Income Tax Officer कैसे बने जानिए हिंदी में

इनकम टैक्स ऑफिसर को भारत के कुछ सर्वोच्च पदों में से एक माना जाता है। भारत के बहुत सारे युवाओं का ख्वाब होता है कि वह भारत के आयकर विभाग में काम करें मगर उनमें से बहुत कम ऐसे हो पाते है जो टैक्स ऑफिसर के रूप में नियुक्त होते है। इतना ही नहीं कईयों का तो डीएम बनने का भी सपना होता है परंतु ने सही जानकारी नहीं मिल पाती। जिसकी वजह से उनके सपने आसानी से पूरे नहीं हो पाते हैं। 

अगर आप भी भारत के प्रत्यक्ष कर बोर्ड विभाग के एक ऐसे वरिष्ठ अधिकारी बनना चाहते है जिनके हाथ में इनकम टैक्स डिपार्टमेंट की बागडोर हो और अगर आपको पता नहीं है कि Income Tax Officer Kaise Bane तो आप बिल्कुल सही जगह पर हैं। 

Table Of Contents
  1. Income Tax Officer कौन होता हैं
  2. Income Tax Officer कैसे बने 
  3. Income Tax Officer बनने के लिए योग्यता
  4. Income Tax Officer बनाने के लिए हाइट
  5. Income Tax Officer बनने की तैयारी
  6. Income Tax Officer बनने के लिए सिलेबस
  7. Income Tax Officer बनने के लिए एग्जाम पैटर्न 
  8. Income Tax Officer की सैलरी कितनी होती हैं 
  9. Income Tax Officer के बारे में पूछे जाने वाले प्रश्न

इस लेख में हम आपको विस्तार पूर्वक या समझाएंगे की इनकम टैक्स डिपार्टमेंट के लिए कौन सी परीक्षा देनी होती है उसकी सैलरी कितनी होती है और इस पद की नियुक्ति प्रक्रिया क्या हैं। 

Income Tax Officer कौन होता हैं

Income tax officer या ITO भारत के केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड का एक ऑफिसर होता है जो आयकर विभाग में वित्य और कर संबंधित मामलों के लिए जवाबदेह होता है। भारत में हो रहे व्यापार और सभी प्रकार के व्यक्तिगत टैक्स की बारीकी से विश्लेषण और जांच करता है इनकम टैक्स ऑफिसर इस बात की देखरेख करता है कि करदाता द्वारा कर का सही भुगतान किया गया है या नहीं। 

वित्तीय कर में कम या ज्यादा शक होने पर इनकम टैक्स ऑफिसर को पूरी तरह से छूट है कि वह करदाता के ऊपर छापा मार सकता है। जैसा कि अक्सर फिल्मों में दिखाया जाता है इनकम टैक्स ऑफिसर बिल्कुल उसी तरह अपने सब के बिना पर किसी भी कर दादा के घर पर Raid मार सकता है। इसके अलावा इनकम टैक्स ऑफिसर केंद्र सरकार के अंतर्गत काम करता है इसकी सर्वप्रथम और महत्वपूर्ण भूमिका सरकार के द्वारा चलाए जाने वाले आय कर की प्रक्रिया को पूरे देश में आदेश अनुसार बनाकर रखना होता हैं। 

Income Tax Officer क्या कार्य करता हैं 

इनकम टैक्स ऑफिसर केंद्र सरकार के अंतर्गत काम करता है जिसमें इसकी सर्वप्रथम भूमिका सरकार द्वारा चलाए जा रहे आय कर की प्रक्रिया को पूरे देश में निष्पक्ष रुप से बनाकर रखना होता है। एक इनकम टैक्स ऑफिसर इस बात के लिए जवाबदेह होता है कि कौन सा करदाता कितना कर दे रहा है। ITO ऑफिसर इस बात की भी देखरेख करता है कि देश में चलाए जा रहे सभी प्रकार के व्यापार का कर सही तरीके से सरकार के पास पहुंच रहा है या नहीं। 

इनकम टैक्स ऑफिसर का काम बहुत सारी फिल्मों में भी दिखाया जाता है जैसा आप फिल्म में देखते है एक ITO ऑफिसर बिल्कुल उसी तरह किसी के घर पर Raid मार सकता है। हार आयकर विभाग में एका ITO होता है जो यह सुनिश्चित करता है कि उसके इलाके में सभी करदाता पूरी निष्पक्षता से सरकार को कर का भुगतान आय कर रहे हैं। 

Income Tax Officer कैसे बने 

अगर आपको इनकम टैक्स ऑफिसर बनना है तो नीचे दिए गए निर्देशों का आदेश अनुसार पालन करें। 

1. 12वी जमात किसी भी सब्जेक्ट से पास करें

सबसे पहले आपको अपनी दसवीं जमात अच्छे से पास करनी है उसके बाद आपको अपनी 11वीं और 12वीं जमात पास करनी है इनकम टैक्स ऑफिसर बनने के लिए 12वीं में किसी भी प्रकार के मार्क्स का प्रतिबंध नहीं लगाया क्या है मगर आपको कोशिश करनी है कि आप अच्छे से अच्छे मार्क्स ला पाए ताकि आप किसी अच्छे कॉलेज में ग्रेजुएशन की पढ़ाई पूरी कर सके। 

2. अपनी ग्रेजुएशन पूरी करें

इनकम टैक्स ऑफिसर बनने के लिए किसी भी कोर्स से अपने के गार्जुएशन या स्नातक की डिग्री ले सकते है। आप ग्रेजुएशन में अपने मनपसंद का कोई भी कोर्स कर सकते है। केवल आप इस बात का ध्यान दें कि आप जिस कॉलेज से पढ़ रहे है वह पूरी तरह से लाइसेंस हो और उसे सरकारी तौर पर मान्यता प्राप्त हो। आपको स्नातक की डिग्री इसलिए चाहिए ताकि आप इनकम टैक्स ऑफिसर का फॉर्म भर सकें। 

3. SSC CGL की परीक्षा के लिए आवेदन करें

अगर आपको इनकम टैक्स ऑफिसर बनना है तो अपनी स्नातक की डिग्री पूरी होने पर आपको SSC सीजीएल का फॉर्म भरना चाहिए या फॉर्म हर साल SSC की ओर से निकाला जाता है। 

अगर हम आपको एसएससी के बारे में बताएं तो SSC भारत का एक महत्वपूर्ण विभाग है जिसमें सरकारी नौकरी के लिए नियुक्ति की जाती है इस विभाग का संगठन 1975 में किया गया था ताकि युवाओं को सरकारी नौकरी मिल सके। SSC हर साल विभिन्न प्रकार के परीक्षा आयोजित करवाती है और हर साल हजारों उम्मीदवार को सरकारी नौकरी प्रदान करती हैं। 

SSC में CGL के अलावा और भी विभिन्न प्रकार की परीक्षाएं होती है जैसे एमटीएस, जीडी, आदि। हर परीक्षा से आपको अलग-अलग नौकरी दी जाती है। एसएससी सीजीएल में भी आपको विभिन्न प्रकार के पोस्ट दिए जाते है जैसे असिस्टेंट सेक्रेटरी, मिनिस्ट्री विभाग में अकाउंटेंट, टैक्स ऑफिसर आदि। 

एसएससी सीजीएल का फॉर्म भरने के लिए नीचे दिए गए निर्देशों का पालन करें

  • आपको सबसे पहले SSC की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना हैं। 
  • SSSC की वेबसाइट में आपको “New Recruitment” का एक सेक्शन मिलेगा जहां पर आप को बताया जाएगा कि कौन सी नई भर्ती आई है अगर उसमें SSC CGL का नाम हो तो आप को उसके ऊपर क्लिक करना हैं। 
  • जब आप उस पर क्लिक करेंगे तो रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया शुरू होगी जिसमें आपको कुछ साधारण जवाब देने है जैसे आपका नाम, अपके पिता का नाम, आपका एड्रेस, भरना है जिसके बाद आपका रजिस्ट्रेशन पूरा हो जाएगा। 
  • रजिस्ट्रेशन पूरा करने के बाद आपको बताया जाएगा कि आप किन-किन परीक्षाओं के लिए योग्य है जो भी भर्ती निकली होगी आपकी योग्यता अनुसार उसके नाम आएंगे आपको उनमें SSC CGL पर क्लिक करना हैं। 
  • उसके बाद आपके सम्मुख एसएससी सीजीएल का फॉर्म आएगा जिसमें आपको अपना फोटो और हस्ताक्षर अपलोड करना है और पेमेंट का भुक्तान करना हैं। 

4. SSC CGL की परीक्षा को पास करें

ऊपर बताए गए निर्देशों का पालन करके जब आप एसएससी सीजीएल के लिए अप्लाई कर देंगे तब हम आपको बताते हैं कि यह परीक्षा तीन चरण में ली जाती है पहले दो चरण ऑनलाइन कंप्यूटर में होते हैं। 

आपको सबसे पहले टायर 1 परीक्षा पास करनी है जो कि ऑनलाइन कंप्यूटर पर होगी। उसके बाद आपको टायर 2 परीक्षा पास करनी होगी यह परीक्षा भी ऑनलाइन कंप्यूटर पर ली जाएगी। 

जो उम्मीदवार एसएससी सीजीएल की दोनों परीक्षाओं को पास कर लेता है उसे टायर 3 की परीक्षा पास करनी होती है जो कि पेपर पेन पर सब्जेक्टिव परीक्षा होती है अर्थात आपको सवालों के आंसर लिखने होते हैं। 

जब आप CGL की परीक्षा तीन चरण में पास कर लेते हैं तब SSC की तरफ से  एक मेरिट लिस्ट निकाला जाता है जिसमें जिन छात्रों के सर्वश्रेष्ठ अंक आए होते है। उन मेरिट लिस्ट वाले छात्रों को आगे पड़ाव में भेजा जाता हैं। 

5. अंत में आपको डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन करवानी होगी

जब आप ऊपर बताए हुए सभी निर्देशों का पालन करके SSC CGL की परिक्षा को मेरिट लिस्ट के साथ उत्तरण कर लेंगे तब आपको डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन करवाना होगा। सभी कागजों का अच्छे से वेरिफिकेशन करवाने के बाद एसएससी की ओर से आपको इनकम टैक्स ऑफिसर की नौकरी दे दी जाएगी। 

Income Tax Officer बनने के लिए योग्यता

वे उम्मीदवार जो भारत सरकार के अंतर्गत आयकर अधिकारी बनना चाहते है उनके लिए सरकार के द्वारा निश्चित कुछ निर्धारित आवश्यकताओं को पूर्ण करना होगा। जिसके लिए आपको इनकम टैक्स ऑफिसर बनने की योग्यताओं के बारे में बताया जा रहा हैं।

  • इनकम टैक्स ऑफीसर बनने के लिए न्यूनतम शैक्षणिक योग्यता स्नातक की डिग्री होनी चाहिए जिसे आप किसी भी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से प्राप्त कर सकते हैं।
  • शिक्षण योग्यता के अलावा आवेदन कर्ता की आयु 27 वर्ष से अधिक नहीं होनी चाहिए। यह आयु सीमा आरक्षित श्रेणियों के लिए थोड़ी बढ़ाई गई है जैसे – OBC कैटेगरी वालों के लिए 3 वर्ष अधिक दी गई है और ST/SC वर्ग के लोगों के लिए 13 वर्ष की छूट हैं।
  • तीसरी और महत्वपूर्ण योग्यता यह है कि उम्मीदवार को एसएससी सीजीएल के परीक्षा मेरिट लिस्ट के साथ उत्तरण करनी होगी। 

Income Tax Officer बनने के लिए आयु

इनकम टैक्स ऑफिसर बनने के लिए आयु में अक्सर उम्मीदवार कंफ्यूज रहते है। हम आपको इस लेख में विस्तार पूर्वक यह बताने जा रहे है कि इनकम टैक्स ऑफिसर बनने के लिए उम्मीदवार की कितनी आयु होनी चाहिए। 

आपको बता दें कि यह उम्र की सीमा रिजर्व श्रेणियों के लिए अलग रखी गई है, किस केटेगरी वाले लोग के लिए कैसी उम्र की सीमा रखी गई है इस बारे में नीचे विस्तारपूर्वक समझाया गया हैं।

  • अगर आवेदन करता General केटेगरी से आते हैं तो उनके लिए आवेदन करने की न्यूनतम आयु 21 वर्ष और अधिकतम आयु 27 वर्ष की रखी गई हैं। 
  • अगर आवेदन कर्ता OBC श्रेणी से ताल्लुक रखता है तो उसे 3 वर्ष की छूट दी जाएगी अर्थात ओबीसी कैटेगरी वाले उम्मीदवार के लिए आवेदन करने की न्यूनतम आयु 21 वर्ष और अधिकतम आयु 30 वर्ष रखी गई हैं।
  • वहीं अगर आवेदन कर्ता SC/ST वर्ग से ताल्लुक रखता है तो उसे 5 वर्ष की छूट दी जाएगी अर्थात एससी एसटी कैटेगरी वालों के लिए आवेदन करने की न्यूनतम आयु 21 वर्ष और अधिकतम आयु 35 वर्ष रखी गई हैं।
  • PWD या वह व्यक्ति जो शारीरिक रूप से असमर्थ है उस उम्मीदवार को 10 वर्ष तक की छूट प्रदान की गई है। अर्थात जो व्यक्ति पीडब्ल्यूडी कैटेगरी से आता है उसके लिए आवेदन करने की न्यूनतम आयु 21 वर्ष और अधिकतम आयु 40 वर्ष रखी गई हैं।

Income Tax Officer बनाने के लिए हाइट

इनकम टैक्स ऑफिसर बनने बनने के लिए पुरुष और महिलाओं को विभिन्न शारीरिक दक्षता को पूर्ण करना होता है। अगर आप इनकम टैक्स ऑफिसर बनना चाहते है तो आपकी कैसी शारीरिक दक्षता होनी चाहिए साथ ही आपको किस प्रकार के कार्य करने होंगे या हाइट कितनी होनी चाहिए यह सारी बातें विस्तारपूर्वक नीचे बताई गई हैं। 

पुरुष वर्गों के लिए आयु सीमा

अगर आप वह पुरुष उम्मीदवार है जो इनकम टैक्स ऑफिसर के लिए आवेदन करना चाहता है तो नीचे दी गई सभी चीजों में आपको उत्तरण होना होगा।

  • ऊंचाई (height) – 1576 cm या 5ft 2inch
  • सीना फुला हुआ (chest) – 81 cm या 31 inch
  • पैदल चलकर 15 मिनट में 16 मीटर की दूरी तय करनी होगी। 
  • साइकिल चलाकर 30 मिनट में 8 किलोमीटर की दूरी तय करनी होगी। 

महिला वर्गों के लिए आयु सीमा 

अगर आप वह महिला उम्मीदवार है जो इनकम टैक्स ऑफिसर के लिए आवेदन करना चाहती है तो नीचे दिए गए सभी चीजों में आपको उत्तरण होना होगा। 

  • ऊंचाई (height) – 152 cm या 5 feet
  • वजन (weight) – 48 kg
  • पैदल 20 मिनट में 1 किलोमीटर चलना होगा। 
  • साइकिल चलाकर 20 मिनट में 1 किलोमीटर जाना होगा। 

ऊपर बताई गई योग्यताएं ज्यादा कठिन नहीं है यह किसी भी स्वस्थ आदमी के लिए आम बात है। इस वजह से आपको इनकम टैक्स विभाग में नौकरी पाने के लिए अपनी शिक्षण योग्यता पर ज्यादा काम करना होगा ना कि अपने शारीरिक दक्षता पर। 

यह भी पढ़ें

Income Tax Officer बनने की तैयारी

अगर आप वह उम्मीदवार है जो इनकम टैक्स ऑफिसर बनने के लिए सजग है तो आप किस तरह से इस परीक्षा के लिए तैयारी कर सकते है इस बारे में विस्तारपूर्वक जानकारी प्रदान की गई हैं। 

टायर 1- परीक्षा की तैयारी

जैसा कि हम जानते हैं इनकम टैक्स ऑफिसर बनने के लिए तीन चरण में परीक्षा आयोजित करवाई जाती है जिसमें पहला चरण टायर वन एग्जाम कहलाता है यह परीक्षा ऑनलाइन कंप्यूटर की मदद से ली जाती है जिसमें आपसे बहुविकल्पीय प्रश्न पूछे जाते हैं। 

Tier 1 exam की तैयारी करने के लिए आपको अंकगणित, सामान्य ज्ञान और सामान्य जागरूकता के प्रश्नों की तैयारी करनी चाहिए। इस परीक्षा में जिस तरह के अंकगणित पूछे जाते है वह 12वी तक के होते है। साथ ही सामान्य ज्ञान और सामान्य जागरूकता जैसे प्रश्नों की तैयारी आप एसएससी सीजीएल के विभिन्न पुस्तकों से कर सकते हैं। 

आपको दोनों पेपर रखे परीक्षा देने के लिए दो-दो घंटे का समय दिया जाता है और दोनों पेपर 100–100 मार्क्स के होते हैं।  अब अगर आपको टायर वन की तैयारी करनी है तो इसके लिए आपको पुस्तक आसानी से किसी भी बुक स्टोर पर मिल जाएंगे। 

टायर 2- परीक्षा की तैयारी 

जो उम्मीदवार टायर 1 परीक्षा में उत्तीर्ण हो जाते है वह टायर 2 परीक्षा में बैठने के लिए योग्य होते है। वह उम्मीदवार जो पहले चरण में पास हो जाते है वह दूसरे चरण में चार पेपर के परीक्षा देते है जिसमें – सामान्य ज्ञान, अंक गणित, भाषा, अंग्रेजी, और कौशल। किस पेपर में आपको कितने अंक मिलेंगे और कितना समय मिलेगा इस बात का पूर्ण विवरण नीचे दिया गया हैं।

  • सामान्य अध्ययन   200 मार्क्स 3 घंटे
  • अंग्रेजी             100 मार्क्स         2 घंटे 20 मिनट
  • अंक गणित 200  मार्क्स 4 घंटे
  • भाषा             100  मार्क्स        2 घंटे 40 मिनट

इस परीक्षा की तैयारी के लिए आपको दसवीं से बारहवीं तक की किताबों को पढ़ना होगा। साथ ही सामान्य ज्ञान अंग्रेजी अंकगणित की तैयारी अच्छे से करें। 

टायर 3- परीक्षा की तैयारी

टायर 3 वह परीक्षा होती है जिससे उपर्युक्त दोनों परीक्षा को पास करने के बाद उम्मीदवार दे सकते है। इस परीक्षा को descriptive type पेपर भी कहा जाता है। इस परीक्षा में हिंदी या इंग्लिश में पत्र लेखन और निबंध लेखन जैसे प्रश्न पूछे जाते हैं। 

टायर तीन परीक्षा की तैयारी करने के लिए आपको जितना ज्यादा हो सके उतना ज्यादा विभिन्न प्रकार के एक और पत्र को पढ़ना चाहिए साथ ही उन्हें लिखने की प्रेक्टिस भी करनी चाहिए। 

Income Tax Officer बनने के लिए सिलेबस

अगर आपको इनकम टैक्स ऑफिसर बनना है तो इसकी तैयारी करने से पूर्व आपको यह पता होना चाहिए कि आपको किस चीज की तैयारी करनी है अर्थात आपके इनकम टैक्स ऑफिसर बनने के लिए आपको क्या पढ़ना होगा इसलिए इनकम टैक्स ऑफिसर बनने की सिलेबस नीचे विस्तार पूर्वक बताया जा रहा है। 

इनकम टैक्स ऑफिसर के सिलेबस में आपको सामान्य ज्ञान अंग्रेजी अंकगणित भाषा संचार कौशल जैसे विभिन्न विषयों की जानकारी होनी चाहिए। 

सामान्य ज्ञान के लिए पाठ्यक्रम

  • शब्द का तार्किक अनुक्रम
  • रक्त संबंधित 
  • प्रशिक्षण न्याय 
  • श्रृंखला 
  • कारण व प्रभाव 
  • कागज मोड़ना 
  • कागज काटना 
  • नियम पहचानना 
  • छवियों का समूह 
  • डॉट स्थिति 
  • आकार निर्माण 
  • डाटा दक्षता 
  • सीरीज 
  • सत्य का सत्यापन 
  • मिरर छवि 
  • पानी की छवि 
  • पैटर्न को पूरा करना 
  • छवि विश्लेषण 
  • क्यूब और पासा

ऊपर दिए गए इन सभी विषयों पर आपको सवाल हल करने की प्रैक्टिस करनी है जिसके बाद अब सामान्य ज्ञान से जुड़े सवालों का जवाब दे पाएंगे।

अंक गणित के लिए पाठ्यक्रम

  • संख्या प्रणाली 
  • बीजगणित 
  • जमीति 
  • समीकरण 
  • गतिशीलता 
  • सांखिकी 
  • संख्या प्रणाली 
  • स्टैटिक्स 
  • पूरे नंबर का गणना 
  • प्रतिशत 
  • छूट 
  • ब्याज 
  • लाभ और हानि 
  • समय और दूरी 
  • अनुपात और समय    
  • दशमालो 
  • समय और कार्य 
  • टेबल और ग्राफ

ऊपर दिए गए इन सभी विषयों पर आपको गणित के विभिन्न प्रश्नों को हल करने का प्रयास करना हैं। 

सामान्य अंग्रेजी के लिए पाठ्यक्रम

  • शब्दावली
  • विलोम शब्द 
  • एक समान शब्द 
  • व्याकरण 
  • त्रुटि स्पष्ट करें 
  • वितरण 
  • विशेषण 
  • क्रिया 
  • मुहावरे 
  • गलत वर्तनी वाले शब्द

ध्यान दें: इन सभी विषयों पर आपको कुछ अंग्रेजी व्याकरण की पुस्तकों को पढ़ना होगा। 

ऊपर बताए गए यह सभी विषय आपके लिए टायर 1 और टायर 2 की परीक्षा में काफी मदद करेंगे इन सभी विषयों पर लगातार अभ्यास करने से आप आने वाली परीक्षा की तैयारी सुनिश्चित कर पाएंगे। 

टायर 3 की परीक्षा के लिए किसी भी तरह के सिलेबस की आवश्यकता नहीं है आपको केवल विभिन्न प्रकार के पत्र और लेख लिखने का अभ्यास करना होगा। 

Income Tax Officer बनने के लिए एग्जाम पैटर्न 

सभी प्रकार की जानकारी पूर्ण होने के बाद आपको इस जानकारी को भी याद रखना है कि होने वाला एग्जाम किस प्रक्रिया में होगा। 

इनकम टैक्स ऑफिसर बनने के लिए एग्जाम चार चरण में लिए जाते है जिन्हें टायर 1, टायर 2, टायर 3, एवं टायर 4 कहे जाते हैं।

टायर 1

आपको बता दें कि पहले चरण की परीक्षा ऑनलाइन होती है जिसमें कुल 200 अंक के सवाल पूछे जाते है इस परीक्षा को टायर 1 परीक्षा कहा जाता है। इस परीक्षा में 2 पेपर होते हैं पहला पेपर अंकगणित का और दूसरा सामान्य ज्ञान। सामान्य ज्ञान में आपको जनरल इंटेलिजेंस, अवेयरनेस, क्वांटिटेटिव एप्टिट्यूड, और कंप्रीहेंशन जैसे सवाल भी पूछे जाते हैं।

यह परीक्षा दो भाग में ली जाती है पहले भाग में आपको अंक गणित के 100 सवाल दिए जाते है जिन्हें 2 घंटे के अंदर हल करने होते है उसके बाद आपको सामान्य ज्ञान के 100 सवाल दिए जाते है जिन्हें 2 घंटे के अंदर हल करने होते है इन दोनों भाग को मिलाकर 200 अंक में आपका कुल मार्क्स दिया जाएगा। 

टायर 2

आपको बता दें कि पहले चरण में जो उम्मीदवार पास होते है केवल उन्हीं उम्मीदवार को टायर टू परीक्षा देने की अनुमति दी जाती है यह परीक्षा चार पेपर में ली जाती है जो 400 अंक की परीक्षा होती हैं। 

यह परीक्षा चार विभिन्न भाग में ली जाती है जिसके पहले भाग में आपको सामान्य ज्ञान के सवाल पूछे जाते है जिसके लिए 200 अंक मिलते है। उसके बाद अंग्रेजी के सवाल दिए जाते है जिनके लिए आपको 2 घंटे 20 मिनट का समय मिलता है और 100 अंक प्राप्त होते हैं। 

उसके बाद अंक गणित के सवाल दिए जाते है जिसके लिए 4 घंटे का समय दिया जाता है और आपको 200 अंक प्राप्त होते है। उसके बाद आप अपने भाषा का चयन करते हैं जिसमें आपको 100 अंक प्राप्त होते है और कुल 2 घंटे 40 मिनट का समय दिया जाता हैं। 

टायर 3

जो उम्मीदवार टायर टू परीक्षा को उत्तरण कर पाते है केवल उन्हें ही टायर 3 परीक्षा में बैठने की अनुमति दी जाती है दोनों चरण को पूरा करने वाले उम्मीदवार टायर 3 एग्जाम में descriptive type की ऑफलाइन परीक्षा देते है जिसमें उम्मीदवार को हिंदी या इंग्लिश भाषा में निबंध और पत्र लिखना होता हैं।

टायर 4

टायर 4 में केवल वह उम्मीदवार आते है जो ऊपर के तीनों परीक्षा में उत्तीर्ण हो पाते है इस परीक्षा में किसी भी प्रकार का अंग नहीं दिया जाता है यह केवल शारीरिक प्रशिक्षण और दस्तावेज सत्यापन के लिए होता है इसमें उम्मीदवार को चलने और साइकिल चलाने जैसे कार्य करवाए जाते है उसके बाद उनके दस्तावेज को देखा जाता है और लगभग सभी उम्मीदवार इसमें उत्तरण हो जाते हैं। 

दिए गए चारों परीक्षा में जिस प्रकार के अंग आप लाते हैं उन सब अंक को जोड़कर अंत में मेरिट लिस्ट बनाया जाता है मेरिट लिस्ट में आए अंक के अनुसार उम्मीदवारों का चयन किया जाता हैं।

Income Tax Officer की सैलरी कितनी होती हैं 

Income tax officer एक प्रभाव सील और हाई विभाग का उच्च अधिकारी होता है जिसका करंट पे स्केल ₹44000 प्रति माह का होता है। अर्थात जब आपकी नौकरी लगती है तो आप की पहली तनख्वाह ₹44000 रुपए में आएगी। आपको बता दें कि यह सैलरी किस हिसाब से दी जाती है – 

  • Basic pay – Rs. 44000
  • HRA – Rs. 10, 776
  • DA – Rs. 7, 633
  • TA – Rs. 3, 600

Income Tax Officer के बारे में पूछे जाने वाले प्रश्न

यहाँ पर मैंने ऐसे तीन सवालों के जवाब दिए है जो की अक्सर लोग इनकम टैक्स ऑफिसर के बारे में पूछते रहते हैं।

Q. इनकम टैक्स ऑफिसर बनने के लिए कौन सा एग्जाम देना पड़ता हैं?

इनकम टैक्स ऑफिसर बनने के ली है SSC CGL की परीक्षा देनी होती हैं। 

Q. इनकम टैक्स ऑफिसर बनने के लिए कितनी आयु होनी चाहिए?

इनकम टैक्स ऑफिसर बनने के लिए न्यूनतम आयु 21 वर्ष और अधिकतम आयु 27 वर्ष होनी चाहिए अगर आप रिजर्व कैटेगरी से ताल्लुक रखते है, तो sc-st को 5 वर्ष और obc को 3 वर्ष की छूट दी गई हैं। 

Q. इनकम टैक्स ऑफिसर की कितनी सैलरी होती हैं?
इनकम टैक्स ऑफिसर की शुरुआती सैलरी लगभग ₹44000 होती हैं।

यह भी पढ़ें

निष्कर्ष

अगर आपको Income Tax Officer Kaise Bane लेख हेल्पफुल रहा है तो फिर आप यह लेख अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करना। इसके अलावा अगर आपको इस लेख से सम्बंधित कोई भी जानकारी चाहिए तो उसके लिए आप निचे कमेंट बॉक्स का इस्तेमाल कर सकते हैं। 

Abhishek Maurya

मेरा नाम अभिषेक मौर्य है और मैं उत्तर प्रदेश वाराणसी डिस्ट्रिक्ट का रहने वाला हूं और मैं एक दिव्यांग हूं। मुझे अलग-अलग विषयों पर आर्टिकल लिखना बहुत अच्छा लगता है और इसी को मैंने अपना जुनून बनाया है। मैं पिछले 3 वर्षों से आर्टिकल लेखन का कार्य कर रहा हूं। आपको हमारे द्वारा लिखे गए लेख कैसे लगते हैं? आप हमें कमेंट बॉक्स में अवश्य बताएं। मेरा भी एक हिंदी ब्लॉग है जिस पर मैं रिलेशनशिप के ऊपर आर्टिकल लिखता हूं जिसका यूआरएल इस प्रकार से है। माय वेबसाइट यूआरएल - https://hindibaatchit.com/

Leave a Reply