कंप्यूटर कैसे चलाते है – खुद कंप्यूटर चलाना सीखिए हिंदी में

अगर आप अपने घर में एक कंप्यूटर खरीदना चाहते है और आज के जमाने के साथ कदम से कदम मिलाकर चलना चाहते है तो कंप्यूटर का ज्ञान सीखना आवश्यक है। तो आज आप बिल्कुल सही जगह पर है इस पोस्ट में हम आपको बताने जा रहे है कि Computer Kaise Chalate Hai? कंप्यूटर आज किस समय की मांग हो गई है और लगभाग सभी प्रकार के नौकरियों में कंप्यूटर चलाना आवश्यक होता जा रहा है। जिस वजह से हमने इस लेख में कंप्यूटर कैसे चलाते है इस बात को विस्तारपूर्वक समझाया गया हैं।

कंप्यूटर क्या हैं

कंप्यूटर बिजली से चलने वाला एक यंत्र है जिससे हमारे रोजमर्रा के काम आसान हो जाते है। कंप्यूटर जानकारी को स्टोर करना, हिसाब किताब करना, फोटो एडिट करना और लोगों को इंटरनेट के जरिए जोड़ने का मुख्य कार्य करता हैं। 

कंप्यूटर को आज की जरूरत भी कह सकते है, आज कल कंप्यूटर का इस्तेमाल हम अपने रोजमर्रा के लगभग सभी कार्यों में करते है। कंप्यूटर नौकरी, में बिजनेस में, पढ़ाई में इस्तेमाल किया जाने वाला एक महत्वपूर्ण यंत्र बन चुका हैं।  

कंप्यूटर एक ऐसा यंत्र है जिसका ख्वाब आज से कई साल पहले देखा गया था कंप्यूटर की खोज करने का मुख्य कारण अपने रोजमर्रा के कार्य को आसान करना था। सर्वप्रथम abacus नाम के कंप्यूटर की खोज की गई, जिसका काम गिनती को आसान बनाना था धीरे-धीरे विभिन्न प्रकार के कंप्यूटरों को बाजार में लाया गया 17वी सदी में नेपर्स बोन वह पहले व्यक्ति थे जिन्होंने एक ऐसे कंप्यूटर को बनाया जो जोड़, घटाव और गुना आसानी से और जल्दी कर सकता था। 

आगे चलकर चार्ल्स बब्बेज वह व्यक्ति बने जिन्होंने एनालिटिकल इंजन और डिफरेंट इंजन नाम के कंप्यूटर से सभी प्रकार के जोड़, घटाव और गणितज्ञ काम को आसान बना दिया उनके इस कार्य की वजह से उन्हें कंप्यूटर का पितामह कहा जाता हैं।

कंप्यूटर को धीरे धीरे इतना विकसित किया गया कि आज हम जिस कंप्यूटर का इस्तेमाल कर रहे है। इसमें हम ना केवल गणित से जुड़े कार्य कर सकते है बल्कि हम इसमें अपनी जानकारी को स्टोर कर सकते है, फोटो और वीडियो को एडिट कर सकते है, और विभिन्न प्रकार के नौकरी और व्यापार से जुड़े फाइल और कागज को बना सकते हैं।

कंप्यूटर का फुल फॉर्म इन हिंदी

Computer का फुल फॉर्म Common Operating Machine Purposely used for Technological and Educational research हैं। 

वैसे तो कंप्यूटर का कोई फुल फॉर्म नहीं होता यह एक फुल फॉर्म है जो इंटरनेट पर मौजूद लोगों के द्वारा स्वयं निर्मित किया गया है पर इस फुल फॉर्म को काफी सराहा भी गया। इस फुल फॉर्म के आधार पर कंप्यूटर एक ऐसा यंत्र है जिसका इस्तेमाल टेक्नोलॉजी और एजुकेशन में रिसर्च के कामों के लिए किया जाता हैं।

कंप्यूटर कैसे चलाते हैं

कंप्यूटर चलाना बहुत आसान है नीचे बताए गए कुछ निर्देशों का आदेश अनुसार पालन करने के बाद आप कंप्यूटर को बड़ी आसानी से चला सकते हैं। 

कंप्यूटर को ऑन या शुरू कैसे करें  

Step 1– जब आपके कंप्यूटर को सेटअप किया गया होगा तो कंप्यूटर के प्लग को UPS में लगाया जाता है और यूपीएस का प्लग अप बोर्ड में लगाते है तो सबसे पहले आप अपने यूपीएस का प्लान पॉवर बोर्ड में लगाएं।

Step 2– जब आप प्लग को पावर में लगा दें तो UPS के बटन को ऑन करें उसके बाद आप CPU के बटन को ऑन करें।

Step 3– अगर आपने अपने कंप्यूटर में पासवर्ड सेट किया होगा तो आपका कंप्यूटर आप से पासवर्ड मांगेगा तो उस पर पासवर्ड टाइप कर दें। 

Step 4– अब आपका कंप्यूटर चालू हो चुका है अगर अपने अपने कंप्यूटर में पासवर्ड नहीं लगाया है तो दूसरे निर्देश के बाद आपका कंप्यूटर शुरू हो जाएगा। 

  • कम्प्यूटर को बंद कैसे करें

अगर आप ऊपर बताए गए निर्देशों का पालन करेंगे तो आपका कंप्यूटर शुरू हो जाएगा अपने कंप्यूटर को बंद करने के लिए और नीचे बताए गए निर्देशों का आदेश अनुसार पालन करें। 

Step – आपके कंप्यूटर में बाएं ओर सबसे निचले कोने में स्टार्ट का एक बटन होगा जिस बटन पर क्लिक करते हीआपके समक्ष दाएं ओर पावर बटन का विकल्प आएगा। 

Step 2– जब आप पावर बटन पर क्लिक करेंगे तो आपके समक्ष शट डाउन का विकल्प आ जाएगा जिस पर क्लिक करते ही आपका कंप्यूटर बंद हो जाएगा।

Step 3– कंप्यूटर बंद होते वक्त शटिंग डाउन लिखता है अगर आप Alt + F4 का बटन दबाते है तो ये कंप्यूटर को बंद करने का shortcut हैं।

कंप्यूटर बेसिक्स इन हिंदी

कम्प्यूटर चलाने के लिए केवल कंप्यूटर को शुरु करना और बंद करना ही आवश्यक नहीं है आपको कंप्यूटर के कुछ बेसिक जानकारी को जानना भी आवश्यक हैं।

कंप्यूटर में जितने भी प्रकार की चीजें होती है उन्हें दो विभिन्न श्रेणियों में बांटा गया है जिसे हम इनपुट और आउटपुट कहते हैं।

Input Device 

कंप्यूटर में जितनी भी ऐसी मशीनें होती है जिनका इस्तेमाल हम कंप्यूटर को निर्देश देने के लिए करते है उन्हें हम इनपुट डिवाइस कहते है। आपको यह बात पता होगा कि कंप्यूटर हमारे दिए गए निर्देश के अनुसार कार्य करता है तो कंप्यूटर को निर्देश देने के लिए हम कुछ मशीनों का इस्तेमाल करते हैं जिन मशीन की मदद से हम कंप्यूटर को निर्देश देते है उसे हम इनपुट डिवाइस कहते हैं। 

1. Keyboard

कंप्यूटर को निर्देश देने का जब हम बात करते है तो सबसे पहले हमारे मन में यह विचार आता है कि हम कंप्यूटर में बटन दबाकर कुछ लिखते है। तो आपको बता दें कि कंप्यूटर का वह मशीन है जिसमें हम बटन दबाते हैं उसे कीबोर्ड कहते हैं।

कम्प्यूटर में जो साधारण कीबोर्ड होता है उसमे कुल 101 बटन होते है। सारे alphabet और numeric को हटाने के बाद भी कंप्यूटर में विभिन्न प्रकार के बटन होते है जिनका इस्तेमाल हम कंप्यूटर को खास प्रकार के निर्देश देने के लिए करते हैं। 

2. Mouse

कंप्यूटर में एक छोटा सा मशीन होता है जो चूहा जैसा दिखता है ये मशीन एक तार के जरिए कंप्यूटर मोनिटर से जुड़ा हुआ होता है और हम उसे माउस कहते हैं

हमारे हाथ जिस प्रकार कार्य करते है माउस भी कंप्यूटर में उसी प्रकार काम करता है माउस के जरिए हम कंप्यूटर को बताते है कि कौन सी फाइल को ओपन करना है या कौन सी फाइल को एडिट करना है कहां लिखना है या फिर कंप्यूटर को किसी भी प्रकार का निर्देश देने के लिए हमें एक तीर को कंप्यूटर स्क्रीन पर अपने जरूरत के स्थान पर लेकर जाना होता है और जिस मशीन के सहारे हम यह सब करते है उसे माउस कहा जाता हैं। 

3. CPU

इसे हम कंप्यूटर का दिमाग कहते है। ऐसा इसलिए क्योंकि हम जब भी कोई निर्देश देते है तो कंप्यूटर में सीपीयू के अंदर वह निर्देश स्टोर होता है वही कंप्यूटर अपने सभी मशीनों को बताता है कि किस प्रकार उस निर्देश का पालन करना है और हमे आउटपुट देना हैं। 

कंप्यूटर में मॉनिटर, कीबोर्ड, माउस ये सब CPU से जुड़ा होता है और कंप्यूटर में मौजूद विभिन्न प्रकार की मशीनें किस प्रकार कार्य करेंगी इस बात का निर्देशन सीपीयू उन्हें देता हैं।

आपको बता दें कि इसके अलावा और भी विभिन्न प्रकार के इनपुट डिवाइस होते है जिनका इस्तेमाल आप अपने रोजमर्रा के जीवन में करते ही होंगे मगर ऊपर बताए गए इनपुट डिवाइस वह प्रमुख डिवाइस है जिनके बारे में पता होना आवश्यक हैं।

4. Microphone

आजकल हम जिस रफ्तार से टेक्नोलॉजी की ओर बढ़ते जा रहे है हमारा ज्यादातर काम बोलकर कंप्यूटर में हो जाता है। आप भी अक्सर जब कंप्यूटर में सर्च करने का काम करते होंगे तो लिखने की वजह बोलना ज्यादा Prefer करते होंगे। 

माइक्रोफोन एक ऐसा ही यंत्र है जो कंप्यूटर से जुड़ता है और हमारी बातों को कंप्यूटर तक पहुंचाता है माइक्रोफोन की ही वजह से हम कंप्यूटर को बोल कर अपने निर्देश दे सकते है। इस यंत्र में हम निर्देश देते हैं ताकि कंप्यूटर आगे का कार्य कर सकें इस वजह से माइक्रोफोन को हम इनपुट डिवाइस कहते हैं। 

Output Device

आपको बता दें कि जितनी भी प्रकार की जानकारी आपको कंप्यूटर से मिलती है वह सभी जानकारी को देने वाला डिवाइस आउटपुट डिवाइस कहलाता है। आसान भाषा में वह सारे मशीन जो आपके निर्देशानुसार रिजल्ट देने का कार्य करते है तो उसे हम आउटपुट डिवाइस कहते हैं।

हम यह कह सकते है कि वह सभी यंत्र जो कंप्यूटर से जुड़े होते है और हमें हमारे निर्देश के बदले रिजल्ट देने का कार्य करते है तो उसे हम आउटपुट डिवाइस कहते हैं।

कुछ प्रमुख आउटपुट डिवाइस के नाम

1. Monitor

कंप्यूटर के स्क्रीन को हम मॉनिटर कहते है यह एक डिवाइस होता है जिसे हम किसी भी प्रकार का निर्देश नही देते मगर ये डिवाइस हमे अपने निर्देश और उसके रिजल्ट को दिखाने का कार्य करता है।

आज कल कंप्यूटर में विभिन्न प्रकार के मॉनिटर होते है और वो हमारे कंप्यूटर को और भी अच्छा बनाने का काम करते हैं हमारी जानकारी मॉनिटर की वजह से हमें अच्छी तरह से दिखती है और हमारा निर्देश किस प्रकार कंप्यूटर तक पहुंचा है यह हमें मॉनिटर से पता चलता हैं।

2. Printer

जब हम अपना किसी प्रकार का कार्य पूरा कर लेते है और हम चाहते है कि कंप्यूटर में डिजिटल तौर पर जो जानकारी हमें स्क्रीन पर दिखाई जा रही है वह हमें कागज पर लिखी हुई मिले तो उसमें प्रिंटर अहम भूमिका निभाता है। प्रिंटर वह मशीन होता है जो कम्प्यूटर के स्क्रीन पर दिखाई जा रही जानकारी को कागज में आपके समक्ष लाता हैं। 

प्रिंटर एक ऐसा यंत्र होता है जो कंप्यूटर का हिस्सा होता है और हमारी दी गई जानकारी को कागज पर लिखकर हमें देता है इसे भी हम आउटपुट डिवाइस कहते है क्योंकि यह यंत्र हमारा रिजल्ट देने का कार्य करता हैं।

3. Speaker 

स्पीकर भी एक आउटपुट डिवाइस होता है क्योंकि हमारे निर्देश के अनुसार हम एक गाना है क्या किसी भी प्रकार का आवाज सुनाता है। हम निर्देश की बुढ़िया माउस के जरिए कंप्यूटर की स्क्रीन पर देते है कि स्पीकर में कैसा गाना बजना चाहिए और उसके बाद स्पीकर से ध्वनि निकलती है स्पीकर एक ऐसा यंत्र हुआ है जो हमारे निर्देश के अनुसार रिजल्ट देने का कार्य करता है इस वजह से इसे भी हम एक आउटपुट डिवाइस मानते हैं। 

कंप्यूटर के शॉर्टकट कीस

कंप्यूटर में अपने काम को आसानी से करने के लिए बहुत सारे शॉर्टकट की होते है अर्थात ऐसे बटन होते है जिन्हें दबाकर आप अपना कार्य बड़ी आसानी से कर सकते हैं। 

हम आपको नीचे कुछ ऐसे बटन बता रहे है जिन्हें दबाकर आप कंप्यूटर में अपना कार्य जल्द ही पूरा कर सकते हैं। 

  • Ctrl + A – सभी Text को सेलेक्ट करने के लिए इस शॉर्टकट का इस्तेमाल किया जाता है
  • Ctrl + B – Text को बोल्ड करने के लिए
  • Ctrl + F – Find विंडो खोलकर किसी Text को खोजने के लिए
  • Ctrl + H – माइक्रोसॉफ्ट वर्ड में किसी Text को Find और Replace करने के लिए
  • Ctrl + I – Selected Text को Italic बनाने के लिए
  • Ctrl + J – ब्राउज़र में डाउनलोड देखने के लिए और वर्ड में Text को Align करने के लिए
  • Ctrl + K – माइक्रोसॉफ्ट वर्ड में Highlighted Text का Hyperlink बनाने के लिए
  • Ctrl + M – वर्ड प्रोसेसर में Selected वर्ड को आगे खिसकाने के लिए
  • Ctrl + N – नया पेज या Document बनाने के लिए
  • Ctrl + U – Selected Text को अंडरलाइन करने के लिए
  • Ctrl + V – copy किए गए Text को पेस्ट करने के लिए
  • Ctrl + W – Selected Text को कट करने के लिए
  • Ctrl + X – Selected Text को कट करने के लिए
  • Ctrl + Y – किसी भी कार्य को Redo और Undo करने के लिए
  • Ctrl + Z – किसी भी कार्य को Undo करने के लिए
  • Ctrl + End – कर्सर को डॉक्यूमेंट के End में ले जाने के लिए
  • Ctrl + PgDn – अगला Tab खोलने के लिए
  • Ctrl + Esc – कंप्यूटर के स्टार्ट मेनू को खोलने के लिए
  • Ctrl + Delete – अगले वर्ड को डिलीट करने के लिए
  • Ctrl + Shift + Esc – टास्क मैनेजर खोलने के लिए

कंप्यूटर चलने के बारे में पूछे जाने वाले प्रश्न

यहाँ पर मैंने ऐसे पांच सवालों के जवाब दिए है जो की अक्सर लोग कंप्यूटर चलने के बारे में पूछते रहते हैं।

Q. कंप्यूटर की खोज किसने की?

कंप्यूटर किसी एक व्यक्ति के द्वारा खोजा नहीं की मगर आज के कंप्यूटर का चित्र और इसे बनाने के लिए जरूरी यंत्रों का खोज चार्ल्स बबेज ने किया था जिस वजह से कंप्यूटर को बनाने का श्रेय हम चार्ल्स बबेज को देते हैं।

Q. कंप्यूटर का पिता कौन हैं?

कंप्यूटर में सभी जरूरी खोज करने की वजह से हम कंप्यूटर के पिता का श्रेय चार्ल्स बबेज को देते हैं।

Q. कंप्यूटर में इनपुट डिवाइस किसे कहते हैं?

कंप्यूटर के बहुत सारे यंत्र जिनकी मदद से हम कंप्यूटर को निर्देश देने का कार्य करते हैं उसे हम कंप्यूटर का इनपुट डिवाइस कहते हैं।

Q. कंप्यूटर में आउटपुट डिवाइस किसे कहते हैं?

कंप्यूटर के वह सभी यंत्र जिनसे हमें हमारे निर्देश के बाद रिजल्ट मिलता है उसे हम आउटपुट डिवाइस कहते हैं।

Q. कंप्यूटर का सबसे अहम पार्ट कौन सा होता हैं?

कंप्यूटर में बहुत सारे यन्त्र जुड़े होते है और कंप्यूटर के विभिन्न कार्य में मदद करते है मगर कंप्यूटर के सीपीयू को हम कंप्यूटर का दिमाग कहते है जो कंप्यूटर के निर्देश को इकट्ठा करना और उन निर्देशों पर कार्य करता है। तू कंप्यूटर का दिमाग यानी CPU सबसे अहम होता हैं।

निष्कर्ष

अगर आपको Computer Kaise Chalate Hai लेख हेल्पफुल रहा है तो फिर आप यह लेख अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करना। इसके अलावा अगर आपको इस लेख से सम्बंधित कोई भी जानकारी चाहिए तो उसके लिए आप निचे कमेंट बॉक्स का इस्तेमाल कर सकते हैं। 

Abhishek Maurya

मेरा नाम अभिषेक मौर्य है और मैं उत्तर प्रदेश वाराणसी डिस्ट्रिक्ट का रहने वाला हूं और मैं एक दिव्यांग हूं। मुझे अलग-अलग विषयों पर आर्टिकल लिखना बहुत अच्छा लगता है और इसी को मैंने अपना जुनून बनाया है। मैं पिछले 3 वर्षों से आर्टिकल लेखन का कार्य कर रहा हूं। आपको हमारे द्वारा लिखे गए लेख कैसे लगते हैं? आप हमें कमेंट बॉक्स में अवश्य बताएं। मेरा भी एक हिंदी ब्लॉग है जिस पर मैं रिलेशनशिप के ऊपर आर्टिकल लिखता हूं जिसका यूआरएल इस प्रकार से है। माय वेबसाइट यूआरएल - https://hindibaatchit.com/

Leave a Reply