेणी में आते है – न्यूनतम आयु 18 वर्ष और अधिकतम आयु 40 वर्ष रखी गई है अर्थात विकलांग को 10 वर्ष की छूट दी गई हैं।

यह भी पढ़ें

Bank Clerk बनने के लिए एग्जाम

अगर आप बैंक क्लर्क के लिए आवेदन करना चाहते हैं तो आपको कौन सी परीक्षा और किस प्रकार उस परीक्षा को उत्तीर्ण करना है इस बात की जानकारी विस्तार पूर्वक दी जा रही हैं।

बैंक क्लर्क बनने के लिए आपको आई बी पी एस की परीक्षा उत्तीर्ण करनी होगी यह परीक्षा दो चरण में होती है प्रथम चरण शुरुआती चरण होता है और दूसरा चरण मुख्य चरण के नाम से जाना जाता हैं।

जो उम्मीदवार द्वारा प्रथम चरण और दूसरे चरण में आई बी पी एस की परीक्षा उत्तीर्ण कर लेते है उन्हें इंटरव्यू के लिए बुलाया जाता है फिर इंटरव्यू में अच्छे अंक से पास होने वाले उम्मीदवार को ही IBPS संस्था से जुड़ी बैंकों में क्लर्क बनने का मौका दिया जाता हैं।

ऐसी भी कुछ बैंक संस्था भारत में है जो सरकार की IBPS संस्था से नहीं जुड़ी हुई है जिसमें एसबीआई भी आती है। आपको एसबीआई में क्लर्क कब बनने के लिए एसबीआई की परीक्षा उत्तीर्ण करनी होगी एसबीआई भी तीन चरण में क्लर्क बनने की परीक्षा आयोजित करवाती है जो उम्मीदवार शुरुआती परीक्षा और मुख्य परीक्षा और छह अंक से उत्तरण कर लेते है केवल वही इंटरव्यू देकर एसबीआई में क्लर्क बन पाते हैं।

इसके अलावा कुछ प्राइवेट बैंक भी है जैसे एचडीएफसी जो सरकार के IBPS संस्था से नहीं जुड़ी हुई है वहां की परीक्षा का तरीका ऐसा ही हैं।

Bank Clerk का सिलेबस

किसी भी परीक्षा को उत्तीर्ण करने के लिए सिलेबस एक अहम भूमिका निभाता है सिलेबस आपको बताता है कि उस परीक्षा के लिए आपको क्या और कितना पढ़ना है बैंक क्लर्क बनने के लिए आपकी सिलेबस क्या होगी यह बात नीचे विस्तार पूर्वक समझाइए गई हैं।

अगर आप बैंक क्लर्क के प्रथम चरण की बात करें तो इसके लिए आप से –  

  • English language 
  • Numerical ability
  • Reasoning ability

जैसे विषय से सवाल पूछे जाएंगे इन तीनों विषयों से कुल 100 अंक के सवाल पूछे जाएंगे। 

अगर आप बैंक क्लर्क के दूसरे चरण की बात करें तो इसके लिए आप से–  

  • सामान्य वित्तीय जागरूकता (General financial awareness)
  • साधारण अंग्रेजी (General english)
  • तर्क और कंप्यूटर क्षमता (Reasoning ability & computer aptitude)
  • साधारण गणित (Quantitative aptitude)

ऊपर बताए गए उन चार विषय से सवाल आपके दूसरे चरण में पूछे जाएंगे दूसरे चरण की परीक्षा में कुल 200 अंक के सवाल इन विषयों से पूछे जाएंगे। 

Bank Clerk एग्जाम पैटर्न

अगर आप यह जानना चाहते हैं कि बैंक क्लर्क बनने के लिए आपको किस प्रकार परीक्षा उत्तर करनी है तो इस बारे में विस्तारपूर्वक जानकारी नीचे प्रदान की गई हैं।

जैसा कि हमने आपको बताया बैंक क्लर्क की परीक्षा दो चरण में होती है सबसे पहले प्रथम चरण उसके बाद मुख्य चरण। प्रथम चरण में आपसे तीन पेपर की परीक्षा होती है प्रत्येक पेपर एक साथ होगा और एक घंटा का समय दिया जाता है और यह पेपर 100  अंक की होती हैं।

प्रथम चरण में आप से English language, Numerical ability, Reasoning ability के सवाल पूछे जाएंगे और परीक्षक कुल 100 अंक की होगी। 

जो उम्मीदवार IBPS के प्रथम चरण की परीक्षा उत्तीर्ण कर लेगा उसे दूसरे चरण में बैठने का मौका दे दिया जाएगा।

दूसरे चरण में 4 पेपर में परीक्षा होगी कूल पेपर 200 अंक का होगा और आपको पूरे पेपर के लिए 3 घंटे का समय दिया जाएगा। 

दूसरे चरण में आप से General financial awareness, General english, Reasoning ability & computer aptitude, Quantitative aptitude के सवाल पूछे जाएंगे। 

हर साल पूछे गए सवालों का लेबल और उम्मीदवारों की संख्या के आधार पर परीक्षा का कट ऑफ किया जाता है श्रेणी अनुसार कटऑफ कम ज्यादा हो सकता है आप जिस वर्ग या श्रेणी से ताल्लुक रखते हैं उसमें जितना कटऑफ रखा गया है अगर आप उतना मार्क्स लेकर आते है तो ही आप बैंक क्लर्क के लिए आगे इंटरव्यू दे सकते हैं। 

इंटरव्यू में सामान्य ज्ञान, राजनीति और वित्तीय संबंधित प्रश्नों पर उम्मीदवार से बैंक की मुख्य शाखा के लोग बात करते है। और उस बातचीत में उम्मीदवार के प्रदर्शन के आधार पर उम्मीदवार को बैंक क्लर्क के तौर पर नियुक्त किया जाएगा। 

Bank Clerk की सैलरी

बैंक क्लर्क कैसे बने और वह कौन होता है इस बात की विस्तार पूर्वक जानकारी पाने के बाद अगर आप यह जानना चाहते है कि बैंक क्लर्क कितना कमाता है तो आपको बता दें की सरकारी बैंक के तनख्वाह प्राइवेट बैंक से अधिक होती है और बैंक अपने कार्यकर्ता की सैलरी हर वर्ष बढ़ाता हैं।

मगर जब एक उम्मीदवार प्राइवेट बैंक क्लर्क के रूप में नियुक्त किया जाता है तो उसकी शुरुआती तनख्वाह ₹10000 प्रति माह से ₹12000 प्रति माह तक होती है धीरे-धीरे यह तनख्वाह बढ़ कर ₹30000 प्रति माह हो जाती है। अगर हम सरकारी बैंक की बात करें तो उम्मीदवार की तनख्वाह 20000 प्रति माह से शुरू होती है जो बढ़ते हुए ₹40000 प्रति माह तक जाती हैं। 

Bank Clerk के बारे में पूछे जाने वाले प्रश्न

यहाँ पर मैंने ऐसे पांच सवालों के जवाब दिए है जो की अक्सर लोग Bank Clerk के बारे में पूछते रहते हैं।

Q. बैंक क्लर्क कौन होता हैं?

बैंक क्लर्क वह व्यक्ति होता है जो बैंक में पैसे के लेनदेन किस हिसाब को रखता है और पासबुक अपडेट करना, पैसा जमा करना, पैसा निकालने जैसे कार्य करता हैं। 

Q. बैंक क्लर्क बनने के लिए क्या करें?

अगर आप भारत में किसी बैंक में क्लर्क के रूप में नियुक्त होना चाहते हैं तो आपको भारतीय संस्था ibps की परीक्षा नियुक्त करनी होगी। 

Q. SBI बैंक में क्लर्क कैसे बने?

अगर आप SBI बैंक में क्लर्क बनना चाहते है तो इसके लिए आपको एसबीआई के द्वारा आयोजित करवाई जा रही परीक्षा को नियुक्त करना होगा एसबीआई अपने उम्मीदवारों का चयन अपने आयोजित करवाए हुए परीक्षा से करता हैं।

Q. बैंक क्लर्क की तनख्वाह कितनी होती हैं?

बैंक क्लर्क की तनख्वाह बैंक के श्रेणी पर निर्भर करती है सरकारी बैंक के क्लर्क को ₹20000 महीने पर नियुक्त किया जाता है वहीं दूसरी तरफ प्राइवेट बैंक के क्लर्क को 10 से ₹12000 महीने पर नियुक्त किया जाता हैं।

Q. बैंक क्लर्क के लिए कौन सी परीक्षा देनी होती हैं?

बैंक क्लर्क बनने के लिए आपको IBPS की परीक्षा देनी होती हैं।

यह भी पढ़ें

निष्कर्ष

अगर आपको Bank Clerk Kaise Bane लेख हेल्पफुल रहा है तो फिर आप यह लेख अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करना। इसके अलावा अगर आपको इस लेख से सम्बंधित कोई भी जानकारी चाहिए तो उसके लिए आप निचे कमेंट बॉक्स का इस्तेमाल कर सकते हैं।

Abhishek Maurya

मेरा नाम अभिषेक मौर्य है और मैं उत्तर प्रदेश वाराणसी डिस्ट्रिक्ट का रहने वाला हूं और मैं एक दिव्यांग हूं। मुझे अलग-अलग विषयों पर आर्टिकल लिखना बहुत अच्छा लगता है और इसी को मैंने अपना जुनून बनाया है। मैं पिछले 3 वर्षों से आर्टिकल लेखन का कार्य कर रहा हूं। आपको हमारे द्वारा लिखे गए लेख कैसे लगते हैं? आप हमें कमेंट बॉक्स में अवश्य बताएं। मेरा भी एक हिंदी ब्लॉग है जिस पर मैं रिलेशनशिप के ऊपर आर्टिकल लिखता हूं जिसका यूआरएल इस प्रकार से है। माय वेबसाइट यूआरएल - https://hindibaatchit.com/

Leave a Reply