Food Inspector Kaise Bane – फ़ूड इंस्पेक्टर बनने के लिए क्या करे जानिए हिंदी में

आज कल हर कोई चाहता है कि वह सरकारी नौकरी करें बच्चे 10वीं और 12वीं के परीक्षा के बाद से ही सरकारी नौकरी की तैयारी में लग जाते है ऐसी ही एक सरकारी नौकरी का नाम है इंस्पेक्टर जिसका मतलब होता है उच्च निरीक्षक इस पद को विभिन्न विभाग में लोग पाने का प्रयत्न करते है आज इसी बात को ध्यान में रखते हुए हम आपको Food Inspector kaise Bane के बारे में विस्तारपूर्वक जानकारी देने जा रहे हैं। 

खाद्य आपूर्ति विभाग में फूड इंस्पेक्टर एक प्रतिष्ठित पद होता है जिसके लिए लोक सेवा आयोग और राज्य सेवा आयोग परीक्षा अयोजित करवाते हैं। 

Food Inspector कौन होता है

Food inspector खाद आपूर्ति विभाग का एक प्रतिष्ठित पद होता है जिसका कार्य जिला में खाद्य सामग्री का वितरण और बनने की प्रणाली का निरीक्षण करना होता है। आसान भाषा में यह व्यक्ति जिला में खाने की सामग्री के दुकानों में मिलावट हो रही है या नहीं, खाना सामग्री बनाने वाली कंपनियां सभी सुरक्षा मानकों को ध्यान में रखकर उत्पादन कर रही है या नहीं इस बात का निरीक्षण करना होता हैं। 

फूड इंस्पेक्टर खाद आपूर्ति विभाग का एक प्रतिष्ठित व्यक्ति है और हर जिला में केवल एक फूड इंस्पेक्टर होता है जिसका काम जिला में दुकानदारों के द्वारा की जा रही खाद्य सामग्री आपूर्ति की प्रक्रिया की जांच करना होता हैं।

Food Inspector क्या काम करते है

फूड इंस्पेक्टर एक जिला में फुट डिस्ट्रीब्यूटर और फूड मैन्युफैक्चरर के कार्य प्रणाली की जांच करता है। जैसे आपके जिले में जितने भी खाद्य सामग्री बेचने वाले दुकानदार है वह मिलावट कर रहे है या नहीं इस बात की जांच फूड इंस्पेक्टर करता है इसके अलावा अगर आपके जिले में कोई ऐसी फैक्ट्री है जो खाने की सामग्री बनाती है वह के नियम और मापदंडों का इस्तेमाल करके अपने खाद्य सामग्री को बनाकर लोगों तक कैसे पहुंचा रही है इस प्रक्रिया के पूर्ण जांच करना फूड इंस्पेक्टर का कार्य होता हैं। 

फूड इंस्पेक्टर अपने जिला के विभिन्न इलाकों में जांच करने जाता है और इस बात की हमेशा जांच करता है कि कौन दुकानदार मिलावट कर रहा है या कौन सी कंपनी आदेश अनुसार नियमों का पालन करते हुए खाद्य सामग्री का उत्पादन कर नहीं रही हैं। 

Food Inspector कैसे बने

Food Inspector बनने के लिए आपको परीक्षा पास करनी होगी यह परीक्षा संग लोक सेवा आयोग के द्वारा आयोजित करवाई जाती है इसे ऑल इंडिया फूड इंस्पेक्टर एग्जाम कहते है। हर साल लोक सेवा आयोग या परीक्षा आयोजित करवाती है जिसके पश्चात आप अपने जिला में फूड इंस्पेक्टर के तौर पर नियुक्त हो सकते हैं।

जितनी उम्मीदवार संघ लोक सेवा आयोग की प्रवेश परीक्षा को पास करेंगे उन्हें मेंस परीक्षा में बैठने का अवसर दिया जाएगा इस परीक्षा को पास करने वाले विद्यार्थी इंटरव्यू में बैठ पाएंगे। Interview या साक्षात्कार में वही लोग बैठ सकते है, जिन लोगों ने प्रिलिम्स और मेंस की परीक्षा पास की हो।

अगर आप तीनों चरण की परीक्षा मेरिट मार्क्स उसे पास कर लेते हैं तो आपको भारत का कोई एक जिला दिया जाएगा और उस जिला में आप पूरे क्षेत्र के तौर पर एक प्रतिष्ठित अधिकारी के रूप में कार्य करेंगे।

Food Inspector बनने के लिए एलिजिबिलिटी क्राइटेरिया

फूड इंस्पेक्टर बनने के लिए कुछ मुख्य एलिजिबिलिटी क्राइटेरिया रखी गई है। जिसके आधार पर यह तय किया जाएगा कि आप फूड इंस्पेक्टर बनने योग्य है या नहीं अगर नीचे दिए गए सभी एलिजिबिलिटी क्राइटेरिया पर आप निपुण साबित होते है तो आप Food inspector बन सकते हैं। 

Food Inpector बनने के लिए राष्ट्रीयता

फूड इंस्पेक्टर बनने के लिए आपको भारत का नागरिक होना आवश्यक है। फूड इंस्पेक्टर जिला का एक प्रतिष्ठित सरकारी नौकरी होता है जो सरकार द्वारा संचालित सभी प्रकार के खाद्य पदार्थों की जिम्मेदारी रखता है। इसलिए इस प्रतिष्ठित पद को केवल उस व्यक्ति को दिया जाता है जो भारत का मूल नागरिक होता हैं।

Food inspector किसी भी जिल में सरकारी या गैर सरकारी खाद्य सामग्री से जुड़े कार्य एक क्वालिटी की जिम्मेदारी एक फूड इंस्पेक्टर की होती है। यह एक बहुत ही जिम्मेदारी भरा पद है इसलिए भारत का नागरिक होना आवश्यक हैं।

Food Inspector बनने के लिए योग्यता

फूड इंस्पेक्टर बनने के लिए कुछ साधारण शिक्षण योग्यता की सीमा रखी गई है। जिसके अनुसार अगर आप फूड इंस्पेक्टर के लिए आवेदन करना चाहते है, तो आपके पास स्नातक की डिग्री होनी चाहिए। आप किसी भी स्ट्रीम से स्नातक की डिग्री कर सकते है। इसके अलावा फूड इंस्पेक्टर बनने के लिए किसी निर्धारित मार्क्स के बारे में नहीं कहा गया है, आपका किसी भी कक्षा में कितना भी मार्क्स हो इससे कोई फर्क नहीं पड़ता हैं। 

Food Inspector बनने के लिए आयु 

किसी भी नौकरी को पाने के लिए सबसे पहला सवाल जो हमारे दिमाग में आता है वो यह है कि इस नौकरी के आवेदन की अंतिम आयु कितनी है। जैसा कि हमने आपको बताया यह एक सरकारी नौकरी है तो हर श्रेणी के लोगों के लिए इसकी आयु अलग है जिसके बारे में विस्तारपूर्वक जानकारी नीचे दी गई हैं। 

साधारण तौर पर फूड इंस्पेक्टर बनने के लिए 18 वर्ष न्यूनतम आयु और अधिकतम आयु 42 वर्ष रखी गई हैं।

  • सामान्य वर्ग के लिए – अधिकतम आयु 37 वर्ष रखी गई हैं। 
  • ओबीसी वर्ग के लोगों के लिए – अधिकतम आयु 40 वर्ष रखी गई है इसी के साथ उन्हें फूड इंस्पेक्टर की नौकरी में 3 वर्ष की छूट दी जाती हैं।
  • एसटी एससी के लोगों के लिए – अधिकतम आयु 42 वर्ष रखी गई है इसी के साथ उन्हें फूड इंस्पेक्टर की नौकरी के लिए 5 वर्ष की छूट दी जाती हैं। 

यह भी पढ़ें

Food Inspector बनने के लिए तैयारी कैसे करें

अगर आप फूड इंस्पेक्टर के तौर पर कार्य करना चाहते है तो हम आपको बता दें की इसके लिए संघ लोक सेवा आयोग की परीक्षा पास करनी होगी जो सरल नहीं होती है। उस परीक्षा के लिए आपको अच्छी खासी तैयारी करनी होगी।

रोजाना एक समय पर पढ़ाई करें: संघ लोक सेवा आयोग की परीक्षा पास करने के लिए सबसे पहले आपको रोजाना एक समय पर पढ़ाई करने की आदत डालनी होगी। रोजाना पढ़ाई करने से आपको रोज थोड़ा थोड़ा पढ़ाई करना होगा और एक अच्छे खासे समय के बाद आपको स्वयं को संघ लोक सेवा आयोग की परीक्षा के लिए तैयार कर पाएंगे। इसलिए आपको वह समय चुनना चाहिए जो आपको फ्रेश महसूस करवाता है और उस समय आपको रोजाना कुछ देर के लिए पढ़ना होगा।

रोज न्यूज़ पेपर पढ़ने की आदत डालें: संग लोक सेवा आयोग में आपको इंटरनेशनल रिलेशन और इंडियन पॉलिटिक्स के ऊपर लिखना होगा न्यूज़ पेपर पढ़ने से आप यह समझ पाएंगे कि विश्व भर में क्या हो रहा है और न्यूज़पेपर में इस पूरी घटना को कैसे लिखा गया है। आपको भी इसी तरह हर घटनाओं को सरल शब्दों में लिखने की प्रैक्टिस करनी होगी।

पिछले साल के क्वेश्चन पेपर सॉल्व करें: अगर आप पिछले साल के क्वेश्चन पेपर लगातार सॉल्व करते है तो आप यह समझ पाएंगे की परीक्षा में किस तरह के सवाल पूछे जाते है और उसका पैटर्न क्या होता है। ऐसा करने से आप ज्यादा बेहतर तरीके से स्वयं को संघ लोक सेवा आयोग की परीक्षा के लिए तैयार कर पाएंगे।

लगातार मॉक टेस्ट देते रहे: मॉक टेस्ट एक खास किस्म की टेस्ट प्रक्रिया होती है जो विभिन्न प्रकार के प्लेटफार्म के द्वारा ऑनलाइन चलाई जाती है। इस तरह के टेस्ट में आपको समय का बिल्कुल उस तरह दबाव दिया जाता है जैसा आपके साथ संघ लोक सेवा आयोग की परीक्षा में होगा और आप रोजाना उस प्रेशर को झेलते हुए खुद को तैयार कर पाते है। रोजाना मॉक टेस्ट देने से परीक्षा के समय आप स्वयं को काबू कर पाते है और मन को स्थिर रखके सही तरीके से जवाब दे पाते हैं।

Food Inspector बनने के लिए एग्जाम 

जैसा की हमने आपको ऊपर बताया कि फूड इंस्पेक्टर बनने के लिए आपको संग लोक सेवा आयोग के तहत होने वाली परीक्षा को पास करनी होता है जिसे हम फूड इंस्पेक्टर एग्जाम भी कहते है और यह एग्जाम दो भाग में ली जाती है प्रथम भाग में आप से 200 अंक के सवाल पूछे जाते हैं और दूसरे भाग में अब से 300 अंक के सवाल पूछे जाते हैं। 

इस परीक्षा को आप लोक सेवा आयोग की अधिकारिक वेबसाइट पर जाकर पता लगा सकते है। हर साल UPSC All India Food Inspector Exam आयोजित करवाती है जिसे सफलतापूर्वक उत्तरण करने वाले उम्मीदवार को जिला में फूड इंस्पेक्टर के तौर पर नियुक्त किया जाता है जिसका प्रमुख कार्य रिटेल बिजनेस खाद्य सामग्री के सप्लायर और मैन्युफैक्चरर की गहन जांच करना हैं।

एक जिला में फूड इंस्पेक्टर का पद काफी प्रतिष्ठित पद होता है क्योंकि जिला में वितरण हो रही सभी प्रकार के खाद्य सामग्री की जांच करना एक फूड इंस्पेक्टर के अंतर्गत आता है आप अपने जिला के बाजार में जितने भी खाद्य सामग्री देख रहे हैं वह सब की सफलतापूर्वक जांच करना फूड इंस्पेक्टर का काम होता हैं। 

Food inspector बनाने के लिए आपको ऑल इंडिया फूड इंस्पेक्टर एग्जाम अच्छे अंकों के साथ उत्तरण करनी होगी वह एग्जाम किस प्रकार ली जाती है और उसके प्रक्रिया को नीचे विस्तार पूर्वक बताया गया हैं। 

Food Inspector एग्जाम पैटर्न

आपको बता दें की Food inspector एक जिला का प्रतिष्ठित पद होता है जिसे लोग काफी सम्मान की नजर से देखते है। तो इस पद को पाने के लिए आपको कड़ी मेहनत करनी होगी इस पद को पाने के लिए जो परीक्षा आयोजित करवाई जाती है वह संघ लोक सेवा आयोग या UPSC के अंतर्गत आयोजित करवाई जाती है उस परीक्षा का नाम ऑल इंडिया फूड इंस्पेक्टर एग्जाम है यह परीक्षा दो चरणों में होती हैं। 

पहले चरण में आपको दो पेपर की परीक्षा देनी होगी पहला कम अपोजिट पेपर और दूसरा टेक्निकल पेपर दोनों पेपर 100 अंक के होते हैं कुल 200 अंक के पेपर में आपको कटऑफ जितना मार्क्स लेकर आना होगा जिसके लिए आपको प्रत्येक पेपर में 2 घंटे का समय दिया जाता हैं। 

पहले चरण में हर सही जवाब पर आपको एक अंक दिए जाएंगे और हर गलत जवाब पर 0.25 अंक कट कर लिए जाएंगे। 

पहले चरण के प्रथम पेपर कम अपोजिट पेपर में आपसे सामान्य मैथ सामान्य जानकारी सामान्य कंप्यूटर जानकारी और अंग्रेजी के कुछ सवाल पूछे जाएंगे। 

पहले चरण के दूसरे पेपर अर्थात टेक्निकल पेपर में आपसे 50 अंक के फूड सेफ्टी के ऊपर सवाल पूछे जाएंगे और 50 अंक के केमिस्ट्री से सवाल पूछे जाएंगे। 

दूसरे चरण में आपके समक्ष दो पेपर फिर रखे जाएंगे वह दोनों पेपर 150 अंक के होंगे अर्थात कुल 300 अंक का पेपर होगा और आपको प्रत्येक पेपर के लिए 2 घंटे 30 मिनट का समय दिया जाएगा। 

दूसरे चरण के प्रथम पेपर में आपसे मेंटल एबिलिटी और सामान्य ज्ञान से 150 अंक के सवाल पूछे जाएंगे और इसके लिए 2 घंटे 30 मिनट का समय दिया जाएगा। 

दूसरे चरण के दूसरे पेपर में आपसे फूड सेफ्टी के ऊपर कुछ सवाल पूछे जाएंगे जिसमें सामान्य ज्ञान के कुछ सवाल भी शामिल होंगे जो कुल 150 अंक के सवाल होंगे और आपको 2 घंटे 30 मिनट का समय दिया जाएगा। 

Private Sector में फ़ूड इंस्पेक्टर कैसे बन सकते है

वर्तमान समय में बहुत सारी ऐसी प्राइवेट कंपनी है जो अलग-अलग प्रकार के खाद सामग्री को बनाती है और उसे बाजार में बेचती है। एक फूड इंस्पेक्टर के तौर पर आपका कार्य खाद सामग्री की गुणवत्ता का ध्यान रखना होता है। अगर आप प्राइवेट सेक्टर में फूड इंस्पेक्टर के तौर पर कार्य करना चाहते है तो सबसे पहले आपको उस प्राइवेट सेक्टर में फूड इंस्पेक्टर की नौकरी के लिए आवेदन करना हैं।

इसके बाद आपको निर्धारित योग्यता को दर्शाते हुए लिखित परीक्षा और इंटरव्यू को पास करना होगा। इसके बाद आप अगर इंटरव्यू में अपने अनुभव और अपने ज्ञान को सही तरीके से प्रस्तुत किया तो आप एक फूड इंस्पेक्टर के तौर पर कार्यरत हो जाएंगे।

Food Inspector की कितनी सैलरी होती है

फूड इंस्पेक्टर बनने की सभी प्रक्रिया को समझने के बाद अगर आप यह जानना चाहते है कि आप फूड इंस्पेक्टर बनने के बाद कितना पैसा कमाएंगे तो आपको बता दें कि फूड इंस्पेक्टर निजी कंपनियां भी रखती हैं।

अगर आप किसी निजी कंपनी के फूड इंस्पेक्टर बनते हैं तो आपकी तनख्वाह ₹20000 महीने से ₹30000 महीने की होगी।

अगर आप सरकारी फूड इंस्पेक्टर के तौर पर जिला में नियुक्त होते हैं तो आपकी तनख्वाह ₹35000 महीने से ₹40000 महीने तक होगी। इस तनख्वाह से हमारा तात्पर्य यह है कि जब आप इस नौकरी में नियुक्त होंगे तब आपकी तनख्वाह ₹40000 महीना होगी वक्त के साथ आपकी सैलरी भी धेरे-धीरे बढ़ जाएगी। 

Food Inspector के बारे में पूछे जाने वाले प्रश्न

यहाँ पर मैंने ऐसे पांच सवालों के जवाब दिए है जो की अक्सर लोग फूड इंस्पेक्टर के बारे में पूछते रहते हैं।

Q. फूड इंस्पेक्टर किसके अंतर्गत काम करता हैं?

फूड इंस्पेक्टर केंद्र सरकार के अंतर्गत काम करता है और उसका कार्य एक जिला में सभी प्रकार के खाद्य सामग्री किन मापदंडों पर बन रही है और डिस्ट्रीब्यूटर की जा रही है इस बात की निष्पक्ष जांच करना होता हैं।

Q. फूड इंस्पेक्टर बनने के लिए कौन सी परीक्षा देनी पड़ती हैं?

फूड इंस्पेक्टर बनने के लिए संघ लोक सेवा आयोग की ऑल इंडिया फूड इंस्पेक्टर परीक्षा जो हर साल UPSC आयोजित करवाती है उसे उत्तरण करना होता हैं। 

यह भी पढ़ें

निष्कर्ष

अगर आपको Food Inspector Kaise Bane लेख हेल्पफुल रहा है तो फिर आप यह लेख अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करना। इसके अलावा अगर आपको इस लेख से सम्बंधित कोई भी जानकारी चाहिए तो उसके लिए आप निचे कमेंट बॉक्स का इस्तेमाल कर सकते हैं। 

Abhishek Maurya

मेरा नाम अभिषेक मौर्य है और मैं उत्तर प्रदेश वाराणसी डिस्ट्रिक्ट का रहने वाला हूं और मैं एक दिव्यांग हूं। मुझे अलग-अलग विषयों पर आर्टिकल लिखना बहुत अच्छा लगता है और इसी को मैंने अपना जुनून बनाया है। मैं पिछले 3 वर्षों से आर्टिकल लेखन का कार्य कर रहा हूं। आपको हमारे द्वारा लिखे गए लेख कैसे लगते हैं? आप हमें कमेंट बॉक्स में अवश्य बताएं। मेरा भी एक हिंदी ब्लॉग है जिस पर मैं रिलेशनशिप के ऊपर आर्टिकल लिखता हूं जिसका यूआरएल इस प्रकार से है। माय वेबसाइट यूआरएल - https://hindibaatchit.com/

Leave a Reply